थर्मल के प्रदूषण से प्रभावित हैं पानीपत के ये गांव, जीना भी मुश्किल, एनजीटी तक पहुंचा मामला

थर्मल की राखी के प्रदूषण से प्रभावित पानीपत के गांवों के लोगों के लिए जीना मुश्किल हो गया है। लोग बीमारी के शिकार हो रहे हैं। मामला एनजीटी तक पहुंच चुका है। 3 को एनजीटी की सुनवाई है। भूजल सहित फसलों के 12 सैंपल लिए गए हैं।

Anurag ShuklaThu, 25 Nov 2021 09:52 AM (IST)
थर्मल के प्रदूषण से गांव वाले परेशान।

पानीपत, जागरण संवाददाता। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण के निर्देश पर थर्मल की राखी से प्रभावित गांव में श्रीराम लैब दिल्ली में सात भूजल, पांच फसलों के सैंपल लिए। सीएमओ पानीपत में इन गांव में पिछले पांच साल की रिपोर्ट देने के लिए निर्देश दिए गए। प्रदूषण से सुताना, जाटल, खुखराना गांव में एलर्जी, चर्म रोग, आंखों की बीमारी कितने लोगों को हुई का डाटा सिविल अस्पताल को जमा करवाने के लिए कहा गया है। सीएमओ आफिस से यह रिपोर्ट दोबारा मांगी है। पहली रिपोर्ट को बोर्ड ने अधूरा करार दिया था।

पिछले कई वर्षों से थर्मल की राख उड़ने से आसपास के गांव जिनमें जाटल, सुताना, खुखराना प्रमुख में प्रदूषण फैल रहा है। इन गांव की फसलें खराब हो रही है। ग्रामीणों को एलर्जी, चर्म रोग, सांस की बीमारी से लेकर आंखों को नुकसान पहुंच रहा है। जाटल गांव के सरपंच ने यह शिकायत एनजीटी को दी थी जिस पर कार्रवाई करते हुए एनजीटी ने ग्राउंड रिपोर्ट मांगी है। इस मामले की आगले सुनावई तीन दिसंबर को होनी है। उससे पहले केंद्रयी प्रदूषण बोर्ड को रिपोर्ट दाखिल करवानी है।

इन प्वाइंट पर लिए सैंपल

1. जीडी गोयनका स्कूल

2. गोर्व. पोलटेक्निक महर्षि कश्यप स्कूल

3. प्रामरी स्कूल जाटल

4. गोर्वमेंट स्कूल सुताना

इन स्थानों पर एयर एंबियंट स्टेशन बनाकर सैंपल लिए गए।

इन सैंपल की रिपोर्ट श्रीराम लैब से एनजीटी को दी जाएगी।

थर्मल में दो यूनिटों में बिजली उत्पादन

पावर थर्मल प्लांट में दो यूनिटों 7,8 में 250-250 मेगावाट बिजली का उत्पादन हो रहा है। पावर प्लाट चार यूनिटों को डेमोलिस किया जा चुका है। यूनिट नंबर 5-6 को भी बंद रखा जा रहा है। इन सभी आठ युनिटों की राखी जाटल गांव के आसपास डंप की जाती रही है। यह राखी उढ़कर ग्रामीणों को घरों तक जाती है। इसके निष्पादने के आदेश में एनजीटी दे चुकी है। राखी के कारण आसपास के गांव में रहने वालों को स्वास्थ्य प्रभावित हुआ है।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी कमलजीत ने बताया कि एनजीटी की सुनावई तीन दिसंबर को होनी है। उसके बाद अगली कार्रवाई की जाएगी।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.