Rohini Court Shootout Gangster Jitender Gogi: वालीबाल में 6 बार नेशनल चैंपियन रहा गोगी, जानें- कैसे बना 6.5 लाख का इनामी बदमाश

Rohini Court Shootout Gangster Jitender Gogi दिल्‍ली के रोहिणी कोर्ट में गैंंगस्‍टर जितेंद्र गोगी की गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। अपराध की दुनिया में कदम रखने के लिए जितेंद्र गोगी नेशनल खिलाड़ी का उभरता सितारा था। गोगी नेशनल लेवल का वालीबाल खिलाड़ी भी रह चुका था।

Anurag ShuklaFri, 24 Sep 2021 06:13 PM (IST)
जितेंद्र उर्फ गोगी नेशनल लेवल का खिलाड़ी भी रह चुका था।

पानीपत, [रवि धवन]। Delhi Rohini Court Shootout: दिल्‍ली के अलीपुर गांव के जितेंद्र उर्फ गोगी पुलिस एनकाउंटर में मारा गया। आप यह जानकार हैरान रह जाएंगे कि वह वालीबाल का नेशनल खिलाड़ी रहा था। छह बार नेशनल चैंपियन रहा। कई पदक उसने जीते। किसी समय उभरता हुआ सितारा, अपराध की दुनिया में चला गया। अंजाम वही हुआ, जो एक अपराधी का होता है। दिल्‍ली की रोहिणी कोर्ट में गैंगवार में गोगी मारा गया। वह दिल्‍ली के नीरज बयाना के बाद दूसरे नंबर पर था। इस गैंग की दिल्‍ली, रोहतक, पानीपत सहित 15 जिलों में दहशत रही। गोगी पर 6.5 लाख का इनाम घोषित था।

गोगी ने हर्षिता की हत्‍या की थी

हरियाणवी गायिका हर्षिता की गोगी ने हत्‍या की थी। हत्‍या की सुपारी हर्षिता के ही जीजा दिल्‍ली के बदमाश दिनेश कराला ने गोगी को दी थी। वारदात 17 अक्‍टूबर, 2017 की है। पानीपत के चमराड़ा गांव के पास गोगी ने अपने शूटर कुलदीप और रोहित मोई के साथ मिलकर पहले तो हर्षिता की कार रुकवाई। एक के बाद एक गोली बरसाकर हर्षिता की हत्‍या कर दी थी। कार में सवार एक युवक को इन्होंने छोड़ दिया था। बता दें कि कुलदीप उर्फ फज्‍जा पुलिस एनकाउंटर में मारा जा चुका है।

जेल में रची थी हत्याकांड की साजिश

दिनेश कराला सोनीपत जेल में था। उसी जेल में गोगी भी था। यहीं पर दोनों मिले थे। कराला पर अपनी सास की हत्या का आरोप था। इस मामले में साली हर्षिता गवाह थी। दिनेश चाहता था कि हर्षिता गवाही न दे लेकिन वह मान नहीं रही थी। कराला को गोगी ने भरोसा दिलाया था कि वह हर्षिता को गोली मारेगा। इन्हीं के साथ शामिल हो गया था कुलदीप फज्जा। उसे एमबीबीएस में दाखिला मिल गया था। पर अपराध की दुनिया से जुड़ गया। पहले तो चोरी और प्रापर्टी पर कब्जा करता था। बाद में गोगी के गैंग में शामिल हो गया।

दोस्त की बहन को छेड़ने पर की थी हत्या

पुलिस के अनुसार, गोगी ने पहली हत्या छेड़खानी के मामले में की थी। उसके दोस्त की बहन को किसी ने छेड़ दिया था। तब गोगी ने उसे डांट दिया था। उसने फिर से छेड़खानी की, कार पर कुछ लिखा तो गोगी भड़क गया। उसने उसकी हत्या कर दी। इसके बाद वह अपराध की दुनिया में बढ़ता ही चला गया। दिनेश कराला से उसके इतने अच्छे संबंध थे कि उसने हर्षिता हत्याकांड के लिए कोई रकम नहीं ली।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.