ताश खेलते समय पहले हुई कहासुनी, फिर निगम कर्मी के पेट में मारी छुरी

अंबाला शहर में दो लोगों पर चाकू से हमला करने की वारदात सामने आई है।
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 07:45 PM (IST) Author: Manoj Kumar

अंबाला शहर। जरा, जरा सी बातों को लेकर लोग जानलेवा हमला करने पर उतारू हो जाते हैं। अंबाला में नगर निगम कर्मी एवं बकरा मंडी में रहने वाले रवि कुमार को मनमोहन नगर निवासी बब्बर ने पेट में छुरी मार दी। इससे वह बुरी तरह से घायल हो गया। घटना मनमोहन नगर गैस गोदाम रोड की है जबकि आरोपित घटना को अंजाम देने के बाद वहां से फरार हो गया। उधर घायल अवस्था में आसपास के लोगों ने ट्रामा पहुंचाया जहां प्राथमिक उपचार देने के बाद चंडीगढ़ 32 में रेफर कर दिया गया जहां पर घायल का इलाज चल रहा है। वहीं बलदेव नगर थाना पुलिस ने सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची और घायल के बयान दर्ज आरोपित बब्बर के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

ताश खेलते हुए झगड़ा

घायल रवि कुमार ने बताया कि 23 सितंबर को वह अपने दोस्त बकरा मंडी निवासी सुनील के साथ और आरोपित बब्बर तीनों मनमोहन नगर में रात को दस बजे ताश खेल रहे थे। ताश खेलते-खेलते अचानक बब्र उनसे गाली-गलौच करने लग जबकि उसे समझाया गया वह अभद्र भाषा का प्रयोग न करें। इसके बाद भी वह रूका नहीं और अभद्र भाषा का प्रयोग करता चला गया। इसी बात को लेकर उनमें कहासुनी हो गई जो झगड़े तक पहुंच गई। इसके बाद आरोपित बब्बर वहां से चला गया और अपने घर नुकीली छुरी लेकर आया और रवि के पेट में मार दी। इसके बाद रवि पेट पर हाथ पकड़ जमीन पर गिर गया। लेकिन बब्बर फिर से उसपर वार करने लगा तो दोस्त सुनील ने बीचबचाव किया तो उसे भी चोटें आई है। शोर की आवाज सुनकर आसपास के लोग वहां आए तो उन्हें देखकर आरोपित बब्बर वहां से फरार हो गया और जाते समय जान से मारने की धमकी दी है। इसके बाद लोगों की मदद से रवि को ट्रामा सेंटर पहुंचाया गया।

खाना खाकर गली में घूमने गए युवक से मारपीट के बाद पेट में घोंपा चाकू

अंबाला शहर : खाना खाकर गली में घूमने के लिए आए जींद हाउस निवासी अंकुश को छह युवकों ने घेर लिया। युवकों ने पहले उससे मारपीट की उसके बाद  पेट में चाकू घोंप कर फरार हो गए। चाकू लगने के बाद युवक बुरी तरह से घायल हो गया और लहूलुहान होकर जमीन पर गिर पड़ा। युवक द्वारा दर्द से चिल्लाने की आवाज सुनकर आसपास के लोग वहां आए और उसे ट्रामा सेंटर में पहुंचाया। जहां घायल का इलाज चल रहा है। घटना बुधवार देर रात 11 बजे की है। शहर थाना पुलिस ने मामले में छह आरोपित राजेश, गौरव, अर्जुन, छोटा, दप्पी व बोंदा के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

इस तरह से हुई घटना

पुलिस को दिए बयान में हंस राज ने बताया कि वह कपड़ा मार्केट में कास्मेटिक की दुकान पर काम करता है और उसका बड़ा भाई अंकुश शहर में कहीं भी मजदूरी कर लेता है। 23 सितंबर की रात 11 बजे अंकुश खाना खाने के बाद घर से बाहर घूमने के निकला था। जब वह घुमते हुए नदी मोहल्ले के  गोगा मंदिर के पास आर्य समाज मंदिर के पास पहुंचा तो छह युवकों ने मुंह पर कपड़ा लपेटा हुआ था जिन्होंने  उसे घेर  रखा था और बुरी तरह से डंडों से मारपीट कर रहे थे। आरोपित राजेश ने अपने हाथ में चाकू को अंकुश के पेट में घोंप दिया। दर्द से कहराते हुए वह जमीन पर गिर पड़ा और बचाने के लिए शोर मचाया। तभी आसपास के लोग वहां आने लगे तो सभी आरोपित उन्हें देखकर जान से मारने की धमकी देकर फरार हो गए।  इसके बाद भाई अंकुश को  लहूलुहान अवस्था में ट्रामा सेंटर पहुंचाया गया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.