ग्रे वाटर स्कीम के तहत तालाबों का होगा जीर्णोद्वार : उपायुक्त

ग्रे वाटर स्कीम के तहत तालाबों का होगा जीर्णोद्वार : उपायुक्त

जागरण संवाददाता रोहतक उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने कहा है कि ग्रे वाटर मैनेजमेंट स्कीम के तहत दूसरे चरण में जिला के 82 तालाबों का जीर्णोद्धार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर उन तालाबों पर कार्य आरंभ होगा जो प्रदूषित है और ओवरफ्लो हो चुके हैं। उपायुक्त ने बताया कि ऐसे 82 तालाबों का एस्टीमेट तैयार करके स्वीकृति हेतु राज्य सरकार को भेजा गया है।

JagranSun, 18 Apr 2021 08:57 AM (IST)

जागरण संवाददाता, रोहतक : उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने कहा है कि ग्रे वाटर मैनेजमेंट स्कीम के तहत दूसरे चरण में जिला के 82 तालाबों का जीर्णोद्धार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर उन तालाबों पर कार्य आरंभ होगा जो प्रदूषित है और ओवरफ्लो हो चुके हैं। उपायुक्त ने बताया कि ऐसे 82 तालाबों का एस्टीमेट तैयार करके स्वीकृति हेतु राज्य सरकार को भेजा गया है।

कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि पोंड अथॉरिटी की वेबसाइट पर रोहतक जिला के 574 तालाबों का डाटा फीड किया जा चुका है, इनमें से पांच मॉडल तालाबों पर कार्य चल रहा है। उन्होंने बताया कि गांव चमारिया में डांड वाले तालाब के सुधारीकरण की प्रक्रिया आरंभ हो चुकी है। इसके लिए टेंडर जारी किया जा चुका है। इस तालाब पर 165.66 लाख रुपए की अनुमानित लागत आएगी। इसी प्रकार से गांव भाली आनंदपुर के गुही तालाब के सुधारीकरण पर 38.06 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। इस तालाब से पानी निकालने का कार्य पूरा हो चुका है। खुदाई का कार्य लगातार जारी है। गांव भाली आनंदपुर के ही बड़ा तालाब पर भी सिचाई विभाग द्वारा पानी निकालने का कार्य प्रगति पर है। इस पर 98.50 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी।

कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि 48.67 लाख रुपये की अनुमानित लागत से निदाना टिगरी के सैन्सर तालाब का सुधारीकरण भी किया जा रहा है। इस तालाब का पानी निकालने का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने बताया कि गांव बनियानी के दूधिया वाला तालाब से भी पानी निकालने का कार्य प्रगति पर है। इस तालाब के सुधारीकरण पर 57.40 लाख रुपये के अनुमानित लागत आएगी।

उन्होंने बताया कि इन 5 तालाबों के अलावा 10 अन्य तालाब भी चिन्हित कर लिए गए हैं, जिन पर कार्य किया जाना है। उन्होंने बताया कि गांव बनियानी में बुढ़ा तालाब पर सुधारीकरण करने के लिए 246.80 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। इसी प्रकार की टिटौली के मलसकर तालाब के सुधारीकरण पर 143.10 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। गांव बहल्बा के मलसर तालाब के सुधारीकरण पर 29.10 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। गांव भराण के बनिया वाला तालाब के सुधारीकरण पर 120 लाख रुपए खर्च किए जाने का अनुमान है।

मदीना कोरसान के जाखली तालाब के सुधारीकरण पर 130 लाख रुपये का खर्च होने का अनुमान है। मोखरा खास के मांडलीवाला तालाब का सुधारीकरण किया जाना प्रस्तावित है। इस पर 9.10 लाख की अनुमानित लागत आएगी। इसी प्रकार निदाना खास के कलसर तालाब का भी सुधारीकरण किया जाएगा, जिस पर 95 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। निदाना खास के दादा बदला के सुधारीकरण पर 120 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। उन्होंने बताया कि गांव बहुअकबरपुर के बोरस तालाब के सुधारीकरण पर 50 लाख की अनुमानित लागत आने की संभावना है। इसी प्रकार गांव खरावड़ के चमन ऋषि के नजदीक वाले तालाब का सुधारीकरण भी किया जाएगा, जिस पर 50 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी।

कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि उपरोक्त सभी दस तालाबों का एस्टीमेट व ड्राइंग बनाने का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि इन तालाबों का सुधारीकरण करके घरों से निकलने वाले गंदे पानी (शौचालय के अपशिष्ट जल को छोड़कर) को कंस्ट्रक्टेड वेटलैंड टेक्नोलॉजी द्वारा उपचारित करने के बाद तालाबों में डाला जाएगा ताकि पानी का उपयोग सिचाई आदि के लिए किया जा सके।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.