अधिकारियों-कर्मचारियों में वर्क कल्चर की कमी : कृषि मंत्री

अधिकारियों-कर्मचारियों में वर्क कल्चर की कमी : कृषि मंत्री

कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जयप्रकाश दलाल रविवार को लघु सचिवालय में बरोदा हलके के विकास कार्यों को लेकर आयोजित समीक्षात्मक बैठक में अधिकारियों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों का केवल एक ही जनसेवा का लक्ष्य है।

Publish Date:Sun, 09 Aug 2020 07:52 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, सोनीपत : कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जयप्रकाश दलाल रविवार को लघु सचिवालय में बरोदा हलके के विकास कार्यों को लेकर आयोजित समीक्षात्मक बैठक में अधिकारियों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों का केवल एक ही जनसेवा का लक्ष्य है। हमारे यहां वर्क कल्चर की कमी है। हर अधिकारी-कर्मचारी अगर अपनी जिम्मेदारी को गंभीरता से समझे तो कोई शिकायत ही नहीं रहेगी। बैठक के दौरान मंत्री ने विभिन्न विभागों की समीक्षा की।

मुख्यमंत्री घोषणाओं के तहत सिचाई विभाग के तीन विकास कार्य छपरा बनवासा माइनर व जवाहरा माइनर की री-मॉडलिग तथा भैंसवाल कलां में सीवरेज सिस्टम की सुविधा की स्टेटस रिपोर्ट ली व कार्यों को समय पर पूरा करने के निर्देश दिए। बरोदा विधानसभा क्षेत्र में बिजली सुविधा पर भी कृषि मंत्री ने विस्तार से चर्चा की। बिजली निगम के एसई ने बताया कि बरोदा के 15 गांवों में 24 घंटे बिजली आपूर्ति दी जा रही है। कृषि मंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि निर्धारित शेड्यूल के अनुसार हर गांव में बिजली आपूर्ति दी जाए।

गलियों में खंभे व तारों की व्यवस्था को भी सुदृढ़ किया जाए। उन्होंने मत्स्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे गांवों में कैंप लगाकर लोगों को मत्स्य पालन के लिए प्रोत्साहित करें। इसके अलावा उन्होंने राशन वितरण, स्कूली इमारतों के निर्माण तथा रोडवेज बसों की सुविधा में विस्तार के भी निर्देश दिए। बैठक के बाद उन्होंने बरोदा हलके गांवों का दौरा भी किया। बैठक में सांसद रमेश कौशिक, राज्यसभा सांसद रामचंद्र जांगड़ा, विधायक निर्मल चौधरी, मुख्यमंत्री के पूर्व मीडिया सलाहकार राजीव जैन, जिला परिषद की चेयरपर्सन मीना नरवाल, भाजपा के जिलाध्यक्ष डा. धर्मबीर नांदल, योगेश्वर दत्त, तीर्थ राणा, उपायुक्त श्याम लाल पूनिया, पुलिस अधीक्षक जशनदीप सिंह रंधावा, अतिरिक्त उपायुक्त मुनीश शर्मा, एसडीएम विजय सिंह, नगराधीश उदय सिंह, एसडीएम सुरेंद्रपाल आदि मौजूद रहे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.