रोहतक में सनसिटी को दुरूस्त करानी होंगी सड़कें, सुरक्षा के भी करने होंगे पुख्ता इंतजाम

रोहतक में सनसिटी को दुरूस्त करानी होंगी सड़कें, सुरक्षा के भी करने होंगे पुख्ता इंतजाम

ओमैक्स सिटी के बाद अब सनसिटी पर प्रशासन ने शिकंजा कस दिया है। सनसिटी के कर्मचारियों पर दु‌र्व्यहार के आरोपों को भी गंभीरता से लिया गया है।

Publish Date:Wed, 05 Aug 2020 09:49 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, रोहतक : ओमैक्स सिटी के बाद अब सनसिटी पर प्रशासन ने शिकंजा कस दिया है। सनसिटी के कर्मचारियों पर दु‌र्व्यहार के आरोपों को भी गंभीरता से लिया गया है। सख्त हिदायत दी है कि स्टाफ का व्यवहार दुरूस्त होना चाहिए। उपायुक्त आरएस वर्मा ने सन सिटी बिल्डर को निर्देश दिए हैं कि वे सेक्टर 34 व 35 सन सिटी में सड़कों की मरम्मत एवं सीसीटीवी लगाने के कार्य को आगामी 15 अक्तूबर तक पूरा करें। सन सिटी में सुरक्षा की ²ष्टि से सीसीटीवी कैमरों की संख्या का निर्धारण गठित सात सदस्यीय समिति द्वारा किया जाएगा। एग्रीमेंट के अनुसार सन सिटी निवासियों को सभी आवश्यक सुविधाएं उपलबध करवाई जाएं।

लघु सचिवालय में उपायुक्त स्थानीय लघु सचिवालय स्थित वीडियो कॉन्फ्रेंस हॉल में एलॉटी शिकायत निवारण फोरम की बैठक की अध्यक्षता करते हुए सनसिटी बिल्डर्स को सख्त हिदायतें दी हैं। उपायुक्त ने कहा कि बिल्डर्स द्वारा आगामी 25 अगस्त से सड़कों की मरम्मत का कार्य शुरू किया जाए। जिसे आगामी 15 अक्तूबर तक पूर्ण किया जाए ताकि यहां के निवासियों को आवाजाही में असुविधा न हो। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी नरेंद्र धनखड़, संबंधित सेक्टरों के निवासी एवं नगर निगम, नगर योजनाकार, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण व अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

एसटीपी के दूषित पानी को किया जाए ट्रीट

सनसिटी में स्थापित किए गए एसटीपी को सभी मापदंडों को पूरा करते हुए चालू करवाया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि बदबूदार पानी को खाली प्लॉट आदि में न डाला जाए। एसटीपी के दूषित पनी को ट्रीट किया जाए। एसटीपी एवं रेन वाटर को ड्रेन नंबर-8 में डालने हेतु भी सर्वे किया जाए। वहीं, महंगे पेयजल आपूर्ति को लेकर सेक्टर वालों ने नाराजगी जताई। सेक्टर-34 के उप प्रधान रमेश अहलावत ने दावा किया कि हम तो 30 रुपये प्रति लीटर तक पानी पीने के लिए मजबूर हैं। वर्जन

पहले डेढ़ रुपये प्रति गज प्रति माह मेंटीनेंस चार्ज था, जोकि अब ढाई रुपये तक हो चुका है। जांच में दो सदस्य रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन होंगे। डीसी ने माना है कि पांच-दस फीसद ही मेंटीनेंस चार्ज में बढ़ोत्तरी करें। सीवरेज का दूषित पानी पार्क या फिर खुले में नहीं डालेंगे। टूटी सड़के हैं। पानी का बिल सेक्टर वालों को 30 रुपये लीटर तक मिलता है। डीसी ने यह भी कहा है कि व्यवहार ठीक हो।

रमेश अहलावत, उप प्रधान, सेक्टर-34 सनसिटी

--

नई रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशन का यहां गठन हो चुका है। वह हमारे कार्यों से संतुष्ट है। कुछ लोग अव्यवस्थाओं के बहाने मेंटीनेंस चार्ज नहीं देना चाहते। पानी के रेट सही हैं। मेंटीनेंस चार्ज दो साल पहले बढ़ाए गए थे। टूटी सड़कों को दुरूस्त कराने के लिए टेंडर हो चुके हैं। बरसाती सीजन खत्म होते ही सड़कें दुरूस्त करा देंगे।

मनोज कुमार, एजीएम, सनसिटी

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.