पंडित भगवतदयाल शर्मा सत्यवादी, ²ढ़ निश्चयी व प्रेरणादायी व्यक्तित्व थे : इंद्रेश

पंडित भगवतदयाल शर्मा सत्यवादी, ²ढ़ निश्चयी व प्रेरणादायी व्यक्तित्व थे : इंद्रेश

जागरण संवाददाता रोहतक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के स

JagranThu, 25 Feb 2021 05:32 AM (IST)

जागरण संवाददाता, रोहतक : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य तथा प्रतिष्ठित विचारक इंद्रेश कुमार ने कहा कि हरियाणा के प्रथम मुख्यमंत्री पंडित भगवत दयाल शर्मा सत्यवादी, ²ढ़ निश्चयी तथा प्रेरणादायी व्यक्तित्व थे। वे सत्य को बोलने तथा समझने का साहस रखते थे। आज युवा पीढ़ी को पंडित भगवत दयाल के जीवन से प्रेरणा लेते हुए समाज एवं राष्ट्र निर्माण में अपना योगदान देना चाहिए। उन्होंने भारत को जीवन मूल्यों को जीने वाले देश बताते हुए कहा कि पंडित भगवत दयाल शर्मा ने भारतीय जीवन मूल्यों एवं संस्कृति को जीते हुए इसे आगे बढ़ाने का प्रयास किया। उन्होंने पं भगवत दयाल शर्मा के जीवन से जुड़े प्रेरणादायी संस्मरणों को सांझा किया। वे बुधवार को हरियाणा के प्रथम मुख्यमंत्री स्व. पं भगवत दयाल शर्मा की पुण्यतिथि पर महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय (मदवि) के राधाकृष्णन सभागार में आयोजित स्मृति व्याख्यान व पुस्तक विमोचन समारोह में बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। इससे पहले उन्होंने भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई तथा उनके द्वारा प्रदेश के विकास में दिए गए योगदान को सराहा गया। इंद्रेश कुमार ने समारोह में पं भगवत दयाल शर्मा के जीवन पर प्रकाश डालती हुई पुस्तक का विमोचन किया। इस पुस्तक को पं भगवत दयाल शर्मा की सुपुत्री तथा मदवि की सेवानिवृत प्रोफेसर एवं पूर्व संगीत विभागाध्यक्ष प्रो. भारती शर्मा द्वारा लिखा गया है तथा पं भगवत दयाल शर्मा मेमोरियल ट्रस्ट द्वारा प्रकाशित किया गया है। पंडित भगवतदयाल शर्मा सिद्धांतवादी थे : प्रो. रामबिलास

समरोह में विशिष्ट अतिथि पूर्व शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा ने कहा कि पंडित भगवत दयाल शर्मा सिद्धांतवादी थे और उनका जीवन प्रेरणादायी है। पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर ने कहा कि पं भगवत दयाल शर्मा समाज के अंतिम पंक्ति के व्यक्ति की भलाई की सोच रखते थे। सबका साथ-सबका विकास की सोच के साथ उन्होंने प्रदेश के विकास के लिए कार्य किया। पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य एवं विज्ञान विवि के कुलपति प्रो. ओपी कालरा ने भी इस अवसर पर अपने विचार रखे। एमडीयू में स्थापित की जाएगी पंडितजी की शोध पीठ : कुलपति

मदवि कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने समारोह की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि पं भगवत दयाल शर्मा सत्य व साहस के पुरोधा थे। पं भगवत दयाल शर्मा को प्रेरणास्त्रोत बताते हुए कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने मेमोरियल ट्रस्ट, बेरी द्वारा संगीत विभाग में हर वर्ष टॉपर विद्यार्थी को छात्रवृति देने तथा मदवि में ट्रस्ट की सहायता से पंडित भगवत दयाल शर्मा शोध पीठ की स्थापना करने की घोषणा की। डा. जगबीर राठी ने किया मंच संचालन

अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रो. राजकुमार ने स्वागत भाषण दिया तथा समारोह की रूपरेखा पर प्रकाश डाला। निदेशक युवा कल्याण डा. जगबीर राठी ने कार्यक्रम का संचालन किया। पं भगवत दयाल शर्मा की सुपुत्री तथा मदवि के संगीत विभाग की पूर्व अध्यक्षा प्रो. भारती शर्मा ने आभार प्रदर्शन किया। इस अवसर पर मदवि की प्रथम महिला डा. शरणजीत कौर, डीन, एकेडमिक एफेयर्स प्रो. एके राजन, मदवि कुलसचिव प्रो. गुलशन लाल तनेजा, पं बीडी शर्मा स्वास्थ्य एवं विज्ञान विवि के कुलसचिव प्रो. एच.के. अग्रवाल, सुपवा कुलसचिव डा. किरण कंबोज, भाजपा जिलाध्यक्ष अजय बंसल समेत समाज के प्रबुद्धजन, शिक्षकगण एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.