मनोहर नगर वन योजना से मिलेगी प्राण वायु, करनाल में प्रदेश सरकार का सुरक्षित कदम

ओल्ड मुगल केनाल से कंबोपुरा तक सड़क किनारे पौधारोपण होगा।

प्रदेश सरकार ने प्राण वायु ऑक्सीजन यानि जंगल बढ़ाने पर भी जोर दिया है। ओल्ड मुगल केनाल से कंबोपुरा तक सड़क किनारे रोपे जाएंगे हजारों पौधे। योजना के तहत 40 हेक्टेयर जमीन पर संत-महापुरुषों के नाम से बनेंगे वन।

Anurag ShuklaMon, 10 May 2021 07:01 AM (IST)

करनाल, [यशपाल वर्मा]। कोरोना संक्रमण की रोकथाम व जीवन को सुरक्षित करने में प्रदेश सरकार अथक प्रयासरत है वहीं प्राण वायु ऑक्सीजन यानि जंगल बढ़ाने पर भी जोर दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल के प्रयास से शहर में ओल्ड मुगल केनाल से सेक्टर-4 कंबोपुरा तक कोरोना से जंग लड़ने को हजारों पौधे लगाए जाएंगे। अप-डाउन तकरीबन दस किलोमीटर में सड़क किनारे हैज बनाकर पौधारोपण किया जाएगा। मनोहर नगर वन योजना के तहत 40 हेक्टेयर जमीन पर नौ हिस्सों में पौधारोपण कर वन को संत-महापुरुषों का नाम दिया जाएगा। वन विभाग फिलहाल योजना की मंजूरी का इंतजार कर रहा है। 22 मई को काम शुरू होने की उम्मीद है।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

संक्रमण से बचाव को मददगार होंगे 18 हजार पौधे

मनोहर नगर वन योजना के तहत ओल्ड मुगल केनाल से कंबोपुरा तक तकरीबन पांच किलोमीटर में वन विभाग की 40 हेक्टेयर जमीन है। अप-डाउन सड़क किनारे हैज बाउंड्री बनाकर सुंदरीकरण के लिए हर्ब-सर्ब प्लांट्स लगाए जाएंगे। नींबू, मेहंदी, फ्लावर सहित अलग-अलग प्रजाति के पौधों को रौपा जाएगा। नौ हिस्सों में तकरीबन 18 हजार पौधे लगाने की योजना है। नीम, अर्जुन, नींबू, मेहंदी, करोंदा, तुलसी, नाग-दमन औषधीय पौधों सहित इमारती-फलदार अनेक प्रकार के पौधे जहां प्रकृति को स्वच्छ बनाएंगे वहीं कोरोना से बचाव में अहम भागीदारी निभाएंगे।

प्राकृतिक ऑक्सीजन का लेवल बढ़ाएंगे पौधे

कोरोना के दौरान ऑक्सीजन की महत्वता किसी से छिपी नहीं है। पिछले दिनों कल्पना चावला मेडिकल कालेज अस्पताल का मुआयना करने पहुंचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जंगल बढ़ाने पर भी जोर दिया है। उन्हीं के प्रयास से वन विभाग ने ऑक्सीजन उगलने वाले पौधे लगाने पर जोर दिया है। इनमें प्रेयर, स्पाइडर, स्नेक प्लांट (संसबेरिया), पीस लिली, एरिका, सिफोटिया पाम के अलावा नीम, आम, अशोक हैं। जंगल प्रेमी प्रियंका, मोनिका, सुनीता ने बताया कि बीमार होकर ऑक्सीजन सिलेंडर लगवाने से अच्छा है कि गमले में पौधों के सहारे आक्सीजन लेवल बढाएं। एनडीआरआई रोड के दोनों तरफ सुंदरीकरण कर पांच हजार पौधे लगाना वन विभाग का सराहनीय कदम है। जंगल के दम पर ही ऑक्सीजन प्लांट लोगों को जिंदगी दे रहे हैं। वन विभाग की मनोहर नगर वन योजना शहरवासियों को संक्रमण से बचाव में लाभकारी होगी।

कोरोना संक्रमण से लड़ने को कारगर हरियाली : रंगा

जिला वन अधिकारी नरेश कुमार रंगा ने बताया कि मनोहर नगर वन योजना के तहत ओल्ड मुगल केनाल से सेक्टर-4 कंबोपुरा तक सड़क के दोनों तरफ हैज बनाकर करीब 18 हजार पौधे लगाए जाएंगे। योजना के तहत नौ हिस्सों में अलग-अलग प्रजाति के पौधे लगाकर वन को संत-महापुरुषों व शख्सियतों का नाम दिया जाएगा। योजना सिरे चढ़ाने के लिए 40 हेक्टेयर जमीन चयनित कर प्रोजेक्ट को एप्रूवल के लिए भेजा है। पौधारोपण अभियान के तहत एक साल पहले गीता द्वार से एनडीआरआई चौक तक सड़क के दोनों तरफ पांच हजार पौधे लगाए गए जो बड़े होने के साथ-साथ कोरोना संक्रमण से लड़ने को स्वच्छ ऑक्सीजन दे रहे हैं। कोरोना महामारी के दौरान पौधे अहम भूमिका निभा रहे हैं। प्रत्येक नागरिक घराें में ऑक्सीजन देने वाले पौधे लगाए ताकि जीवन सुरक्षित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.