हरियाणा के पानीपत में 500 बेड के अस्‍थायी अस्‍पताल के लिए युद्ध स्‍तर पर तैयारी, सीएम पहुंचे

पानीपत में जगह देखने पहुंचे सीएम मनोहर लाल।

हरियाणा के पानीपत में सोमवार को सीएम मनोहर लाल पहुंचे। सीएम मनोहरलाल ने कहा इमरजेंसी है। कोरोना संक्रमितों के लिए जल्द जमीन लेकर काम शुरू करो। आक्सीजन उत्पादन प्लांट के नजदीक है जगह यहां हर बेड पर आक्सीजन की सुविधा होगी।

Anurag ShuklaMon, 26 Apr 2021 12:55 PM (IST)

पानीपत, जेएनएन।  कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिए प्रदेश सरकार ने युद्धस्तर पर बचाव के इंतजाम शुरू कर दिए हैं। पानीपत और हिसार में पांच-पांच सौ बेड के अस्थायी कोविड अस्पताल बनने हैं। पानीपत में रिफाइनरी के नजदीक  अस्पताल बनेगा। जगह देखने के लिए मुख्यमंत्री मनोहरलाल पानीपत में पहुंचे। पूरे जिला प्रशासन और विधायक के साथ उन्होंने बैठक की। निर्देश दिए कि जल्द ही यहां पर काम शुरू किया जाए। पहले बाल जाटान की पंचायती जमीन पर अस्पताल बनना था। यह अस्पताल गैस प्लांट से करीब डेढ़ किलोमीटर दूर था। सीएम ने कहा कि गैस प्लांट के नजदीक जगह होनी चाहिए। अब गैस प्लांट से आधे किलोमीटर दूर कोयला प्लांट के पास अस्थायी अस्पताल बनेगा।

नक्शा बन गया है

रिफाइनरी से अस्पताल साइट तक ऑक्सीजन की पाइपलाइन बिछाई जाएगी। इसका नक्शा मिल गया है। अस्पताल का ढांचा पीडब्ल्यूडी को तैयार करना है। पानीपत में दिल्ली, गाजियाबाद, नोएडा तक के कोरोना संक्रमित इलाज के लिए पहुंच रहे हैं। सरकारी और निजी कोविड अस्पतालों पर मरीजों का दबाव है। भीषण महामारी को देखते हुए अस्थायी अस्पताल बनाने का कार्य युद्ध स्तर पर होना है। रिफाइनरी स्थित ऑक्सीजन प्लांट के तकनीकी अधिकारियों ने पाइप लाइन की ड्राइंग सौंप दी है।

लिक्विड प्लांट से डेढ़ किमी. दूर

अस्थाई कोविड अस्पताल के लिए चिन्हित साइट रिफाइनरी के एयर लिक्विड प्लांट से लगभग आधा किलोमीटर की दूरी पर है। हर बेड पर ऑक्सीजन की सुविधा होगी। ऑक्सीजन पाइपलाइन के जरिए पहुंचेगी या सिलेंडरों से, इस पर निर्णय लिया जाना है। अस्पताल में सीसीटीवी कैमरे लगेंगे।

ये होंगी सुविधाएं

-सभी बेड पर आक्सीजन, वेंटीलेटर

-कोविड जांच लैब, एक्स-रे सुविधा

-इलेक्ट्रोकार्डिओग्राम (ईसीजी)

-हेमटॉलाजिकल टेस्ट

-पर्याप्त वाहन पार्किंग

-व्हील चेयर व स्ट्रेचर

-फायर फायटिंग सिस्टम

-प्रशासनिक व मेडिकल ब्लॉक

-पूछताछ केंद्र

आक्सीजन प्लांट में भी पहुंचे सीएम

सीएम मनोहरलाल एयर लिक्विड नोथ इंडिया कंपनी के प्लांट में भी पहुंचे। यहां पर रोजाना ढाई सौ टन ऑक्सीजन का उत्पादन होता है। सीएम ने प्लांट के अधिकारियों को निर्देश दिए कि काम रुकना नहीं चाहिए। टैंकर भरकर तुरंत रवाना किए जाएं।

जहां गैस आसानी से मिल सकती है, वहां बना रहे अस्पताल

सीएम मनोहरलाल ने मीडिया से बातचीत में कहा कि पीडब्यूडी की तरफ से अस्पताल बनाया जाएगा। जहां पर गैस आसानी से मिल सके, वहां पर अस्पताल बनाया जाएगा। इसके लिए हिसार और पानीपत को चुना गया है। पानीपत में रिफाइनरी के पास बनेगा अस्पताल।

कालाबाजारी नहीं होने देंगे

सीएम ने कहा कि किसी भी हाल में कालाबाजारी नहीं होने देंगे। रात के समय कुछ छोटे अस्पतालों में गड़बड़ हो सकती है। आक्सीजन की किसी भी तरह की कमी नहीं है। जहां तक इंजेक्शन की बात है, निजी डीलरों पर भी नजर रहेगी। जिस मरीज को डाक्टर की तरफ से इंजेक्शन

दिल्ली का जितना कोटा, उतनी आक्सीजन दे रहे

सीएम ने कहा कि दिल्ली का जितना कोटा तय है, उतनी आक्सीजन दे रहे हैं। अगर कोटा बढ़वाना है तो केंद्र सरकार से बात करें। जहां तक दिल्ली के मरीजों के हरियाणा में आने की बात है, जहां इलाज हो सकता है, मरीज वहां जाएगा ही। हमारा दायित्व बनता है कि सभी का इलाज हो।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

यह भी पढ़ें:  कोरोना महामारी के बीच आई नई मुसीबत, ऑक्सीजन भी होने लगी चोरी, पानीपत रिफाइनरी का टैंकर ले उड़े चोर

यह भी पढ़ें: 'सॉरी' लिखकर चोर ने लौटाई कोरोना वैक्सीन, हरियाणा में सामने आया चौकाने वाला मामला

यह भी पढ़ें: हरियाणा के जींद में लस्‍सी में गिरी छिपकली, पीने से 2 की मौत, 5 की हालत गंभीर


यह भी पढ़ें: बेटी पूरे कर रहे टैक्सी चालक पिता के ख्‍वाब, भाई ने दिया साथ तो कामयाबी को बढ़े हाथ

यह भी पढ़ें: पानीपत में बढ़ रहा कोरोना, बच्‍चों को इस तरह बचाएं, जानिये क्‍या है शिशु रोग विशेषज्ञ की सलाह

यह भी पढ़ें: चोट से बदली पानीपत के पहलवान की जिंदगी, खेलने का तरीका बदल बना नेशनल चैंपियन

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.