अब नहीं चलेगी पार्षदों की मनमानी, पर्यवेक्षक की आखिरी मुहर पर हो जाएंगे चुनाव

अब नहीं चलेगी पार्षदों की मनमानी, पर्यवेक्षक की आखिरी मुहर पर हो जाएंगे चुनाव

सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर पद के चुनाव के लिए बेशक पार्षद अपने दावे ठोंक रहे हों लेकिन संगठन मनमानी नहीं चलने देगा।

Publish Date:Thu, 26 Nov 2020 10:27 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, रोहतक : सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर पद के चुनाव के लिए बेशक पार्षद अपने दावे ठोंक रहे हों, लेकिन संगठन मनमानी नहीं चलने देगा।माना जा रहा है कि पार्षदों की जिद के आगे चुनाव 27 नवंबर से टाला गया। अब दो दिसंबर को होने वाले चुनाव के लिए संगठन पूरी तरह से तैयार है। पर्यवेक्षक औचारिकता निभाएंगे। पार्षदों का मन टटोलने के बाद रिपोर्ट संगठन को देंगे। अगले दिन पार्षदों को सीधे तौर से चुनाव में वोट देने को कहा जाएगा। यह भी तैयारी है कि सर्वसम्मति बना ली जाए।

बताया गया कि अगले साल तक कोई चुनाव नहीं है। इसलिए भाजपा को किसी भी पार्षद के दूसरे दल में शामिल होने से कोई डर नहीं। आंख दिखाने वाले पार्षदों पर भी संगठन की नजर है। सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर पद के लिए चुनाव के लिए पत्र जारी किए गए हैं। नगर निगम के आयुक्त की तरफ से मेयर के अलावा सभी 22 पार्षदों को पत्र जारी किए हैं। जिला मजिस्ट्रेट कैप्टन मनोज कुमार ने भी चुनाव के लिए रोहतक के खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी राजपाल चहल को ड्यूटी मजिस्ट्रेट की तैनाती कर दी है। दो दिसंबर को होने वाले चुनाव के लिए पार्षद नई रणनीति में जुट गए हैं। चुनाव संपन्न होने तक कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए हैं। भाजपा के लिए लकी नंबर-13, इत्तेफाक से कंचन का वार्ड

भाजपा के लिए 13 का अंक शुभ माना जाता है। वार्ड-13 की पार्षद कंचन खुराना ने सीनियर डिप्टी मेयर पद के लिए दावेदारी पेश कर दी है। अब इसी लकी नंबर के सहारे कंचन ने पद पाने की संगठन में पैरवी शुरू कर दी है। अभी तक 20 में से 12 पार्षद सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर पद के लिए दावा ठोंक चुके है। संगठन के प्रति आस्था का हवाला देते हुए कंचन ने खुद की वरिष्ठता का भी हवाला दिया है। वजह है कि दो बार कंचन और दो बार उनके पति अशोक खुराना पार्षद रह चुके हैं। भाजपा में सिर्फ जाट पार्षदों में अनिल कुमार दूसरी और एससी पार्षद पूनम किलोई भी दूसरी बार पार्षद चुनी गई हैं। हालांकि अनिल डिप्टी मेयर और पूनम किलोई सीनियर डिप्टी मेयर पद के लिए दावेदारी पेश कर रहे हैं। लेकिन पूनम किलोई के पति सूरजमल किलोई कलानौर क्षेत्र से जिला पार्षद पद का चुनाव लड़ना चाहते हैं, ऐसे में संगठन उन्हें एक ही पद देने पर विचार कर रहा है।

फिलहाल वार्ड-15 के पार्षद गुलशन ईशपुनियानी ही पांचवीं बार पार्षद चुने गए हैं, लेकिन वह कांग्रेस से ताल्लुक रखते हैं। पार्षद सुरेश किराड़ भी दूसरी पार्षद बने हैं। बता दें कि कुल 22 में से 20 भाजपा पार्षद हैं। कदम सिंह अहलावत व गुलशन कांग्रेसी पार्षद हैं। पर्यवेक्षक के समक्ष महिला पार्षदों के साथ उनके प्रतिनिधियों को भी मिलेगी एंट्री

भाजपा के सूत्रों का कहना है कि पर्यवेक्षक महीपाल ढांडा के समक्ष महिला पार्षदों के साथ ही उनके पति, प्रतिनिधि, ससुर या फिर अन्य जो भी काम-काज देखते हैं उन्हें एंट्री मिलेगी। पर्यवेक्षक के सामने दमदारी से अपना पक्ष रखने के लिए पार्टी ने यह रणनीति बनाई है। हालांकि चुनाव वाले दिन कान्फ्रेंस हाल में महिला पार्षदों के प्रतिनिधियों की एंट्री पर पूरी तरह से बैन रहेगा। यह भी तय किया गया है कि किसी भी विवाद-झगड़े से निपटने के लिए पुलिस तैनात रहेगी। पार्षदों को तलाशी के बाद ही हॉल में एंट्री मिलेगी। अभी तक माना जा रहा है कि विवाद नहीं होगा। फिर भी निगम के अधिकारी एहतियात के तौर पर सुरक्षा में कोई चूक नहीं छोड़ना चाहते।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.