कांग्रेस प्रदेशाध्‍यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा, विपक्ष की बात दबाने के लिए सरकार अपना रही हथकंडे

कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार विपक्ष की बात दबाने के लिए नए नए हथकंडे अपना रही है। सरकार अपनी कारगुजारियां छिपाने के लिए संसद में विपक्ष के नेताओं को बात तक नहीं रखने देती।

Rajesh KumarWed, 01 Dec 2021 09:25 PM (IST)
करनाल में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा।

करनाल, जागरण संवाददाता। करनाल में कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा ने कहा कि केंद्र सरकार लोकतंत्र का निरादर कर रही है। तीनों कृषि कानून विपक्ष या किसानों के साथ बिना चर्चा किए जबरन थोप दिए गए और अब जब कानून वापस लिए गए, तब भी सरकार ने विपक्ष से चर्चा करना जरूरी नहीं समझा। आंदोलन के दौरान दिवंगत किसानों की मौत पर प्रधानमंत्री ने दुख तक प्रकट नहीं किया। संसद में विपक्ष की बात दबाने के लिए सरकार सारे हथकंडे अपना रही है। संसद में होने वाली चर्चा को देश-दुनिया के लोग देखते हैं। सरकार अपनी कारगुजारियां छिपाने के लिए संसद में विपक्ष के नेताओं को बात तक नहीं रखने देती।

कुमारी सैलजा ने जताया शोक

कुमारी सैलजा कांग्रेस नेता अरूण पंजाबी की दादी व कपड़ा मार्केट के प्रधान योगेश भुगरा की माता ईश्वर देवी के निधन पर शोक व्यक्त करने उनके निवास पर पहुंची थीं। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश की भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार नौकरियों की खरीद-फरोख्त के घोटाले से लोगों का ध्यान भटकाने का काम कर रही है। मौजूदा सरकार नहीं चाहती कि नौकरी खरीद-फरोख्त घोटाले की निष्पक्ष जांच हो। मुख्यमंत्री मनोहर लाल का कहना है कि उनके शासन में हुई 85 हजार भर्तियों की जांच संभव नहीं है। साफ है कि सरकार महाघोटाले को छिपाने में लगी है।

नौकरी दिलाने के पैकेज बेचे गए

सैलजा ने कहा कि मौजूदा भर्ती घोटाले से साफ है कि पेपर पास कराने से लेकर नौकरी दिलाने तक के पूरे के पूरे पैकेज बेचे गए। कोई भी तीन आदमी मिलकर इतना बड़ा घोटाला नहीं कर सकते। नौकरियों की खरीद-फरोख्त में बड़े सफेदपोशों का भी साथ है। सरकार घोटालों का सच सामने लाने की हिम्मत रखती है तो कड़े कदम उठाए। अरूण पंजाबी, योगेश भुगरा, पूर्व विधायक रीसाल सिंह, पूर्व विधायक बनता राम वाल्मीकि, नवजोत कश्यप, ललित बुटाना, राजिंदर बल्ला, राजिंदर कल्याण, गोपाल कृष्ण सहोत्रा, जीतराम कश्यप, व्यापार मंडल के प्रधान कृष्णलाल तनेजा मौजूद रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.