राहगीरी में शहरवासियों ने की जमकर मस्ती

जागरण संवाददाता, रोहतक : गुरु गो¨वद दोऊ खड़े, काके लागूं पांय। बलिहारी गुरु अपने गो¨वद दियो बताय.. डा. संजय जाखड़ और प्रतिभा शर्मा ने मंच से पंक्ति का व्याख्यान करते हुए राहगीरी कार्यक्रम की शुरूआत की। रविवार को सोनीपत रोड स्थित रंगशाला में राहगीरी कार्यक्रम के दौरान शहर के लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। मंच पर प्रतिभागियों ने कविता, गायन, डांस, घुमर डांस, एरोबिक्स, जंप रोप के द्वारा अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित किया। सात साल के योगेश वत्स ने मेरा चांद लुका हांडै यारों घुंघट की ओट में गाने के माध्यम सभी को नाचने गाने पर मजबूर कर दिया। वहीं राहगीरी में एएसआइ दलबीर ¨सह ने हरियाणवी चुटकलों से शहरवासियों को खूब हंसाकर उनका मनोरजंन किया। उन्होंने बताया कि लोगों की रोजमर्रा की ¨जदगी से मानसिक तनाव को खत्म करने के उद्देश्य से राहगीरी कार्यक्रम को शुरु किया गया है। जिसमें आकर सप्ताह भर की थकान उतर जाती है। पुलिस अस्पताल की तरफ से डा. हरेंद्र के नेतृत्व में फ्री हेल्थ चेकअप कैंप लगाया गया। कैंप में लोगों ने फ्री बीपी, शुगर चैक कराया।

शिक्षक सम्मान की थीम पर रही राहगीरी

इस बार की राहगीरी को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया गया। इस मौके पर बॉ¨क्सग में व‌र्ल्ड सिल्वर मेडल विजेता अनामिका हुड्डा और कोच नवीन खोखर को सम्मानित किया गया। इसके साथ ही शिक्षकों को प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित भी किया गया। राहगीरी में कोर कमेटी के सदस्य कर्नल एसएस मान, सुभाष गुप्ता, डा संजय जाखड़ ने डा. अरुणा तनेजा, सुरेखा अहलावत, विजय बल्हारा, सुनीता कादयान, रीना हरजाई, राहुल व नजम बैंड नितिन को ट्रॉफी देकर सम्मानित किया गया।

खानदानी गवाहा नाटक के द्वारा दिया संदेश

राहगीरी में वैश्य लॉ कॉलेज के छात्रों ने खानदानी गवाह नाटक प्रस्तुत किया। नाटक के द्वारा दिखाया गया कि किस प्रकार मां बाप अपने बच्चे को पाल-पोष कर बड़ा करते हैं और जब वो बच्चे बड़े हो जाते हैं, तो उनकी जमीन को अपने नाम कराने के लिए उन्हें जीते जी मार देने के लिए झूठी गवाही देने के लिए पैसे देकर लोगों को खरीद लेते हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.