top menutop menutop menu

अभया चौटाला ने कहा, मेरे पास 30 एमएलए होते तो सरकार ना गिरा देता

पानीपत/कैथल, [पंकज आत्रेय]। इनेलो के विधायक पूर्व नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने बरौदा उपचुनाव को लेकर तैयार हो रहे वातावरण में भाजपा के साथ-साथ कांग्रेस और जजपा को भी घेरने को प्रयास किया। अभय कैथल में इनेलो जिला कार्यालय का उद्घाटन करने पहुंचे थे। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के एक बयान पर उन्होंने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, अगर मेरे पास 30 एमएलए होते तो मैं 100 फीसदी सरकार गिरा देता। भूपेंद्र सिंह हुड्डा की मंशा ठीक नहीं है। मुख्यमंत्री कह रहे हैं वही जीतेंगे, हुड्डा कह रहे हैं वह जीतेंगे। लेकिन दोनों में से बरोदा से कोई नहीं लड़ेगा। राज्यसभा में ही जब कांग्रेस ने तीसरा उम्मीदवार नहीं उतारा। भाजपा की बी टीम कांग्रेस है। भाजपा ने सुभाष चंद्रा का एहसान उतारने के लिए दीपेंद्र हुड्डा को बनवाया। चौटाला ने कहा कि सरकार तो भूपेंद्र सिंह हुड्डा ही चला रहे हैं। अगर भूपेंंद्र सिंह हुड्डा यह सरकार गिराना चाहते हैं तो वे ईमानदारी से आगे बढ़ें। वे जिस दिन अपनी नीयत साफ करके इस काम में जुट जाएंगे तो फिर मैं भी सरकार गिराने में उनकी मदद कर दूंगा। 

अभय ने जजपा पर हमला बोलते हुए कहा, इस पार्टी के दो या तीन एमएलए ही ऐसे होंगे, जो सरकार के साथ रहना चाहते हैं। उनसे सरकार के पक्ष में बयान तो दिलवा सकते हैं, लेकिन मैंने सारे टटोल लिए हैं। सब खफा हैं। पिछले दिनों खुद भाजपा के एमएलए रो रहे थे कि उनकी तो तहसीलदार भी नहीं सुनता।

मुझे लोग गोली देने वाला कहते हैं

अभय चौटाला ने कहा कि लोग तो हमें गोली देने वाला कहते हैं। उन्हें (जजपा) को तो कहते हैं कि वह मिठी गोली देते हैं और मैं खारी देता हूं। फिर मैंने उनसे सवाल किया कि उनकी मिठी अच्छी है या फिर खारी। मेरे वाली को अच्छी बताकर ही जजपा में गए लोग बड़ी संख्या में घर वापसी कर रहे हैं।

अभय चौटाला ने किया इनेलो जिला कार्यालय का उद्घाटन

इनेलो नेता अभय चौटाला ने मंगलवार सांय लघु सचिवालय के निकट पार्टी के जिला कार्यालय का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा, विधानसभा सत्र में ऐसे मुद्दे उठाऊंगा कि पिछली बार तो एकाध बोलने को खड़ा हो जाता था, इस बार इनकी जाड़ ङ्क्षभचवा दूंगा। इनेलो के किसी कार्यक्रम में लंबे समय बाद अच्छी खासी भीड़ उमड़ी नजर आई। यहां न तो शारीरिक दूरी का नियम दिखा और न ही मास्क की अनिवार्यता का। 

जिला अध्यक्ष राजा राम माजरा की मौजूदगी में जिला कार्यालय के शुभारंभ के बाद अभय चौटाला ने कहा कि हमारी बड़ी जिम्मेदारी बनती है कि हमें आपस में जातियों में बंटने की बजाय किसान को एकजुट करना पड़ेगा। अगर किसान एक होकर अपनी लड़ाई नहीं लड़ेगा तो ये सरकार इन्हें मारने में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। 

इनेलो नेता ने कहा कि अमेरिका जैसे देशों में इस महामारी से लडऩे के लिए सरकार अपने नागरिकों के खाते में दो हजार डॉलर डालकर उनकी मदद कर रही है और यहां प्रदेश की गठबंधन सरकार नागरिकों से ही पैसे मांग रही है। वर्ष 1987 में चौधरी देवी लाल ने प्रोत्साहन स्वरूप गरीब के बच्चे को एक रुपया देने का काम किया था ताकि बच्चा अच्छी शिक्षा लेकर नौकर लग सके। पर विडंबना है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री बच्चों से पांच-पांच रुपये व किसानों से पांच किलो गेहूं कोरोना महामारी से लडऩे के लिए मांग रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि बरोदा उपचुनाव भी आने वाला है, सभी कार्यकर्ताओं से आह्वान करते हुए कहा कि जिन-जिन की रिश्तेदारियां या जान-पहचान इस हलके में हैं, वो उनसे संपर्क कर इस सरकार की पोल खोलने का काम करें व इनेलो उम्मीदवार को जिताने में भरपूर सहयोग करें। इस पर जनसमूह ने हाथ खड़ा कर सहमति जताई। 

इस अवसर पर अशोक जैन, शशिभूषण वालिया, जसमेर तितरम, जिलाध्यक्ष अनिल तंवर, राममेहर खुराना, पवन ढुल, मोनी बालू, प्रदीप सिंहमार, संजीव छौत, कुलदीप माजरा, रणबीर फौजी, बलकार नैन, रामप्रकाश गोगी, हन्नी वालिया, भूपेंद्र जैलदार मौजूद थे।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.