Haryana weather update: पांच दिन हरियाणा में बरसेगा मानसून, जानिये अगस्त में कैसा रहेगा मौसम

हरियाणा में मानसून मेहरबान रहा है। जुलाई में 65 फीसद सरप्लस बारिश हुई है। सिर्फ सिरसा अंबाला पंचकूला व फरीदाबाद में सामान्य से कम बरसात दर्ज की गई है। पांच अगस्त तक प्रदेश में सावन की रिमझिम की संभावना है।

Umesh KdhyaniSun, 01 Aug 2021 11:55 AM (IST)
हरियाणा में अगस्त में भी मानसून मेहरबान रहेगा।

प्रदीप शर्मा, करनाल। हरियाणा में जुलाई माह में ताबड़तोड़ बरसात हुई है। जुलाई में पूरे प्रदेश में 256.7 मिलीमीटर बरसात हुई है, जबकि 155.3 सामान्य मानी गई है। यानि आधे से ज्यादा मानसून जुलाई में बरस चुका है। जबकि प्रदेश में पूरे मानसून की बरसात पर गौर किया जाए तो 306.2 मिलीमीटर हो चुकी है, जोकि सामान्य से 51 प्रतिशत अधिक है।

इस समय मानसून टर्फ का पश्चिमी छोर अपनी सामान्य स्थिति के दक्षिण में है। इसके कारण, दिल्ली, पंजाब के साथ-साथ हरियाणा में भी कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बरसात का सिलिसला शुरू हो चुका है। बरसात की ये गतिविधियां प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में तीन से चार दिनों तक देखने को मिल सकती हैं। मौसम विभाग ने संभावना जताई है कि अगस्त माह में भी प्रदेशभर में मानसून मेहरबान रह सकता है। इस समय जो मौसम की परिस्थितियां बनी हुई हैं वह बरसात के अनुकूल बनी हुई हैं।

प्रदेश में महज चार जिलों में औसत से कम बरसात

जुलाई माह में प्रदेश के तीन जिलों सिरसा, पंचकुला व फरीदाबाद में औसत से कम बरसात दर्ज की गई है। मौसम विभाग के मुताबिक सिरसा में जुलाई माह में 89.1 एमएम बरसात होनी चाहिए थी, लेकिन उसके विपरित यहां महज 60.9 एमएम ही बरसात हो पाई है। जोकि सामान्य से 32 प्रतिशत कम है। इसी प्रकार पंचकूला में 317.8 एमएम बरसात होनी चाहिए थी, लेकिन महज 175.1 एमएम ही हो पाई, जोकि सामान्य से 45 प्रतिशत कम आंकी गई है। वहीं फरीदाबाद में 190.1 एमएम बरसात होनी चाहिए थी, लेकिन 161.5 एमएम बरसात दर्ज की गई है। फरीदाबाद निर्धारित बरसात के आंकड़े के नजदीक जरूर गया है, लेकिन आंकड़ा 15 प्रतिशत कम रह गया। बाकी अन्य जिलों में सरप्लस बरसात दर्ज की गई है। अंबाला में भी सामान्य से 16 प्रतिशत कम बरसात दर्ज की गई है।

जुलाई माह में किस जिले में कितना बरसा मानसून

जिले का नाम                 कितने फीसद अधिक हुई

फतेहाबाद                     174 फीसद

हिसार                           105

जींद                             127

कैथल                            185

कुरुक्षेत्र                          70

करनाल                          108

पानीपत                           83

सोनीपत                          86

रोहतक                           44

झज्जर                             190

गुरुग्राम                            112

रेवाड़ी                              116

महेंद्रगढ़                            90

पलवल                              58

मेवात                                446

भिवानी                              19

यमुनानगर                          13

(नोट : यह आंकड़े मौसम विभाग की ओर से जारी किए गए हैं।)

आगे ऐसा रहेगा हरियाणा का मौसम

मानसून की सक्रियता बरकरार रहेगी। हालांकि प्रदेश में तेज बरसात की बजाय छिटपुट बरसात का सिलसिला चार से पांच अगस्त तक जारी रह सकता है।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.