विधेयक रद कराने की मांग को लेकर किया प्रदर्शन

विधेयक रद कराने की मांग को लेकर किया प्रदर्शन

संयुक्त किसान मोर्चा ट्रेड यूनियन व जन संगठनों के बैनर तले सोमवार को जिला सचिवालय पर प्रदर्शन किया। धरने की अध्यक्षता कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा से गुरभजन सिंह मुझेल जरनैल सिंह सांगवान कृष्णपाल सुढैल एसकेएस से राजपाल सांगवान सीटू से मतलूब हुसैन ने कहा के 18 मार्च को हरियाणा विधानसभा में बहुमत के बल पर संपत्ति क्षति वसूली विधेयक 2021 बनाया गया।

JagranWed, 21 Apr 2021 06:13 AM (IST)

जागरण संवाददाता, यमुनानगर : संयुक्त किसान मोर्चा, ट्रेड यूनियन व जन संगठनों के बैनर तले सोमवार को जिला सचिवालय पर प्रदर्शन किया। धरने की अध्यक्षता कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा से गुरभजन सिंह मुझेल, जरनैल सिंह सांगवान, कृष्णपाल सुढैल, एसकेएस से राजपाल सांगवान, सीटू से मतलूब हुसैन ने कहा के 18 मार्च को हरियाणा विधानसभा में बहुमत के बल पर संपत्ति क्षति वसूली विधेयक 2021 बनाया गया। जिसमें आंदोलन में होने वाली किसी भी तरह की संपत्ति की क्षति की वसूली आंदोलनकारियों से करने का प्रावधान किया गया है। पुलिस के कहने से जिला उपायुक्त सरकार द्वारा बनाए गए एक ट्रिब्यूनल से आदेश करवा कर आंदोलन की योजना बनाने वालों, उस में हिस्सा लेने वालों व हमदर्दी रखने वालों से क्षति की वसूली की जा सकती है। शांतिपूर्ण तरीके से अपने हकों की लड़ाई लड़ने वाले जनता के सभी तबकों का दमन आसान बना दिया है। हाईकोर्ट से नीचे आप इसे किसी अदालत में चुनौती नहीं दे सकते। इसके लिए क्षति की कुल राशि का 20 फीसद हिस्सा पहले जमा करवा दिया हो । अंग्रेजों के राज में भी ऐसे कानून बनते थे। गाना गाने, फेसबुक पर लिखने, भाषण देने, काले झंडे दिखाने जैसी विरोध की आम कार्रवाई पर भी मुकदमे दर्ज किए जा रहे हैं। इनमें पत्रकारों को भी नहीं बख्शा गया है। कृषि क्षेत्र को कारपोरेट के हवाले करने के उद्देश्य से केंद्र की भाजपा सरकार ने तीन कृषि कानून बनाए हैं। मौके पर सतपाल कौशिक, विजय पाल, महिपाल चमरोड़ी, रामकुमार कांबोज, दीपक तेजली, गुलशन भारद्वाज, मांगेराम तिगरा, जापान सिंह, एडवोकेट साहबसिंह गुर्जर, सोमनाथ, नायाब सिंह, यशपाल, अजमेर सिंह संधू,मानसिंह मंडेबर, मोहनलाल थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.