शहर को हरा-भरा बनाने के लिए अहम सुझाव, फैक्टरियों में हो पानी के खर्चे का आडिट

जागरण संवाददाता रोहतक नगर निगम ने शहर को हरा-भरा बनाने के लिए वीरवार को मंथन हु

JagranFri, 23 Jul 2021 07:42 AM (IST)
शहर को हरा-भरा बनाने के लिए अहम सुझाव, फैक्टरियों में हो पानी के खर्चे का आडिट

जागरण संवाददाता, रोहतक : नगर निगम ने शहर को हरा-भरा बनाने के लिए वीरवार को मंथन हुआ। विकास भवन के सभागार में आयोजित हुई बैठक में सामाजिक संगठनों, व्यापारियों और पार्षदों ने शहरी क्षेत्र में एक लाख पौधे लगाने का संकल्प लिया। यह भी सहयोग देने का वादा किया है कि पौधे लगाने के साथ उनका रखरखाव भी किया जाएगा। हालांकि संगठनों के पदाधिकारियों ने कहा कि जहां पौधे लगाए जाएं वहां पानी की आपूर्ति के भी बेहतर इंतजाम हों। जिससे पौधों का रखरखाव सही तरीके से हो सके। उद्योगपति एवं समाजसेवी राजेश जैन ने बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि भविष्य में पानी की किल्लत हो सकती है। इसलिए बूंद-बूंद पानी सहेजने के लिए सभी को सहयोग करना चाहिए। ग्लोबल वार्मिंग को लेकर विभिन्न चेतावनियों का जिक्र करते हुए कहा कि पौधे ही हमें भविष्य में जीवन प्रदान कर सकते हैं। इसलिए हर खाली जगह पर पौधे लगाए जाएं। उन्हें अपनेपन से सहेजा जाए। वार्ड-11 के पार्षद कदम सिंह अहलावत व वार्ड-1 के पार्षद कृष्ण सेहरावत ने पौधे लगवाने के साथ ही उन्हें सहेजने की बात कही। निगम के मेयर मनमोहन गोयल ने सभी संगठनों से नगर निगम के अभियान के लिए सहयोग मांगा। कार्यक्रम का संचालन वार्ड-14 के पार्षद राधेश्याम ढल ने किया। कार्यक्रम के समापन पर निगम के आयुक्त प्रदीप गोदारा ने सभी अतिथियों का आभार जताया। इस दौरान महामंडलेश्वर कपिलपुरी महाराज, जनसेवा संस्थान के प्रमुख डा. परमानंद, स्कालर्स रोजरी स्कूल के डायरेक्टर रवि गुगनानी, कर्णपुरी महाराज, सीनियर डिप्टी मेयर राजू सहगल, सुभाष गुप्ता, शन्नी निझावन, मीडिया प्रभारी राजीव जैन, हेमंत सहगल, पार्षद सुरेश किराड़, पार्षद तिलकराज चौहान, पार्षद सोनू, पार्षद प्रतिनिधि दीपक नागपाल आदि मौजूद रहे। राजेश जैन ने कहा, बूंद-बूंद पानी सहेजने हो आडिट

उद्योगपति एवं समाजसेवी राजेश ने सुझाव दिया कि सभी नट-बोल्ट व दूसरी फैक्टरियों में नगर निगम आडिट कराए। पानी की फैक्टरियों में प्रतिदिन कितनी जरूरत है और उसका उपयोग कितना होता है। पानी की बचत कैसे की जाए। बरसाती पानी को संरक्षित करने के लिए भी योजना पर निगम अमल कराए। भविष्य की चिता जताते हुए कहा कि कई देशों में पानी की किल्लत के चलते विस्फोटक हालात हैं। यदि हम अभी से नहीं चेते तो आने वाली पीढि़यां हमें माफ नहीं करेंगी। व्यापारी गुलशन की नसीहत शहर को अपनेपन से संभालें

पालिका बाजार एसोसिएशन के प्रधान गुलशन निझावन ने बैठक के दौरान अधिकारियों को नसीहत दी है कि वह रोहतक शहर को अपने-पन से संभालें। उन्होंने उदाहरण दिया कि शहर की सभी सड़कें टूटी पड़ी हैं। नाराजगी जताई कि बरसाती सीजन से पहले जर्जर सड़कों को दुरूस्त नहीं कराया गया। अधिकारी छोटी रकम से होने वाले कार्यों को बढ़ने का इंतजार करते रहते हैं। जर्जर सड़कों के कारण जनता को होने वाली परेशानियों का जिक्र किया। यह भी मांग की है कि जो भी हालात बिगड़े हुए हैं उन सभी मामलों को लेकर अधिकारी संज्ञान लें और सुधार कराएं। बाजारों की समस्याओं को लेकर भी अनदेखी के इन्होंने आरोप लगाए हैं।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.