जींद के लिए खुशखबरी, पेगां गांव में 8 करोड़ की लागत से 5 एकड़ में बनेगा ITI

जींद के पेगां गांव में आठ करोड़ की लागत से पांच एकड़ में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान बनेगा। हरियाणा सीएम मनोहर लाल ने चार पहले जींद-कैथल मार्ग पर पेगां गांव में आइटीआइ औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान बनाने की घोषणा की थी।

Anurag ShuklaPublish:Wed, 24 Nov 2021 05:49 PM (IST) Updated:Wed, 24 Nov 2021 05:49 PM (IST)
जींद के लिए खुशखबरी, पेगां गांव में 8 करोड़ की लागत से 5 एकड़ में बनेगा ITI
जींद के लिए खुशखबरी, पेगां गांव में 8 करोड़ की लागत से 5 एकड़ में बनेगा ITI

अलेवा (जींद), संवाद सहयोगी। जींद-कैथल मार्ग पर गांव पेगां में आठ करोड़ की लागत से बनने वाले औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) का काम शुरू हो गया है। औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) बन जाने से आसपास के दर्जनों गांव के बच्चों को इसका फायदा मिलेगा। प्रदेश के मुख्यमंत्री ने जींद-कैथल मार्ग पर पेगां गांव में करीब चार वर्ष पूर्व करोड़ो रुपये की लागत से औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) बनाने की घोषणा की थी। मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) वाली जगह पर काम शुरू होने पर कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था।

औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) की घोषणा के शुरू से ग्रामीण विकास मंच पेगां के प्रधान सतपाल के नेतृत्व में ग्रामीणों का मामले को लेकर पत्राचार करने तथा अधिकारियों से मिलने का काम लगातार जारी था। गांव के लोगों के प्रयासों के चलते पेगां गांव में जींद-कैथल मार्ग पर बनने वाले औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) का काम शुरू हो गया है।

गांवों के बच्चों की होगी प्राथमिकता

ग्रामीण विकास मंच पेगां के प्रधान सतपाल पेगां ने बताया कि औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) बन जाने से गांव के बच्चों के लिए पांच सीटें आकर्षित होगी। जिसमें गांव के बच्चों को रोजगार उपलब्ध होंगे। गांव में बनने वाले औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) का भवन दो मंजिला होगा और जिसमें आठ ट्रेड आएंगी। सबसे बड़ी बात यह होगी कि अलेवा क्षेत्र में रोजगार के मामले में खुलने वाला एक मात्र संस्थान होगा।

आसपास के गांव के बच्चों को सीधा फायदा

अलेवा क्षेत्र में पहले इस प्रकार का संस्थान न होने के कारण यहां के बच्चों को जींद या फिर दूर के संस्थानों में रोजगार से संबधित पढ़ाई करने के लिए जाना पड़ता था। इससे बच्चों का समय बर्बाद होने के साथ-साथ धन की बर्बादी भी होती थी। अब पेगां गांव में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) बन जाने से सबसे ज्यादा फायदा आसपास के गांव के बच्चों को होगा। इसमें अलेवा, किठाना, थुआ, संडील, छात्तर, कटवाल, दुड़ाना, शामदों, खेड़ी बुल्ला समेत दर्जनों गांव सीधे रूप से इस संस्थान से जुड़ेंगे।

पेगां गांव में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) पर काम शुरू : एसडीओ

पीडब्ल्यूडी उचाना के एसडीओ संदीप सचदेवा ने बताया कि मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप पेगां गांव में जींद-कैथल मार्ग पर बनने वाले औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आइटीआइ) पर काम शुरू हो गया। जिस पर करीब आठ करोड़ रुपये की लागत आएगी। इसका मनमोहन मित्तल नामक ठेकेदार को ठेका दिया है। यह भवन डेढ़ साल में बनकर तैयार हो जाएगा। पांच एकड़ में बनने वाले इस संस्थान से आसपास के गांव के बच्चों को फायदा होगा।