संक्रमण रोकने में नाकाफी रहा लॉकडाउन, लोग नहीं कर रहे नियमों की पालना

सिरसा जिले में लॉकडाउन लगे नौ दिन हो चुके हैं। संक्रमण रोकने के लिए

JagranMon, 10 May 2021 07:53 AM (IST)
संक्रमण रोकने में नाकाफी रहा लॉकडाउन, लोग नहीं कर रहे नियमों की पालना

जागरण संवाददाता, सिरसा : जिले में लॉकडाउन लगे नौ दिन हो चुके हैं। संक्रमण रोकने के लिए सरकार ने बीते शुक्रवार यानि 30 अप्रैल को प्रदेश के पांच जिलों में वीक एंड लॉकडाउन लगाया था, जिसमें सिरसा भी शामिल था। उसके बाद तीन मई से लॉकडाउन का ऐलान कर दिया। लॉकडाउन के दौरान बेशक व्यापारिक गतिविधियां बंद है। बाजार, दुकानें बंद है। इसके बावजूद संक्रमण के मामले घट नहीं रहे है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों पर निगाह डालें तो लॉकडाउन लगने से पहले सप्ताह भर में संक्रमण के 3318 मामले सामने आए थे और संक्रमण से 30 मौत हुई थी। वहीं तीन से नौ मई तक लॉकडाउन की अवधि के दौरान जिले में 4294 मामले सामने आए हैं और मौत का आंकड़ा 49 तक पहुंच गया है। लॉकडाउन से एक सप्ताह पहले जिले में एक्टिव मरीज 3424 थे तथा होम आइसोलेट 2313। रिकवरी रेट 76.55 फीसद था। वहीं लॉकडाउन का एक सप्ताह पूरा होने के बाद जिले में एक्टिव मरीज बढ़कर 5092 तक पहुंच गए हैं। होम आइसोलेट 3855 है। रिकवरी रेट घटकर 72.93 फीसद तक आ गया है।

------

लोग नहीं कर रहे नियमों की पालना

बेशक कोरोना महामारी के सेकिड फेज में संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। जिले में संक्रमण से 225 मौत भी हो चुकी है। परंतु लोग संक्रमण की परवाह नहीं कर रहे हैं। बाजार बंद होने के बावजूद लोग मौका मिलते ही भीड़ जमा कर लेते हैं। कोरोना सेंपलिग, वैक्सीनेशन लगवाने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ी रहती है। सरकारी के अलावा निजी अस्पतालों व एक्सरे, सीटी स्केन इत्यादि की जांच के लिए अल्ट्रासाउंड केंद्रों पर भीड़ लगी रहती है। ऑक्सीजन सिलेंडर लेने के लिए भी भीड़ देखी जा सकती है। अब तो राशन डिपो के आगे भी भीड़ दिखाई देने लगी है। बसों में भी नियमों की पालना नहीं हो रही है।

--------

बीते वर्ष लॉकडाउन के दौरान दिखी थी अधिक सजगता

बीते वर्ष जब जिले में लॉकडाउन लगा था तो उस समय मामले बेहद कम थे। लॉकडाउन के दौरान प्रशासन की सख्ती अधिक थी वहीं लोगों में भी भय था। दुकानों के आगे गोल दायरों में सीमित दूरी में खड़े होकर लोग सामान लेते थे। मेडिकल स्टोर, बैंक यहां तक की शराब ठेकों के आगे शारीरिक दूरी मेंटेन रखने के लिए गोल दायरे लगे नजर आए थे परंतु इस बार स्थिति भिन्न है। अब न दुकानदार को परवाह है और न ही खरीदार को।

--------

रविवार को जिले में मिले 701 पॉजिटिव, नौ मौत

रविवर को जिले में संक्रमण के 701 नए केस मिले है जबकि संक्रमण से नौ मौत भी हुई है। 402 मरीज अस्पतालों में भर्ती है, इनमें से नागरिक अस्पताल में 99 जबकि निजी अस्पतालों में 303 मरीज है। 16 मरीजों की हालात गंभीर बनी हुई है। रविवार को 429 मरीज कोरोना को मात देकर स्वस्थ हुए है। जिले में अब तक 14,330 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। संक्रमण के कारण नौ लोगों की मौत हुई है, जिनमें कालांवाली के 40 वर्षीय व्यक्ति, ऐलनाबाद में 58 वर्षीय व्यक्ति व 88 वर्षीय महिला शामिल है। दारेवाला में 78 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई है। सिरसा में 56 वर्षीय, आदमपुर निवासी 75 वर्षीय महिला की मौत हुई है। इसके अलावा कालांवाली में 38 वर्षीय महिला, गांव सुचान में 86 वर्षीय महिला तथा डबवाली में 80 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई है। संक्रमण के सबसे अधिक केस सिरसा शहर में 279 आए हैं। ऐलनाबाद में 72, चौटाला में 70, नाथूसरी चौपटा में 66 केस मिले हैं।

-------

संक्रमण रोकने के लिए सभी को समझनी होगी जिम्मेवारी

अगर सरकार लॉकडाउन में छूट देती है तो संक्रमण को रोकने के लिए सभी को अपनी जिम्मेवारी तय करनी होगी। अकेले प्रशासन के कंधों पर नियमों की पालना करवाना तर्कसंगत नहीं है। आमजन को मास्क पहनने, शारीरिक दूरी का ख्याल रखने के नियम अपनाने होंगे। दुकानदारों को भी अपना व्यापार बचाने के लिए ग्राहकों के बीच निर्धारित दूरी रखने के लिए प्रबंध करने होंगे। दुकानों पर भीड़ न हो, इसके लिए स्वयं जागरूक होना होगा। सैनिटाइजेशन व मास्क लगाने के नियमों की पालना से ही हम कोरोना को हरा पाएंगे।

----------

26 अप्रैल से 2 मई तक यूं बढ़ा संक्रमण

तिथि केस मृत्यु

26-04 165 04

27-04 721 06

28-04 330 05

29-04 592 03

30-04 508 03

01-05 445 05

02-05 557 04

कुल 3318 30 होम आइसोलेट मरीज - 2313

एक्टिव मरीज - 3424

रिकवरी दर - 76.55

---------- 3 मई से 9 मई तक यूं बढ़ा संक्रमण

तिथि केस मृत्यु

03-05 361 07

04-05 858 11

05-05 569 06

06-05 572 07

07-05 459 04

08-05 774 05

09-05 701 09

कुल 4294 49 होम आइसोलेट मरीज - 3855

एक्टिव मरीज - 5092

रिकवरी दर - 72.93

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.