Fraud: कुरुक्षेत्र में पैसा डबल करने के नाम पर धोखाधड़ी, चिकनी चुपड़ी बातों में फंसाकर ठगे लाखों

कुरुक्षेत्र में धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। जहां बदमाशों ने पहले एक व्यक्ति को चिकनी चुपड़ी बातों में फंसाया। फिर पैसा डबल करने के नाम पर लाखों का चुना लगाया। क्या है ये पूरा मामला जानने के लिए पढ़े ये रिपोर्ट...

Rajesh KumarPublish:Mon, 29 Nov 2021 03:39 PM (IST) Updated:Mon, 29 Nov 2021 03:39 PM (IST)
Fraud: कुरुक्षेत्र में पैसा डबल करने के नाम पर धोखाधड़ी, चिकनी चुपड़ी बातों में फंसाकर ठगे लाखों
Fraud: कुरुक्षेत्र में पैसा डबल करने के नाम पर धोखाधड़ी, चिकनी चुपड़ी बातों में फंसाकर ठगे लाखों

जागरण संवाददाता, कुरुक्षेत्र। कुरुक्षेत्र में पैसा डबल करने के नाम पर धोखाधड़ी का मामला सामने आया है।केयूके थाना पुलिस के अंतर्गत अज्ञात व्यक्ति ने चिकनी चुपड़ी बातें एक पैसे दोगुना करने का झांसा दिया और एक व्यक्ति से एक लाख 81 हजार रुपये ठग लिए। पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

ऐसे दिया घटना को अंजाम 

गांव किरमच निवासी राजेश कुमार ने केयूके थाना पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि उसकी बिरला मंदिर के समीप विंग वे एसोसिएट प्रोपराइटर कैथल की जनकपुर निवासी सतीश कुमार के साथ मुलाकात हुई थी। उसने उसे बताया कि उसकी विंग वे एसोसिएट कंपनी का मालिक है। उसकी कंपनी एक साल में पैसे दोगुने करने का काम करती है। उसकी कंपनी में पैसे लगा कर कई लोगों ने अपने पैसे दोगुने कर लिए हैं। वह उसकी बातों में आ गया। शिकायत में बताया कि  उसने अपने बैंक खाते से  उसके 10 फरवरी 2020 को 30 हजार रुपये, 11 फरवरी 2020 को 40 हजार रुपये, 20 फरवरी 2020 को 40 हजार रुपये व 24 फरवरी को एक हजार रुपये आरोपित के खाते में डाले थे। शिकायतकर्ता ने आरोपित को 70 हजार रुपये नकद दिए थे।

उसके लगभग एक साल बाद शिकायतकर्ता से मोबाइल पर संपर्क किया और पैसों के बारे में पूछा तो आरोपित उसके साथ टालमटोल करने लगा। कुछ दिन बाद आरोपित ने अपना मोबाइल बंद कर दिया। शिकायतकर्ता से जब आरोपित मिला तो उसने पैसे देने से इंकार कर दिया और धमकी दी कि उसकी काफी पहचान है। वह उसे झूठे केस में फंका कर अंदर करवा देगा। शिकायत में बताया कि उसने अपने तौर पर छानबीन की तो पया कि उपरोक्त कंपनी लोगों के साथ धोखाधड़ी करने का काम करती है। उसने कई लोगों के साथ धाेखाधड़ी की है। आरोपितों के संपर्क नंबर भी उसके पास हैं। इस बारे में उसने पहले भी पुलिस को शिकायत की थी। उसके साथ एक लाख 81 हजार रुपये की ठगी की गई है। आरोपित के खिलाफ कार्रवाई कर उसकी राशि दिलाई जाए। पुलिस ने शिकायत के आधार पर केस दर्ज कर जांच उपनिरीक्षक वजीर सिंह को सौंपी है। 

लालच में आकर न गवाएं अपनी मेहनत की कमाई : अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक 

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कर्ण गोयल ने आमजन से अपील की है कि लालच में आकर अपनी मेहनत की कमाई को न गवाएं। आजकल इंटरनेट मीडिया पर कई तरह के प्रभोलन दिए जा रहे हैं। लाटरी व पैसे दोगुने करने के नाम पर ठगी की जा रही है। ऐसे में जागरूक बने और सुरक्षित रहें।