साइबर ठगी, आनलाइन गिफ्ट दिलवाने के नाम पर खाते से निकाले हजारों, ऐसे दिया घटना को अंजाम

यमुनानगर में आनलाइन गिफ्ट दिलवाने के नाम पर ठगी का मामला सामने आया है। शातिर ठगों ने अमेजन कंपनी की ओर से गिफ्ट में फ्रिज दिए जाने का झांसा दिया गया था। जिसके बाद ठगों ने गिफ्ट बाउचर के नाम पर कई बार में पीड़ित खाते से पैसे निकलवाए।

Rajesh KumarTue, 30 Nov 2021 02:54 PM (IST)
यमुनानगर में आनलाइन गिफ्ट दिलवाने के नाम पर ठगी।

यमुनानगर, जागरण संवाददाता। यमुनानगर में आनलाइन गिफ्ट दिलवाने के नाम के पर ठगी का मामला सामने आया है। वर्तमान में आनलाइन गिफ्ट मिलने के झांसे में लोग फंसकर ठगी का शिकार हो रहे हैं। ऐसी ही ठगी सेक्टर 17 निवासी रोहण गुप्ता के साथ हुई है। उन्हें काल कर अमेजन कंपनी की ओर से गिफ्ट में फ्रिज दिए जाने का झांसा दिया गया था। जिसकी जीएसटी के नाम पर पहले उनसे पैसे डलवाए। बाद में तीन बार में 90 हजार 764 रुपये साफ कर दिए। मामले में सेक्टर 17 थाना पुलिस ने केस दर्ज किया।

ऐसे बनाया ठगों ने शिकार

पुलिस को दी शिकायत के मुताबिक, सेक्टर 17 निवासी रोहण गुप्ता के पास दोपहर करीब एक बजे अनजान नंबर से काल आई। काल करने वाले ने खुद को अमेजन कंपनी से बताया और कहा कि कंपनी की ओर से गिफ्ट आया है। रोहण की पत्नी आनलाइन सामान खरीदती रहती है। काल करने वाले ने रोहण से कहा कि अमेजन से की गई खरीददारी पर लक्की कस्टमर के रूप में यह गिफ्ट दिया जा रहा है। इसमें फ्रिज दिया जाएगा। इसके बाद रोहण से पांच हजार अमेजन गिफ्ट वाउचर खरीदवाए गए। काल करने वाले की बातों में रोहण फंस गया। उसने बाद में काल डिस्पैच विभाग को ट्रांसफर करने के नाम पर किसी और को फोन दे दिया। उससे भी बात की, तो उसने गिफ्ट का जीएसटी मांगा। इसके लिए 12 हजार 999 रुपये 90 पैसे जमा कराने के लिए कहा।

कई बार में खाते से निकलवाये 90 हजार रुपये

रोहण ने यह पैसा आरोपितों के दिए खाता नंबर में जमा करा दिया। बाद में आरोपित ने कहा कि गलती से 12 हजार 999 रुपये 09 पैसा आया है। इसलिए दोबारा पैसा देना होगा। इस तरह से आरोपितों ने उसे पूरी तरह से बातों में उलझा लिया और उसके खाते से कई बार में 90 हजार 764 रुपये साफ कर दिए।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.