Haryana Politics: विधायक प्रमोद विज अब क्यों नगर निगम में सक्रिय हो गए, पहले पीछे हट जाते थे

भाजपा के विधायक ने लगातार दो दिन नगर निगम के अधिकारियों के साथ बैठक की। नगर निगम में भ्रष्टाचार के मामले पकड़े। फाइलों का रिकार्ड उन्हें ही नहीं मिला। लोगों ने सवाल उठा तोए विज सक्रिय होने लगे।

Rajesh KumarSun, 19 Sep 2021 10:05 AM (IST)
पानीपत शहर से भाजपा विधायक प्रमोद विज।

पानीपत, जागरण संवाददाता। शहर से भाजपा के विधायक हैं प्रमोद विज। शहर के विकास के लिए बड़े प्रोजेक्ट में बारे में सोचते हैं। जीटी रोड को सनौली रोड, गोहाना रोड से कनेक्ट करने की योजना है। असंध रोड और गोहाना रोड को फोरलेन करवा रहे हैं। बस स्टैंड को फ्लाईओवर से कनेक्ट करना चाहते हैं। लेकिन इन सबके बीच नगर निगम का मसला उठता है तो कहने लगते कि उनका नगर निगम से कोई संबंध नहीं। नगर निगम को मेयर अवनीत कौर संभालें। नगर निगम के पार्षद अपने वार्ड को संभालें। लेकिन अब विधायक एकाएक नगर निगम में हालात सुधारने के लिए सक्रिय हो गए हैं। लगातार दो दिन तक नगर निगम के अधिकारियों के साथ बैठक की।

नगर निगम अधिकारियों के साथ बैठक करते प्रमोद विज

शहर का एक सबसे बड़ा मुद्दा बन चुका है प्रापर्टी आइडी का मामला। आम लोग प्रापर्टी आइडी बनवाने के लिए पहुंचते हैं। हालात ये हैं कि नगर निगम से फाइलें ही लापता हो जाती हैं। फाइल देकर लोग आते हैं, दोबारा आते हैं तो उन्हें कहा जाता है कि फाइल गुम हो गई। और इसी कारण नगर निगम में दलाल सक्रिय होते जा रहे हैं। हजारों रुपये दलाल को दिए जाते हैं। काम नहीं होने पर लोग नगर निगम को तो कोसते ही हैं, साथ ही जनप्रतिनिधियों पर भी सवाल उठाते हैं। लोग ये नहीं समझते कि ये मामला मेयर का है या विधायक का। वे तो ये कहते हैं कि क्या विधायक प्रमोद विज ने नगर निगम एरिया में वोट हासिल नहीं किए। क्या विधायक की जिम्मेदारी नहीं है कि वो नगर निगम को भी देखें। क्योंकि जितना वह मुख्यमंत्री मनोहरलाल व प्रदेश के गृहमंत्री अनिल विज के माध्यम से सुधार करवा सकते हैं, दूसरे नेता नहीं करवा सकते।

विज की रैंकिंग गिरने लगी थी

नगर निगम में भ्रष्टाचार बढ़ने, लोगों के काम नहीं होने पर मेयर के साथ प्रमोद विज की भी रैंकिंग गिरने लगी है। लोगों का कहना है कि विज को हालात संभालने चाहिए। उनके कार्यालय में पहुंचकर पार्षद तक उनसे समाधान के लिए कहते हैं। यही वजह है कि प्रापर्टी आइडी मामले में जांच करने पहुंचे विधायक के साथ पार्षद पति विजय सहगल भी थे। वह बार-बार उनके कान में कुछ कहते। तब विज सवाल पूछते।

मेयर को मिली तवज्जो, विज सक्रिय हुए

कुछ दिन पहले मेयर अवनीत कौर चंडीगढ़ में मुख्यमंत्री मनोहरलाल से मिलने पहुंची। दरअसल, मुख्यमंत्री ने हरियाणा के सभी मेयर के साथ बैठक की थी। मेयर ने काफी सवाल उठाए। पानीपत के मुद्दों को जोरदार तरीके से उठाया। राजनीतिक हलकों में चर्चा है कि मेयर को तवज्जो मिली, सक्रिय हुईं तो प्रमोद विज भी नगर निगम में एकाएक जांच करने पहुंच गए। वैसे देखा जाए तो विधायक विज के सक्रिय होने से आम लोगों को राहत ही मिलेगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.