बिना वैकल्पिक व्यवस्था के शौचालय बंद

जासं रेवाड़ी स्थानीय बस स्टैंड के भवन में बने शौचालय को बिना किसी वैकल्पिक व्यवस्था के ही बंद कर दिया गया है।

JagranPublish:Sat, 25 Sep 2021 04:30 PM (IST) Updated:Sat, 25 Sep 2021 04:30 PM (IST)
बिना वैकल्पिक व्यवस्था के शौचालय बंद
बिना वैकल्पिक व्यवस्था के शौचालय बंद

जागरण संवाददाता, रेवाड़ी: स्थानीय बस स्टैंड के भवन में बने शौचालय को बिना किसी वैकल्पिक व्यवस्था के ही बंद कर दिया गया है। इस कारण दूर से आने वाले यात्रियों को खासी परेशानी उठानी पड़ रही है। वहीं, यात्री बस स्टैंड परिसर में इधर-उधर शौच आदि कर स्वच्छता अभियान को बट्टा लगा रहे हैं। महिला यात्रियों को तो सबसे अधिक परेशानी उठानी पड़ रही है। हालांकि, बस स्टैंड परिसर में एक अन्य शौचालय बना हुआ है, लेकिन दिन भर यात्रियों की भीड़ होने के चलते यह नाकाफी साबित हो रहा है। इसको लेकर रोडवेज तालमेल कमेटी ने बैठक कर रोडवेज प्रबंधन के खिलाफ रोष जताया है।

बिना वैकल्पिक व्यवस्था के शौचालय को बंद करना गलत: रोडवेज तालमेल कमेटी की ओर से बस स्टैंड परिसर में आयोजित बैठक में पिछले दस दिनों से बंद पड़े शौचालय का मुद्दा उठाया गया। वक्ताओं ने कहा कि बस स्टैंड के भवन में बने शौचालय को बिना किसी वैकल्पिक व्यवस्था के मरम्मत के लिए बंद कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि बस स्टैंड पर प्रतिदिन पांच हजार से अधिक यात्री आते हैं, जिन्हें शौचालय बंद होने से खासी परेशानी उठानी पड़ रही है। इस संबंध में अधिकारियों को भी अवगत कराया जा चुका है, लेकिन न तो कोई वैकल्पिक व्यवस्था की जा रही है और न ही कोई संतोषजनक जवाब दिया जा रहा है। लोग खुले में शौच जाने को मजबूर हैं। इससे बस स्टैंड परिसर में गंदगी फैल रही है। इस समस्या का जल्द समाधान नहीं हुआ तो तालमेल कमेटी ठोस कदम उठाने को मजबूर होगी। इस मौके पर राजपाल यादव, राजवीर फोगाट, शवि कुमार, रवि कुमार, नरेंद्र दखोरा, रविद्र कुमार, नवीन कुमार, प्रवीण यादव, राजेंद्र टीकला, धर्मवीर खोड व रवि कुमार कर्मचारी मौजूद रहे। बस स्टैंड भवन में बना शौचालय जर्जर हो गया है। इसलिए उसे मरम्मत के लिए बंद किया गया था। शुक्रवार से मरम्मत का कार्य भी शुरू हो गया है। बस स्टैंड परिसर में पूर्व दिशा की तरफ से एक अन्य शौचालय बना हुआ है। अगर यात्रियों को कोई परेशानी है तो वैकल्पिक व्यवस्था करा दी जाएगी।

- सुरेश राठौड़, एसएस रोडवेज