खेल के माध्यम से बच्चों को करवाए पढ़ाई : एसडीएम

महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्री स्कूल व प्ले स्कूल का प्रशिक्षण क

JagranFri, 17 Sep 2021 10:12 PM (IST)
खेल के माध्यम से बच्चों को करवाए पढ़ाई : एसडीएम

जागरण संवाददाता, सिरसा : महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्री स्कूल व प्ले स्कूल का प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम में एसडीएम जयवीर यादव ने बतौर मुख्यअतिथि शिरकत की और आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी कुनाल चौहान भी मौजूद थे। एसडीएम जयवीर यादव ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों में प्ले स्कूल के अंदर वर्कर खेल-खेल के माध्यम से पढ़ाई करवाने का कार्य करें। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों में बच्चों के शारीरिक, भाषात्मक, रचनात्मक, सामाजिक व बौद्धिक विकास के लिए की जाने वाली क्रियाओं की जानकारी तथा प्रशिक्षण, बाल मनोविज्ञान, बाल्य अवस्था में शिक्षा व देखरेख के बारे प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

---

प्रशिक्षण में दी जा रही जानकारी

उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाता है जिनमें प्रार्थना सभा, राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत जानकारी देना, बाल मनोविज्ञान, बच्चों का सर्वांगीण विकास, आदर्श आंगनबाड़ी, बौद्धिक विकास की गतिविधियां, सूक्ष्म मांसपेशियां व बड़ी मांसपेशियों आदि के बारे में जानकारी दी जा रही है। साथ ही उन्हें भाषा विकास, सामाजिक विकास, रचनात्मक विकास, मानिटरिग प्रोफार्मा, असेसमेंट प्रोफार्मा आदि के बारे में भी प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

---

अलग-अलग चरण में दिया जा रहा है प्रशिक्षण

जिला परियोजना अधिकारी डा. दर्शना सिंह ने कहा कि प्री स्कूल व प्ले स्कूल का प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत प्रथम चरण में सिरसा शहरी, माधोसिघाना व नाथूसरी चौपटा खंडों में आंगनबाड़ी वर्कर को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। दूसरे चरण में ऐलनाबाद, रानियां व ओढ़ां खंड में आंगनबाड़ी वर्कर को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके अलावा चार मास्टर ट्रेनर डबवाली कविता रानी, डीआईईटी डिग से सहायक प्रो. चंद्रप्रकाश व सुपरवाइजर लता देवी मौजूद रहे।

------------

जिले में 198 प्ले स्कूल

निजी प्ले स्कूलों की तर्ज पर अब आंगनबाड़ी केंद्र के बच्चों को पढ़ाई करवाई जाएगी। स्कूलों में अपग्रेड आंगनबाड़ी केंद्रों में प्ले स्कूल की तर्ज पर खेल व पढ़ाई की आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएंगी, ताकि बच्चे खेल-खेल में पढ़ाई भी कर सकें। महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा जिले के 198 आंगनबाड़ी केंद्रों को प्ले स्कूल में बदला जा रहा है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.