Farmers Protest News: दिल्‍ली पटियाला मार्ग पर जाम, नरवाना पहुंच रहे करीब 10 से 12 हजार किसान

किसानों का दिल्ली की तरफ कूच का ऐलान।

किसानों का 11 बजे दिल्ली की तरफ कूच का ऐलान कर दिया गया। इसके साथ ही किसान पंजाब जींद बार्डर के अलावा गढ़ी और उझाना के बीच भी प्रशासन के द्वारा डाली गई मिट्टी को हटाकर आगे बढ़ गए हैं।

Publish Date:Fri, 27 Nov 2020 11:35 AM (IST) Author: Anurag Shukla

पानीपत/जींद, जेएनएन। दिल्ली-पटियाला मार्ग पर दातासिंहवाला बॉर्डर पर तीन दिन से डेरा जमाए बैठे पंजाब के किसानों ने आज दोपहर 11 बजे दिल्ली की तरफ कूच का ऐलान कर दिया। जींद पुलिस प्रशासन ने किसानों को रोकने के लिए बार्डर के अलावा गढ़ी और उझाना के बीच बैरिकैड्स लगाए हैं और सड़क पर मिट्टी डलवाई है। इसके बावजूद किसान आगे बढ़ गए। दिल्ली-पटियाला हाइवे पर 10 किलोमीटर लम्बा जाम लग गया है।  लगभग 10-20 हजार किसान दिल्‍ली के लिए निकल रहे हैं। गढ़ी और उझाना के बीच मे लगाए अवरोधक को पार कर नरवाना की काफ‍िला बढ़ रहा है। काफ‍िला बेलरखा गांव को पार कर चुका है। किसानों को शांति के साथ और अनुशासन में आगे बढ़ने की अपील की जा रही है।

वीरवार दोपहर को उग्र हो गए थे और किसानों ने पुलिस द्वारा मार्ग पर किए गए बैरिकैड्स को उखाड़ दिया था। पुलिस ने वाटर कैनन का प्रयोग करके किसानों को रोकना चाहा तो उन्होंने पथराव कर दिया था। किसान के उग्र तेवर को देखते हुए प्रशासनिक अमला पीछे हट गया। किसानों ने ट्रैक्टरों के माध्यम से बैरिकैड्स व मार्ग पर डाले गए भारी पत्थरों व मिट्टी को हटाकर रास्ता साफ कर दिया। इसके बाद प्रदर्शन में शामिल युवाओं ने प्रशासनिक अमले का पीछा करना शुरू कर दिया और डंडों आधा दर्जन गाड़ियों के शीशों को तोड़ दिया। इस दौरान पत्थर लगने से प्रशासनिक अमले में शामिल दो कर्मचारियों को मामूली चोट आई। पुलिस के पीछे हटने के बाद किसान शांत हो गए और बैरिकैड्स हटाकर उसकी जगह पर धरने पर बैठ गए। पथराव के दौरान दो एंबुलेंस, नायब तहसीलदार की गाड़ी, पुलिस की पीसीआर व दो दूसरे गाड़ियों के शीशे टूट गए थे।

पुलिस ने बनाया सुरक्षा चक्र

पंजाब के किसानों को दिल्ली की तरफ जाने के लिए जींद जिले से होकर गुजरना होगा। जींद प्रशासन द्वारा पंजाब के किसानों को दिल्ली की तरफ जाने से रोकने के लिए मजबूत सुरक्षा चक्र बनाया गया है। बार्डर से जींद के बीच सुरक्षा की चार लेयर हैं, जिन्हें भेदना किसानों के लिए आसान नहीं होगा।  

 

नरवाना की तरफ जाने वाला रूट डायवर्ट

जींद से नरवाना की तरफ जाने वाले रास्ते को बंद कर दिया गया है तो कैथल की तरफ से नरवाना, हिसार की तरफ से नरवाना का रूट डायवर्ट किया गया है। इन रूटों से आने वाले वाहन चालकों को लिंक मार्गों से होकर गुजरना होगा।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.