अनोखी वारदात, अंबाला में आरपीएफ थाने के मालखाने से चोर उड़ा ले गए लाखों का ओएचई तार

अंबाला में आरपीएफ थाने से चोर लाखों रुपये की ओएचई तार चुरा ले गए। राजपुरा-पटियाला ट्रैक दोहरीकरण के दौरान चोरी हुए तार को आरपीएफ ने बरामद किया था। मामले में जांच के लिए आरपीएफ के सीनियर कमांडेट अंबाला से पटियाला पहुंचे थे।

Rajesh KumarTue, 30 Nov 2021 05:17 PM (IST)
अंबाला में आरपीएफ थाने के मालखाने से ओएचई तार चोरी।

अंबाला, दीपक बहल। यात्रियों और रेल संपत्ति की सुरक्षा करने वाली रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के थाने के मालखाने से ही चोर लाखों के ओवर हेड इलेक्ट्रिक तार (ओएचई) ले उड़े। रेलवे में यह ऐसी पहली वारदात है, जिसमें थाने में ही बने मालखाने में चोरों ने वारदात को अंजाम दे दिया। मालखाने से चोरी की जानकारी के बाद उत्तर रेलवे और अंबाला मंडल के अधिकारी सकते में आ गए हैं। यह वारदात अंबाला रेल मंडल के पटियाला रेलवे स्टेशन पर हुई। वारदात की सूचना मिलते ही अंबाला से सीनियर कमांडेंट नीतीश शर्मा पटियाला पहुंचे और कर्मचारियों से पूछताछ की। मामले की जांच आरपीएफ के सहायक आयुक्त को सौंप दी गई है। 

जानकारी के अनुसार, करीब एक साल पहले राजपुरा-पटियाला डबल लाइन का जिम्मा रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) को दिया गया था। दोहरीकरण के दौरान ही तार चोरी हो गया था। पटियाला आरपीएफ ने सात लोगों को गिरफ्तार कर तार बरामद किया था। यह मामला अभी कोर्ट में विचाराधीन है। 

आरी से काटा मालखाने का ताला

पटियाला आरपीएफ के पोस्ट प्रभारी इन दिनों छुट्टी पर चल रहे हैं। रविवार रात को चोरों ने मालखाने का ताला आरी से काटा और तार चोरी कर ले गए। तार काा वजन क्विंटलों में था, इसलिए माना जा रहा है कि वारदात में करीब चार से पांच लोग शामिल रहे होंगे। सोमवार को मालखाने का टूटा ताला और तार गायब देख कर्मचारियों के होश उड़ गए। 

अमूमन ऐसी वारदात नहीं होती : आइजी 

उत्तर रेलवे के आरपीएफ आइजी एसएन यादव ने तार चोरी होने की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि थाने के मालखाने में ऐसी वारदात होती नहीं है।

सुलझा ली जाएगी वारदात 

आरपीएफ के सीनियर कमांडेंट नीतीश शर्मा ने बताया कि इस मामले को पंजाब पुलिस के सुपुर्द किया जाएगा। आरपीएफ को भी इस मामले में कुछ जानकारी मिली हैं। वारदात को जल्द ही सुलझा लिया जाएगा। जांच का जिम्मा सहायक आयुक्त को दिया गया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.