शहीद चंद्रशेखर आजाद के भतीजे ने कंगना पर साधा निशान, बोले- कंगना ने शहीदों का किया अपमान

शहीद चंद्रशेखर आजाद के भतीजे पंडित सुजीत आजाद ने कंगना के बयान की निंदा की है। उन्‍होंने कहा कि कंगना ने शहीदों का अपमान किया। कंगना से पदमश्री पुरस्कार वापस लेकर करें गिरफ्तारी। कंगना ने 2014 से आजादी का बयान दिया था।

Anurag ShuklaTue, 23 Nov 2021 04:57 PM (IST)
कंगना रनौत के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग।

जींद, जागरण संवाददाता। शहीद चंद्रशेखर आजाद के भतीजे एवं हिंदू रिपब्लिकन आर्मी के अध्यक्ष पंडित सुजीत आजाद ने केंद्र सरकार से मांग की है कि देश आजाद कराने वाले शहीदों का अपमान करने पर विवादित ब्यान देने वाली अभिनेत्री कंगना रनौत को तुरंत गिरफ्तार करके मृत्युदंड दिया जाए। बता दें कि रनौत ने कहा कि देश को असली आजादी 1947 में नहीं, 2014 में मिली है।

सोमवार को जींद पहुंचे पंडित सुजीत आजाद ने कहा कि इससे बड़ा दुर्भाग्य क्या होगा कि एक अभिनेत्री शहीदों का अपमान करती हैं और सरकार चुपचाप बैठे रहती है। न राष्ट्रद्रोह का मुकद्दमा दर्ज होता है और न उनकी गिरफ्तारी होती है। इससे स्पष्ट है कि रनौत ने सरकार के इशारे पर ही यह बयान दिया है। उनकी मांग है कि केंद्र सरकार तुरंत नर्तकी से पदमश्री अवार्ड छीनकर गिरफ्तार करे अन्यथा एक माह बाद देश के सभी 28 राज्यों में आंदोलन चलेगा। इस आंदोलन की बागडोर युवाओं के हाथों में होगी, जिसे रोकना सरकार के बस की बात नहीं होगी।

इस वजह से जींद आए थे पंडित सुजीत आजाद

जींद में गोहाना बाईपास चौक के नजदीक वरदान अस्पताल की निदेशक एवं समाजसेवी मीना शर्मा द्वारा आयोजित अभिनंदन समारोह में पहुंचे पंडित आजाद ने कहा कि भविष्य में कोई ऐसा दुस्साहस ना कर सकें, इसके लिए केंद्र सरकार को ऐसे विवादित ब्यान देने वालों पर कठोर कार्रवाई करनी जरूरी है। इस मौके पर श्री लज्जाराम आश्रम के अध्यक्ष राजेश स्वरूप शास्त्री, जयंती देवी मंदिर के पुजारी नवीन शास्त्री, सुरेंद्र शर्मा, हीरानंद शर्मा, अनिल तुषीर, रघुनंदन, सुरेंद्र, ओमनारायण शास्त्री, सोनू घोघड़िया, रघुबीर भारद्वाज, संजीव आशरी, राजेंद्र कौशिक, बीरेंद्र खर्ब, विशाल ग्रेवाल, भीष्म वशिष्ठ, धर्मबीर पिंडारा, राकेश वत्स, डा. अनिता, विजय सचदेवा, राम सुनेजा, उदिता वत्स, सागर कौशिक सहित अनेकों समाजसेवी एवं संगठनों से जुड़े लोग मौजूद थे। मीना शर्मा ने सुजीत आजाद को स्मृति चिन्ह भेंट कर उनके परिवार को देश का गौरव बताया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.