दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

कुरुक्षेत्र में कोरोना की दूसरी लहर का बढ़ रहा खतरा, 24 घंटे में 234 केस आए, 4 की मौत

कुरुक्षेत्र में कोरोना संक्रमण से 4 की मौत।

कुरुक्षेत्र में दूसरी लहर लगातार खतरनाक होती जा रही है। कुरुक्षेत्र में 24 घंटे में 234 नए संक्रमित मिले और चार की मौत हो गई। वहीं शहर के दो श्मशान घाट में छह शवों को कोविड प्रोटोकॉल में संस्कार किया गया।

Anurag ShuklaFri, 07 May 2021 07:01 AM (IST)

कुरुक्षेत्र, जेएनएन। दूसरी लहर में कोरोना का संक्रमण लगातार फैलता जा रहा है। जिले में 24 घंटे में 234 नए संक्रमित मिले और चार की मौत हो गई। इधर शहर के दो श्मशान घाट में छह शवों को कोविड प्रोटोकॉल में संस्कार किया गया। प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के दावों के बीच एलएनजेपी अस्पताल के बाद पिहोवा सरकारी अस्पताल में कोरोना मरीजों को बेहतर इलाज के दावे हवा हो गए। यहां अस्पताल के बाहर नो बेड नो ऑक्सीजन का नोटिस चस्पा कर दिया गया है। इससे लोगों की परेशानी बढ़ गई है। लोगों का कहना है कि अधिकारी धरातल पर काम करने की बजाय इलाज में कागजी खेल खेल रहे हैं।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

जिला सिविल सर्जन डा. सुखबीर सिंह ने वीरवार सायं एक हेल्थ बुलेटिन जारी किया है। उन्होंने बताया कि कुरुक्षेत्र में अलग-अलग जगहों से कोरोना वायरस से संक्रमित 234 नए केस सामने आए हैं और कुरुक्षेत्र में 156 मरीजों की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आने पर डिस्चार्ज कर दिया गया है।

कोरोना पाॅजिटिव कैलाश नगर कुरुक्षेत्र निवासी 71 वर्षीय व्यक्ति, अमर कालोनी निवासी 70 वर्षीय व्यक्ति, सेक्टर-3 कुरुक्षेत्र निवासी 52 वर्षीय व्यक्ति व गांव मंगाेली जाटान निवासी 58 वर्षीय व्यक्ति की मौत हो गई है। जिले में अब तक 17892 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं। इनमें से 15432 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। जबकि 208 कोरोना पाॅजिटिव मरीजों की मौत हो चुकी है। जिले में अब कोरोना वायरस के 2252 एक्टिव केस हैं।

2017 को वैक्सीनेशन

डिप्टी सीएमओ डा. अनुपमा सैनी ने बताया कि वीरवार को जिले में 2017 को वैक्सीन लगाई गई। इसमें 1171 को पहली और 846 को दूसरी डोज लगाई गई। फ्रंटलाइन वारियर्स के रूप में पत्रकारों को भी वैक्सीन लगाई गई। दूसरी डोज 6 से 8 सप्ताह बाद दी जाएगी। जिले में 30 अप्रैल तक 1.37 लाख लोगों को टीका लग चुका था। एक मई के बाद 2600 लोगों को कोरोना का टीका लगया गया है। अब तक 195419 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है।

पिहोवा अस्पताल में दावों की खुली पोल

सरकारी अस्पतालों में सुविधाओं का टोटा लाख दावों के बाद भी पूरी नहीं हो पा रही है। पिहोवा के सरकारी अस्पताल में तो अंग्रेजी एक पोस्टर चस्पा किया गया है। इस पर नो ऑक्सीजन बेड अवेलेबल इन हॉस्पिटल लिखा गया है। खेल मंत्री संदीप सिंह की विधानसभा में ही सुविधाओं का टोटा है तो बाकी का रामभरोसा है। सरकारी दावा है कि पिहोवा के में अरुणाय रोड पर सरकारी अस्पताल की नई बिल्डिंग में 45 सिलेंडर की कैपेसिटी वाला ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किया जाएगा। जिस पर लगभग 40 लाख रुपये से अधिक की लागत आएगी। विदित है कि बुधवार को लोकनायक जय प्रकाश अस्पताल में भी एक नोटिस चस्पा किया गया था।

सीएमओ ने एंबुलेंस संचालकों की ली बैठक

सीएमओ डा. सुखबीर सिंह ने वीरवार को अपने कार्यालय में एंबुलेंस एसोसिएशन पदाधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने सरकार के तय रेट के बारे में विस्तार से बताया और इसी अनुसार किराया लेने की बात कही। उन्होंने इस पर कोई शिकायत मिलने पर तुरंत कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.