महिला ने बैंक कर्मचारी बन ली खाते की जानकारी, 22 हजार रुपये निकाले

महिला ने बैंक कर्मचारी बन ली खाते की जानकारी, 22 हजार रुपये निकाले

सुरेंद्र ने बताया कि एक महिला का फोन आया जिसने बताया कि वह बैंक की कर्मचारी है। उसने खाता नंबर पूछा तो बता दिया।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 07:06 AM (IST) Author: Jagran

जागरण संवाददाता, पानीपत : शहर में ऑनलाइन फ्राड की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। ठग बैंक कर्मचारी बनकर कॉल करते हैं। बातों में उलझाकर वह उपभोक्ता से ओटीपी नंबर पूछ लेते हैं। इसके बाद कॉल कटते ही खाते से पैसे भी निकल जाते हैं। अब ठगों ने देसराज कालोनी भावना चौक गली नंबर पांच में रहने वाले सुरेंद्र कुमार को अपना शिकार बनाया है। ठग ने उनके बैंक खाते से 22 हजार 500 रुपये निकाल लिए।

सुरेंद्र कुमार स्टैंड बेचने का काम करता है। उसका भारतीय स्टेट बैंक में खाता है। सुरेंद्र ने बताया कि एक महिला का फोन आया, जिसने बताया कि वह बैंक की कर्मचारी है। उसने खाता नंबर पूछा तो बता दिया। थोड़ी देर बाद खाते से 22,500 रुपये निकल गए। उसने किला थाना पुलिस को लिखित शिकायत दी। इस संदर्भ में एलडीएम कमलजीत गिरधर का कहना है कि कभी भी बैंक कर्मचारी फोन पर खाते की डिटेल नहीं मांगता। खाताधारक बहकावे में आकर गलती करते हैं। कोई जानकारी लेने के लिए खाताधारक को बैंक में ही बुलाया जाता है। इसलिए खाताधारक किसी को भी फोन पर कोई जानकारी न दें।

बैंक खाते से निकाले 8500 रुपये

संस, काबड़ी : काबड़ी वासी अनुज कुमार के बैंक खाते से अज्ञात व्यक्ति ने 8500 रुपये निकाल लिए। उसने बैंक में जाकर शिकायत की तो अधिकारियों ने कोई जवाब नहीं दिया। अनुज की शिकायत पर पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। अनुज ने बताया कि उसका सेक्टर 18 स्थित यूनियन बैंक आफ इंडिया में खाता है। उसके खाते से 8500 रुपये निकल गए। दो-तीन दिन तक उसने बैंक अधिकारियों के चक्कर लगाए, लेकिन वहां से निराशा ही हाथ लगी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.