इंडिया एक्सपो सेंटर में पानीपत से भी पहुंचे निर्माता, मेक इन इंडिया का सपना होगा साकार

पानीपत से शामिल हो रहे निर्यातकों का कहना है जिस तरह विदेश में उनके उत्पाद बिकते हैं ठीक उसी तरह देश में भी यह बिक सकते हैं। कुछ रिटेल चेन में बाथमैट दरियां पहुंचाई जा रही हैं। भारत में इस तरह की प्रदर्शनी से मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट आगे बढ़ेगा।

Naveen DalalSun, 28 Nov 2021 09:45 PM (IST)
इंडिया एक्सपो सेंटर में 40 से 45 हजार ग्राहकों की भागीदारी का लक्ष्य रखा गया।

पानीपत, जागरण संवाददाता। होम टेक्सटाइल होम डेकोर गिफ्ट एंड हाउसवेयर (एचजीएच) इंडिया की ओर से ग्रेटर नोएडा के इंडिया एक्सपो सेंटर में हस्तनिर्मित उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई जा रही है। यह प्रदर्शनी 30 नवंबर से तीन दिसंबर तक लगेगी। दसवीं प्रदर्शनी को लेकर हस्तनिर्मित उत्पादकों में उत्साह है। दरअसल, कोरोना की वजह से इस तरह की प्रदर्शनी नहीं लग रही थीं। यहां तक की जर्मनी का एक फेयर भी रद हो चुका है। भारत में इस प्रदर्शनी में शामिल होने के लिए पानीपत से भी टेक्सटाइल निर्यातक पहुंचे हैं।

एचजीएच इंडिया के रीजनल डायरेक्टर शिवकुमार गुप्ता ने जागरण को बताया कि प्रदर्शनी में कालीन उत्पादकों के साथ विभिन्न घरेलू सामानों का उत्पादन करने वाले व्यवसायियों ने पंजीकरण कराया है। देश के पांच सौ शहरों के बड़े खरीदारों को प्रदर्शनी में आमंत्रित किया गया है। 40 से 45 हजार ग्राहकों की भागीदारी का लक्ष्य रखा गया है।

दो साल बाद प्रदर्शनी

यह प्रदर्शनी दो साल बाद लगने जा रही है। पानीपत से शामिल हो रहे निर्यातकों का कहना है कि जिस तरह विदेश में उनके उत्पाद बिकते हैं, ठीक उसी तरह देश में भी यह बिक सकते हैं। कुछ रिटेल चेन में बाथमैट, दरियां पहुंचाई जा रही हैं। भारत में इस तरह की प्रदर्शनी से मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट आगे बढ़ेगा।

पानीपत से ये बड़े ग्रुप शामिल

पैन ओवरसीज, सुजाता फैब्स, मैसपर, बी एमोर और होम स्कैब। मैसमर के राजेश महाजन ने जागरण से बातचीत में कहा कि पहले मुंबई में यह प्रदर्शनी लगती थी। इस बार ग्रेटर नोएडा में लग रही है। स्थानीय कारोबारियों के लिए यह बड़ा अवसर लेकर आती है। दूसरे देशों के लिए भारत एक बड़ा बाजार है। भारत के ही कारोबारी अगर भारत में अपना उत्पाद बेचेंगे तो ज्यादा आर्थिक विकास होगा, क्योंकि देश का पैसा देश में ही रहेगा।

केवल निर्माता और खरीदारों के लिए

यह एक्सपेा केवल निर्माताओं और खरीदारों के लिए लगाया गया है। यानी, आम लोग अगर एक्सपो में जाएंगे तो उन्हें प्रवेश नहीं मिलेगा। इसके लिए पहले पंजीकरण कराना होगा। यह बताना होगा कि आप खरीदार हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.