Dengue Alert: कैथल में बढ़ा डेंगू का खतरा, मिले तीन डेंगू के केस, स्वास्थ्य विभाग की टीम चलाया अभियान

जींद में मच्छरों के अनुकूल मौसम होते ही डेंगू के मामले बढ़ने लगे हैं। जिले में अब तक तीन डेंगू पाजिटिव मिल चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम शीतलपुरी कालोनी में पहुंची और डोर-टू-डोर अभियान चलाकर बुखार से पीड़ित लोगों के बारे में जानकारी ली।

Naveen DalalSun, 19 Sep 2021 07:07 AM (IST)
जींद में मच्छरों के अनुकूल मौसम होते ही बढ़ने लगा डेंगू का खतरा।

कैथल, जागरण संवाददाता। जींद में मच्छरों के अनुकूल मौसम होते ही डेंगू के मामले बढ़ने लगे हैं। जिले में अब तक तीन डेंगू पाजिटिव मिल चुके हैं। पिछले तीन दिन में जिले में डेंगू के दो मामले सामने आए हैं। तीन दिन पहले जहां पर नरवाना में डेंगू का मामला मिला था। अब शहर की शीतलपुरी कालोनी 19 वर्षीय युवक डेंगू पाजिटिव मिला है। डेंगू का मरीज मिलते ही स्वास्थ्य विभाग की टीम सक्रिय हो गई।

स्वास्थ्य विभाग ने चलाया अभियान

शनिवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम शीतलपुरी कालोनी में पहुंची और डोर-टू-डोर अभियान चलाकर बुखार से पीड़ित लोगों के बारे में जानकारी ली। जहां पर बुखार से पीड़ित मिले आठ लोगों के खून के नमूने लेकर जांच के लिए लैब भेज दिए। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने युवक के परिवार के लोगों के भी खून के सैंपल लिए गए। इस दौरान विभाग की टीम ने प्रत्येक घर में जाकर कूलर, पानी की टंकी की जांच की और लोगों से आह्वान किया कि वह सप्ताह में एक दिन कूलर के पानी को सुखाकर ही उसमें पानी भरें। स्वास्थ्य निरीक्षक राममेहर वर्मा के नेतृत्व में वाली टीम ने स्वास्थ्य कर्मियों को घर घर जाकर आम जनता को डेंगू, मलेरिया, व चिकनगुनिया बुखार के लक्षण, कारण व बचाव की जानकारी दी।

स्वास्थ्य निरीक्षक राममेहर वर्मा ने बताया कि डेंगू एडीज नाम मच्छर के काटने से फैलता है और इस बुखार मे मरीज को तीव्र बुखार, अत्याधिक शरीर दर्द व सिर में दर्द होता है। डेंगू का मच्छर के काटने के तीन से चार दिन के बाद ही पता चलता है। उन्होंने जनता से पूरी बाजू के कमीज पहनने, घर मे मच्छर नाशक अगरबती का प्रयोग करने, सोते समय मच्छरदानी लगाने, घर के दरवाजों व खिड़कियों पर जाली लगवाने की सलाह भी दी। घर में किसी भी बर्तन मे खुला पानी न रखे और पशु आदि के लिए पीने के लिए रखे बर्तनों को प्रति दिन साफ करने की अपील भी की।

मलेरिया व डेंगू सात साल का आंकड़ा

साल                            मलेरिया                 डेंगू

2015                             45                       668

2016                             17                       156

2017                             27                       135 

2018                             17                         98

2019                               3                         47

2020                               0                         28

अगस्त 2021                    0                          3

मलेरिया के नोडल अधिकारी डा. तीर्थ बागड़ी ने बताया कि अब तक इस वर्ष डेंगू के तीन मामले सामने आए हैं। एक मामला अप्रैल महीने में सामने आया था जबकि दो मामले इस माह आए हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीमें लगातार बुखार पीड़ितों के सैंपल लेकर जांच करती हैं। यदि किसी व्यक्ति को डेंगू की शंका हो तो वह नागरिक अस्पताल में जांच करवा सकता है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.