हरियाणा पुलिस कांस्टेबल भर्ती पेपर लीक मामले से उठा पर्दा, ऐसे लीक किया गया था पेपर

हरियाणा पुलिस कांस्टेबल भर्ती पेपर लीक प्रकरण का पर्दाफाश हो गया है। इसके तार पुलवामा से जुड़े थे। एसआइटी कैथल की टीम ने जम्मू से तीन युवकों को पकड़ा है। अब कारगिल अनंतनाग उदयपुर और श्रीनगर में छापामारी की जाएगी।

Umesh KdhyaniTue, 24 Aug 2021 06:15 AM (IST)
श्रीनगर के ओल्ड छानपुर की दूधगंगा कालोनी का एजाज अमीन उर्फ मोहम्मद अमीन मुख्य आरोपित है।

पंकज आत्रेय, कैथल। कांस्टेबल भर्ती परीक्षा पेपर लीक प्रकरण के मामले में कैथल पुलिस की एसआइटी को बड़ी सफलता मिली है। खुलासा हुआ है कि यह पेपर जम्मू-कश्मीर के पुलवामा की एक प्रेस में छपा था और इसी प्रेस के कंप्यूटर से पैन ड्राइव में लिया गया था।

एसआइटी ने पेपर लीक करने वाले मुख्य आरोपित श्रीनगर के ओल्ड छानपुर की दूधगंगा कालोनी निवासी एजाज अमीन उर्फ मोहम्मद अमीन को गिरफ्तार किया है। उसके दो साथी डोडा जिला की भाला तहसील के गांव सिंधरा निवासी जितेंद्र कुमार और जम्मू के अपर गाड़ीगढ़ महाकाली नगर निवासी राकेश कुमार चौधरी को भी पकड़ लिया गया है। जितेंद्र ने कंप्यूटर से यह पेपर पैन ड्राइव में लिया था। इन्हें जम्मू के टिल्लो तालाब गुरुद्वारा के पास से गिफ्तार किया गया है। इन तीनों को एसआइटी ने अदालत में पेश कर 12 दिन के रिमांड पर लिया है।

हिसार के राजकुमार के एजाज से पुराने संबंध

हिसार के खांडा खेड़ी निवासी राजकुमार उर्फ राजू और एजाज अमीन के संबंध पुराने हैं। ये दोनों सालों पहले जम्मू से जेबीटी कोर्स करवाया करते थे। एजाज अमीन जम्मू में अपनी एक एकेडमी चलाता है। पुलिस ने हालांकि एजाज अमीन को पेपर लीक प्रकरण का मुख्य आरोपित बताया है, लेकिन इसमें एक और नाम मुजफ्फर अहमद सामने आया है।

मुजफ्फर अहमद ने की थी पेपर निकालने में मदद

यह माना जा रहा है कि मुजफ्फर अहमद को पुलवामा की प्रेस की जानकारी थी। उसी ने जितेंद्र, एजाज अमीन और राकेश को पेपर निकालने में मदद की। बताया जा रहा है कि मुजफ्फर अहमद पुलिस की पकड़ में आते-आते निकल गया। बता दें कि सात अगस्त को पेपर लीक प्रकरण सामने आने के बाद अभी तक कुल 28 गिरफ्तारी हो चुकी हैं। इनमें जम्मू-कश्मीर के चार आरोपित शामिल हैं।

एजाज अमीन की स्टेटमेंट

पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में एजाज अमीन (43) ने बताया कि एक अन्य आरोपित अफजल ने उसको पेपर रद होने के बाद आठ अगस्त को सुबह और शाम में होने वाली परीक्षा के दो सेट और आंसर-की वापस कर दी। यह दोनों सेट और आंसर-की उसने अपनी पत्नी हलीमा के पैतृक गांव उधमपुर (जम्मू) में छिपा रखा है। पुलिस ने एजाज के दो मोबाइल कब्जे में लिए हैं, जो आगे इस पूरे प्रकरण में कई खुलासे करने में अहम कड़ी होंगे।

राकेश कुमार की स्टेटमेंट

आरोपित राकेश कुमार (30) ने पुलिस को बताया है कि उसने एजाज अमीन के साथ मिलकर पैन ड्राइव से पेपर और आंसर-की जितेंद्र कुमार से लिया था। यह पैन ड्राइव कारगिल में एक कमरे में छिपा रखी है। राकेश कुमार चौधरी मूलरूप से पश्चिम बंगाल के चिनसुरा हुगली के रविंद्र नगर का रहने वाला है, जो हाल में जम्मू में रहता है।

जितेंद्र कुमार की स्टेटमेंट

जितेंद्र कुमार (30) ने पुलिस को दी स्टेटमेंट में बताया है कि उसने ही कंप्यूटर से पेपर व आंसर-की कापी किए थे। उस कंप्यूटर की हार्ड डिस्क को निकालकर एक अन्य आरोपित अनंतनाग निवासी यूसूफ के मकान में छिपा कर रखा गया है। वह उसके घर से हार्ड डिस्क को रिकवर करवा सकता है।

यह सब रिकवर करना है

पकड़े गए तीनों आरोपितों के बयानों के आधार पर पुलिस ने कई चीजों की रिकवरी के लिए अदालत ने इनका 12 दिन का रिमांड हासिल किया है। पुलिस को अब कारगिल से पैन ड्राइव, अनंतनाग से कंप्यूटर की हार्ड डिस्क, उधमपुर से आठ अगस्त को होने वाले दोनों पेपरों के दो सेट व आसंर-की रिकवर करनी है। साथ ही जम्मू एयरपोर्ट और श्रीनगर में कई स्थानों की पहचान करनी है। वांछित आरोपित मुजफ्फर अहमद के ठिकानों किश्तवाड़ा और श्रीनगर में रेड की जानी है।

कैथल पुलिस अब तक 28 को कर चुकी गिरफ्तार

एसपी कैथल लोकेंद्र सिंह ने कहा कि सिपाही भर्ती पेपर लीक मामले में कैथल पुलिस ने जम्मू निवासी मुख्यारोपित सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। तीनों आरोपितों का दो दिन का राहदारी रिमांड हासिल करके कैथल लाया गया और अदालत में पेश किया गया। जहां से व्यापक पूछताछ के लिए और 10 दिन का रिमांड हासिल किया गया है। इस मामले में पुलिस द्वारा अब तक कुल 28 आरोपित गिरफतार किए जा चुके हैं।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.