पानीपत को नए साल 2022 में सौगात, शहर को जल्‍द मिलेगा सिवाह में बन रहा नया बस स्‍टैंड

पानीपत के लोगों को नए साल में सिवाह में बन रहे बस स्‍टैंड की सौगात मिल जाएगी। सर्विस लेन का काम पेंडिंग है। इसी माह अंतिम सप्ताह में फाइनल रिपोर्ट देगा पीडब्ल्यूडी। जनवरी माह में रोडवेज को हैंडओवर कर दिया जाएगा।

Anurag ShuklaTue, 07 Dec 2021 10:23 PM (IST)
पानीपत के सिवाह में बन रहा बस स्‍टैंड।

पानीपत, [विनोद जोशी]। सिवाह में बन रहे शहर के नए बस स्टैंड का निर्माण कार्य लगभग पूरा हो चुका है। इसी माह अंतिम सप्ताह तक बस स्टैंड को अंतिम रूप दे दिया जाएगा। नए साल जनवरी माह में बस स्टैंड का उद्धाटन किया जाएगा। फरवरी माह में रोडवेज की ओर से शिफ्टिंग का काम शुरू हो जाएगा। फिलहाल बस स्टैंड के गेट व सर्विस लेन का काम पेंडिंग है। वर्कशाप अभी पुरानी जगह ही रहेगी। शहर को काफी हद तक ट्रैफिक जाम से मुक्ति मिलेगी।

सिवाह गांव की पंचायत ने 29 सितंबर, 2017 को पंचायती जमीन से साढ़े छह एकड़ जमीन ट्रांसपोर्ट विभाग को दी थी। ग्लोबल इंफ्राकान कंपनी ने 9.65 करोड़ रुपये की लागत से 26 अक्टूबर, 2018 को 21 माह में बस स्टैंड का निर्माण कार्य पूरा करने का टेंडर छुड़वाया था। विभागीय शर्तों के मुताबिक कंपनी को निर्माण कार्य पूरा करने के लिए 21 माह यानी जुलाई 2020 तक का समय दिया है। कंपनी कर्मचारियों का दावा था कि अप्रैल 2020 तक बस स्टैंड का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा। बस खड़ी करने के लिए 18 बूथ, खानपान की 14 दुकानें, 2 एटीएम, 2 शौचालय और लिफ्ट की व्यवस्था होगी। कोरोना व अन्य कारणों से निर्माण कार्य प्रभावित हुआ।

लाइटों से जगमग होगा बस स्टैंड

बस स्टैंड परिसर में अलग-अलग जगहों पर छह हाई मास्ट लाइटें लगनी बाकी हैं। रात के समय यात्रियों को परेशानी नहीं होगी। बस स्टैंड के पीछे 100 गुना 250 फीट की और दाई ओर 40 गुना 100 फीट की दो अलग-अलग पब्लिक व्हीकल पार्किंग बनाई गई है। इसके अलावा आपराधिक वारदातों पर लगाम कसने के लिए पांच कमरों में पुलिस चौकी बनाई गई।

ओवरब्रिज पर कट दिलाएंगे राहत

ओवरब्रिज पर बरसत रोड और सेक्टर 25 के पास दोनों ओर कट खोलने का निर्णय लिया गया है। बस स्टैंड शिफ्टिंग के साथ ही ओवरब्रिज पर भी कट खोल दिए जाएंगे। शहर के विभिन्न हिस्सों में चलने वाली सिटी बस और अन्य वाहन इसी रास्ते से होते हुए बस स्टैंड तक का सफर तय करेंगे।

रूट का होगा सर्वे 

सबसे पहले सभी रूट के किलोमीटर का सर्वे होगा। किराया भी नए सिरे से तय किया जाएगा। इसका कारण है कि पुराने बस स्टैंड से नए बस स्टैंड की दूरी सात किलोमीटर है। इसमें कई रूट ऐसे है, जिनका किराया बढ़ेगा व घटेगा भी। इसमें बहालगढ़, सोनीपत, दिल्ली जैसे रूट का किराया पांच रुपये तक कम किया जा सकता है। वहीं जींद, सफीदों, असंध, गोहाना, शामली रूट का किराये में भी पांच रुपये तक की बढ़ौतरी होने का अनुमान है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.