Education Department: नई शिक्षा नीति के अनुसार अपडेट नहीं होना चाहते प्रदेशभर के पीजीटी शिक्षक, विद्यार्थियों पर पड़ रहा असर

कुरुक्षेत्र में सरकारी और निजी स्कूलों में 1910 शिक्षक है। इनमें से 51 फीसद शिक्षकों ने स्कूल बेस्ड असाइनमेंट माड्यूल में अपना एनरोलमेंट भरा। वहीं इसमें 36 फीसद ने ही अपनी ट्रेनिंग पूरी की। इसके बाद इनिटेटिव इन स्कूल एजुकेशन माड्यूल में 43 फीसद शिक्षकों ने एनरोलमेंट भरा।

Naveen DalalSat, 04 Dec 2021 04:31 PM (IST)
टाय बेस्ड पेडागाजी माड्यूल में 32 फीसद शिक्षकों ने लिया भाग।

अनुज शर्मा, कुरुक्षेत्र। राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) हरियाणा प्रदेशभर के सरकारी व निजी स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षकों को निष्ठा प्रशिक्षण देकर नई शिक्षा नीति के अनुसार अपडेट करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है। लेकिन प्रदेशभर के पीजीटी शिक्षक अपने आपको नई शिक्षा नीति के अनुसार अपडेट नहीं करना चाहते। ऐसे में इसका प्रभाव स्कूलों में पढ़ रहे विद्यार्थियों पर पड़ रहा है।

इनिटेटिव इन स्कूल एजुकेशन माड्यूल में 33 फीसद शिक्षकों ने लिया भाग

बता दें कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से एससीईआरटी गुरुग्राम के तत्वावधान में प्रदेशभर के सरकारी व निजी स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षकों को निष्ठा (स्कूल प्रमुख और शिक्षक की समग्र उन्नति के लिए राष्ट्रीय पहल) ट्रेनिंग के माध्यम से अप टू डेट रखना चाहता है। जिससे शिक्षक बच्चों में किसी चीज को गहराई से सोचने की क्षमता विकसित कर सकें। वहीं इसका फायदा सरकारी व निजी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को मिल सकें। लेकिन एससीईआरटी गुरुग्राम की ओर से चल रही निष्ठा ट्रेनिंग में प्रदेशभर के शिक्षक कोई खास रूचि नहीं दिखा रहे है। जिसको देखते हुए एससीईआरटी गुरुग्राम ने अब निष्ठा ट्रेनिंग को आनलाइन की बजाय आफलाइन माध्यम से करवाने का निश्चय किया है। जिससे बच्चों को फायदा मिल सकें।

जिला कुरुक्षेत्र के मात्र 36 फीसद शिक्षकों ने ली ट्रेनिंग

विभाग के अनुसार जिला कुरुक्षेत्र में सरकारी व निजी स्कूलों में 1910 शिक्षक है। इनमें से 51 फीसद शिक्षकों ने स्कूल बेस्ड असाइनमेंट माड्यूल में अपना एनरोलमेंट भरा। वहीं इसमें 36 फीसद ने ही अपनी ट्रेनिंग पूरी की। इसके बाद इनिटेटिव इन स्कूल एजुकेशन माड्यूल में 43 फीसद शिक्षकों ने एनरोलमेंट भरा। वहीं इसमें 33 फीसद ने ही अपनी ट्रेनिंग पूरी की। इसके बाद टाय बेस्ड पेडागाजी माड्यूल में 41 फीसद शिक्षकों ने एनरोलमेंट भरा। वहीं इसमें 32 फीसद ने ही अपनी ट्रेनिंग पूरी की।

ये है निष्ठा ट्रेनिंग

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने देशभर के लाखों शिक्षकों को निशुल्क प्रशिक्षण देने के लिए निष्ठा योजना को शुरू करने का निर्णय लिया है। निष्ठाा योजना केंद्र सरकार की ओर से शुरू की गई राष्ट्रीय पहल है। सरकार ने स्कूलों में पढ़ा रहे शिक्षकों को एक खास प्रशिक्षण देने की बात है। जिससे शिक्षक अपने विद्यालयों में पढ़ रहे बच्चों को बेहतर शिक्षा प्रदान कर सकें।

स्कूल बेस्ड असाइनमेंट माड्यूल में 36 फीसद शिक्षकों ने लिया भाग

अभी पीजीटी शिक्षकों की निष्ठा ट्रेनिंग आनलाइन माध्यम से चल रही है। लेकिन उसमें शिक्षक रूचि नहीं दिखा रहे है। ऐसे में अब एससीईआरटी ने ट्रेनिंग को आफलाइन माध्यम से करवाने का निर्णय लिया है।

नमिता कौशिक, नोडल अधिकारी एवं प्राचार्या, डाइट, पलवल, कुरुक्षेत्र।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.