बरसाती नाले दे रहे हादसों को आमंत्रण

बरसाती नाले दे रहे हादसों को आमंत्रण

शहर में जगह-जगह खुले पड़े बरसाती नाले आमजन के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं। इन खुले पड़े बरसाती नालों के कारण जहां हर समय हादसों का भय बना रहता है।

Publish Date:Mon, 25 Jan 2021 02:45 PM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, रेवाड़ी : शहर में जगह-जगह खुले पड़े बरसाती नाले आमजन के लिए परेशानी का सबब बने हुए हैं। इन खुले पड़े बरसाती नालों के कारण जहां हर समय हादसों का भय बना रहता है। वहीं, इनकी सफाई नहीं होने के कारण यहां पर दिनभर दुर्गंध उठती है, जिसके चलते स्थानीय दुकानदारों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। स्थानीय दुकानदारों की ओर से नगर परिषद के अधिकारियों को शिकायत करने के बावजूद इन नालों पर जाल नहीं लगाए गए हैं।

शहर के नया बाजार के प्रवेश द्वार पर पिछले तीन महीने से नाला खुला पड़ा हुआ है, जो लोगों के लिए हर समय खतरा बना हुआ है। मुख्य बाजार होने के कारण यहां से दिनभर सैकड़ों लोगों का आवागमन होता है लेकिन नगर परिषद के अधिकारियों की नजर इन खुले पड़े नालों पर नहीं जा रही है। करीब डेढ़ माह पूर्व भी एक बुजुर्ग महिला इस खुले पड़े नाले में गिरकर घायल हो गई थी। वहीं, अपना बाजार के प्रवेश द्वार पर भी कई महीनों से बरसाती नाले का जाल टूटा हुआ है, जिसके चलते दोपहिया वाहन चालकों को भारी परेशानी उठानी पड़ रही हैं।

-------

पिछले तीन महीनों से अधिक समय से बाजार के प्रवेश द्वारा पर बरसाती नाला खुला पड़ा हुआ है, जिसके चलते हर समय यहां पर खतरा बना रहता है। खुले पड़े नाले पर जाल लगवाने के लिए कई बार अधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

- विजय यादव, दुकानदार

---------

अधिकारियों को बार-बार शिकायत करने के बावजूद खुले पड़े नालों पर जाल नहीं लगवाया जा रहा है। करीब डेढ़ माह पूर्व खुले पड़े बरसाती नाले में एक बुजुर्ग महिला गिरकर घायल हो गई थी।

- कृष्ण कुमार, दुकानदार

------------

कर्मचारियों को मौके पर भेजकर इसकी जांच कराई जाएगी। बाजारों में जहां पर भी नाले खुले पड़े हुए हैं, उन पर जाल लगवा दिए जाएंगे।

- अभय सिंह यादव, नप ईओ

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.