यात्रा से पहले जान लें रेलवे का नई गाइडलाइन, कोरोना के नए वैरियंट पर अलर्ट मोड में रेलवे

Railway New Corona Guideline रेलवे कोरोना केे नए वैरियंट के सामने आने के बाद अलर्ट मोड में आ गया है। रेलवे ने ट्रेनों में कोराेना गाइडलाइन को लेकर सख्‍ताी बढ़ाने का फैसला किया है। रेलवे ने इसके साथ ही ट्रे्नों में यात्रा के लिए नई गाइडलाइन जारी की है।

Sunil Kumar JhaTue, 30 Nov 2021 10:40 PM (IST)
रेेलवे कोरोना के नए वैरियंट काे लेकर अलर्ट मोड में आ गया है। (फाइल फोटो)

अंबाला, [दीपक बहल]। Railways New Corona Guidelines: रेलयात्रियों के लिए जरूरी खबर है। कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के सामने आने के बाद रेलवे 'अलर्ट मोड' में आ गया है। रेलवे ने अब ट्रेनों में कोरोना को लेकर सख्‍ती बढ़ाने का फैसला किया है और कोरोना को लेकर यात्रियों के लिए नई गाइडलाइन जारी की है। ऐसे में यदि आपको ट्रेन से यात्रा करनी है तो नई गाइडलाइन के बारे में पता कर लें, अन्‍यथा दिक्‍कत हो सकती है। 

कोराेना के नए वैरियंट ओमिक्रोन को लेकर रेलवे मुख्यालय ने जारी किए आदेश 

उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने मंगलवार को अंबाला, दिल्ली, लखनऊ, मुरादाबाद और फिरोजपुर मंडल के अधिकारियों से वीडियो कान्फ्रेंसिंग (वीसी) के दौरान ओमिक्रोन को लेकर दिशा निर्देश जारी किए। कोरोना काल में जो गाइडलाइन जारी की गई थी, उनका रिव्यू करते हुए इस में ढील न देने की बात कही।

कहा- दूसरी डोज सभी कर्मचारी लगवाएं, तीसरी डोज के निर्देश की पालना भी करें

जोन में सभी मंडलों में कर्मचारियों व अधिकारियों के कोरोना वैक्‍सीन की डोज लेने के बारे में  भी चर्चा हुई। 90 प्रतिशत कर्मचारियों व अधिकारियों ने कोरोना वैक्‍सीन की पहली डोज लगवाई है, जबकि दूसरी डोज महज 60 प्रतिशत कमर्चारियों और अधिकारियों ने ही लगवाई है। ऐसे में दूसरी डोज के लिए फोकस करने के निर्देश दिए हैं। बढ़ते खतरे को देखते हुए तीसरी बूस्टर डोज के निर्देश आते हैं, तो वह भी प्राथमिकता से लगवाई जाए। इसके लिए कर्मचारियों को जागरूक करने को कहा गया है।

पहले की तरह रिजर्वेशन फार्म पर यात्रियों को गंतव्य का पता भी देना होगा

इसी तरह रेलवे अस्पतालों में आक्सीजन प्लांट को भी दुरुस्त रखने के निर्देश दिए गए हैं और कहा गया है कि इसे रूटीन में चेक करते रहें, ताकि जरूरत पड़ने पर परेशानी न हो। इसके साथ ही निर्देश दिया गया क  यात्रियों को लेकर भी कोरोना गाइडलाइन की पालना की जाए।  कंप्यूटरीकृत आरक्षण टिकट बुक करवाते समय यात्री को अपने गंतव्य का पता भी देना होता है, इस नियम को भी अगले आदेशों तक लागू रखा जाएगा।

बता दें कि कोरोना का ग्राफ कम होने के कारण रेलवे ने स्पेशल दर्जे की ट्रेनों से जीरो हटाकर पहले की तरह कर दिया। हालांकि अभी लंबी दूरी की सभी ट्रेनों में टिकटों की अनरिजर्व टि¨क्टग सिस्टम (यूटीएस) नहीं की जा रही। हालांकि अब रेलवे के लिए यात्रियों को मास्क और शारीरिक दूरी जैसे नियमों की पालना करवाना चुनौती बना हुआ है, लेकिन फिर भी इसको लेकर भी दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। उधर, मंडल रेल प्रबंधक जीएम ¨सह ने बताया कि कोरोना के ओमिक्रोन वैरिएंट को लेकर रेलवे पूरी तरह से अलर्ट है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जो भी गाइडलाइन आएंगी, उनका समय पर पालन किया जाएगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.