पानीपत में कोरोना संकट के बाद स्कूलों में सजेगा सांस्कृतिक उत्सव का मंच, ये रहेगा शेड्यूल

पानीपत में स्कूल शिक्षा निदेशालय की ओर से जिला स्तर पर सांस्कृतिक उत्सव 2021 के आयोजन को लेकर शेड्यूल जारी कर प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारी व जिला मौलिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

Rajesh KumarThu, 16 Sep 2021 03:07 PM (IST)
कोरोना काल के बाद पानीपत के स्कूलों में शुरू होगा सांस्कृतिक महोत्सव।

पानीपत, जागरण संवाददाता। कोरोना संकट के बाद खुले राजकीय स्कूलों में पढ़ाई के साथ अब 18 माह बाद सांस्कृतिक उत्सव की धूम भी मचने जा रही है। स्कूल शिक्षा निदेशालय की ओर से जिला स्तर पर सांस्कृतिक उत्सव 2021 के आयोजन को लेकर शेड्यूल जारी कर प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारी व जिला मौलिक शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। जिला स्तर पर उक्त कार्यक्रम जहां 27 से 30 सितंबर तक होगा। वहीं प्रदेश स्तर पर अक्टूबर माह में करनाल में होगा। निदेशालय की तरफ से जिला स्तर पर होने वाले कार्यक्रम को लेकर बजट भी जारी कर दिया गया है। जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी बृजमोहन गोयल का कहना है कि निदेशालय की तरफ से सांस्कृतिक उत्सव कार्यक्रम को लेकर शेड्यूल आया है। सभी बीईओ व स्कूल इंचार्ज को अवगत करा दिया गया है। 

गतिविधियों की सूची

लोकनृत्य - एकल (लाइव संगीत पर ही प्रस्तुति देनी होगी व प्रदर्शन का समय 5-8 मिनट होगा)। 

लोकनृत्य - समूह (8 से 10 प्रतिभागी शामिल होंगे, लाइव संगीत पर ही प्रस्तुति देनी होगी व प्रदर्शन का समय 5-8 मिनट होगा)।

म्यूजिक एकल - रागिनी (प्रदर्शन केवल लाइव संगीत पर होगा व प्रदर्शन का समय अधिकत्तम 8 मिनट होगा)।

ये छात्र ले सकेंगे भाग

निदेशालय के मुताबिक सांस्कृतिक उत्सव-2021 में केवल राजकीय, आरोही व कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय के विद्यार्थी ही भाग ले सकेंगे। इसको लेकर छठी से आठवीं व नौंवी से बारहवीं दो कैटेगरी रखी गई हैं। वहीं उक्त कार्यक्रम की सूचना के बाद से विद्यार्थी काफी खुश नजर आ रहे हैं। 

जिला स्तर पर बच्चों को ये मिलेगा ईनाम 

कार्यक्रम                         प्रथम                 द्वितीय                 तृतीय                 सांत्वना

लोक नृत्य (ग्रुप)                8000                6000                  4000                1000

लोक नृत्य (एकल)             3100                2100                  1500                1000

म्यूजिक एकल (रागिनी)      3100                2100                  1500                1000

जिला स्तर के कार्यक्रम को लेकर डीईईओ को जारी बजट

छठी से आठवीं कक्षा के प्रतिभागियों को लेकर ईनाम राशि - 34,400

रिफ्रेसमेंट, टेंट व सीङ्क्षटग खर्च राशि - 1.50 लाख

मानदेय निर्णायक मंडल - 18000

आकस्मिकता- 20,600

मास्कर व सैनिटाइज खर्च - 50,000

नौंवी से बारहवीं कक्षा के प्रतिभागियों के ईनाम को लेकर डीईओ को जारी खर्च राशि -34,400

प्रदेश भर में कार्यक्रमों को लेकर 67.62 लाख का बजट जारी

निदेशालय की ओर से जिला स्तर पर होने वाले सांस्कृतिक उत्सव 2021 को लेकर प्रदेश भर में 67.62 लाख का बजट जारी किया गया है। इसमें छठी से आठवीं कक्षा के प्रतिभागियों व कार्यक्रम को लेकर प्रत्येक जिले मौलिक शिक्षा अधिकारी को 2.73 लाख रुपये व नौंवी से बारहवीं कक्षा के प्रतिभागियों को लेकर 34 हजार 400 रुपये का बजट जारी हुआ है। 

इन बातों का रखना होगा ख्याल

विजेता प्रतिभागियों की पुरस्कार राशि उसके खाते में जमा कराएं।

प्रतिभागियों के आइकार्ड व प्रतिभागिता प्रमाण पत्र की भी व्यवस्था की जाए। 

सभी डीईईओ अपने जिले में उक्त कार्यक्रम दोनों समूह (छठी से आठवीं व नौंवी से बारहवीं) के लिए करेंगे। 

छठी से आठवीं के लिए ईनामी राशि डीईईओ व नौंवी से बारहवीं की ईनामी राशि का भुगतान डीईओ स्तर पर होगा। खंड में प्रत्येक श्रेणी में बीईओ व बीईईओ द्वारा चुने गए प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पाने वाले प्रतिभागी जिला स्तर पर भाग लेंगे। छठी से आठवीं व नौंवी से बारहवीं कक्षा के लिए जिला स्तर कार्यक्रम एक ही दिन न कराकर अलग अलग दिन हो।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.