72 एमएम बारिश में जगह-जगह भरे पानी से रहा ट्रैफिक जाम

72 एमएम बारिश ने शहर को डुबो दिया। बाजारों से लेकर रिहायशी कालोनियों में पानी भर गया। जीटी रोड पर ट्रैफिक जाम से वाहन चालकों को दो चार होना पड़ा। बुधवार सुबह से ही रुक-रुक कर बारिश होती रही।

JagranThu, 23 Sep 2021 09:04 AM (IST)
72 एमएम बारिश में जगह-जगह भरे पानी से रहा ट्रैफिक जाम

जागरण संवाददाता, पानीपत : 72 एमएम बारिश ने शहर को डुबो दिया। बाजारों से लेकर रिहायशी कालोनियों में पानी भर गया। जीटी रोड पर ट्रैफिक जाम से वाहन चालकों को दो चार होना पड़ा। बुधवार सुबह से ही रुक-रुक कर बारिश होती रही। सुबह छह से सात बजे तक तेज बारिश दर्ज की गई। दिन भर हुई बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ।

बरसात से तापमान में चार अंक की गिरावट दर्ज की गई। अधिकतम तापमान 33 से गिरकर 29 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। भारतीय मौसम विभाग ने पहले ही तेज बारिश की संभावना व्यक्त की थी। मंगलवार को जिले में पानीपत सिटी में ही 30 एमएम बारिश दर्ज गई थी। बारिश होने से बाजारों में पानी भर गया। सुबह कार्योंलयों में देरी से अधिकारी कर्मचारी पहुंच पाए। बाजारों में ग्राहकी नदारद रही। सब्जी मंडी में भी बोली देर से शुरू हो पाई। रेलवे अंडर पास गोहाना रोड और अंसध रोड पानी से भर जाने के कारण आवाजाही बाधित रही। अंसध रोड फ्लाईओवर पर वाहन सरकते नजर आए। दिन में वाहनों को हेडलाइट जलानी पड़ी। सेक्टरों की हालत बेहद खराब

बारिश आने से सेक्टरों में स्टार्म वाटर की निकासी न होने के कारण दो-तीन फीट तक पानी भर गया। सेक्टर 11 में जीसी गुप्ता के अस्पताल के सामने अनेक वाहन पानी में फंस गए। जाम लगा रहा। मलिक पेट्रोल पंप के नजदीक कब्रिस्तान के सामने 11 सेक्टर में जाने वाली सड़क बंद होने के कारण लोगों को रांग साइड होटल गोल्ड के सामाने से होकर जाना पड़ा।

एसडी कालेज रोड पर नगर निगम दो रेन हार्वेस्टिग सिस्टम होने के बाद दो-दो फीट पानी भर गया। सिस्टम की मेंटेनेंस नहीं होने के कारण यह समस्या चल रही। बस अड्डे पर भी पानी भर गया। माडल टाउन में तो बच्चों ने नाव चलाई। औद्योगिक सेक्टर 25 पार्ट 1, पार्ट 2 सहित सेक्टर 29 पार्ट दो में पानी भरने से आवाजाही प्रभावित हुई। वायु गुणवत्ता में सुधार

बारिश होने से वायु गुणवता में सुधार रहा है। एयर क्वालिटी इंडेक्स 34 रहा जो बेहतर गिना जाता है। किसानों के लिए आफत बनी

किसानों की बारिश आफत बन रही है। 1509 धान की आवक प्रभावित रही। इस वर्ष पिछले साल की तुलना में धान का भाव दोगुना 3000 रुपये क्विंटल तक चल रहा है, लेकिन बारिश से फसल खराब हो रही है। अगेती फसल लगाने वाले किसान बारिश से खुश हैं। बलाक स्तर पर बारिश की स्थिति

पानीपत : 72 एमएम

समालखा : 04 एमएम

इसराना : 40 एमएम

बापौली : 00 एमएम

मतलौडा : 27 एमएम

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.