पानीपत के लिए राहत भरी खबर, कोरोना के 8 नए केस आए

पानीपत के लोगों के लिए राहत की खबर है। महज आठ केस आए और दो की मौत हुई। वहीं कैथल में भी वीरवार को कोरोना के 21 केस मिले 50 हुए ठीक दो की मौत हुई। अब तक 11 हजार 32 मरीज आ चुके हैं सामने।

Anurag ShuklaFri, 11 Jun 2021 05:27 PM (IST)
पानीपत में कोरेाना से राहत भरी खबर।

पानीपत, जेएनएन। पानीपत में वीरवार को कोरोना महज आठ नए केस मिले हैं। इसमें पांच पुरुष और तीन महिलाएं शामिल हैं। सैना कालोनी के 49 वर्षीय पुरुष और समालखा खंड के करहंस गांव में 22 वर्षीय युवती की कोरोना से मौत हो गई। वहीं 21 लोगों को कोरोना को हरा दिया है। अब कोरोना के 174 केस एक्टिव हैं।

पानीपत में 30, 970 कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 30,173 व्यक्ति कोरोना को मात दे चुके हैं। अभी तक 613 लोगों की मौत हो चुकी है। संक्रमित व्यक्तियों की पहचान के लिए टेस्टिंग पर जोर दिया गया है। पिछले 24 घंटे मे 1370 टेस्ट किए गए। अभ तक 312985 सैंपल लिए जा चुके हैं। जिले में ब्लैक फंगस के 58 मरीज आ चुके हैं। मरीजों को निजी अस्पतालों और मेडिकल कालेज खानपुर में इलाज किया जा रहा है।

इधर, कैथल में कोरोना के 21 नए केस मिले हैं, वहीं 50 मरीज ठीक हुए हैं। दो लोगों की कोरोना से मौत हुई है। अब कुल संक्रमितों का आंकड़ा 11 हजार 32 तक पहुंच गया है। वहीं 10 हजार 477 मरीज ठीक हो चुके हैं। कुल एक्टिव केस 228 व 327 लोगों की अब तक कोरोना से मौत हो चुकी है। 94.9 प्रतिशत रिकवरी रेट दर्ज किया है। अब 10 सिविल अस्पताल, छह शाह अस्पताल, चार सिग्नस व 177 मरीज होम आइसोलेट हैं। वहीं 25 मरीज जिले से बाहर के अस्पतालों में इलाज ले रहे हैं। ठीक होने वालों में तीन सिविल अस्पताल, दो शाह, तीन सिग्नस व 42 मरीज होम आइसोलेट में दाखिल थे, जो ठीक हुए हैं। अभी तक लिए गए 2 लाख 63 हजार 37 में से 2 लाख 51 हजार 10 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है। पाजिटिव रेट 4.1 प्रतिशत है व डेथ रेट 2.9 प्रतिशत है। वीरवार को मरने वालों में 48 वर्षीय पिलनी निवासी महिला, 48 वर्षीय मस्तगढ़ निवासी महिला, जिनका इलाज नागरिक अस्पताल में चल रहा था।

होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों की हो रही निरंतर निगरानी

जिला में 177 मरीज होम आइसोलेशन में है। इन लोगों से दूरभाष के माध्यम से संपर्क किया जाता है। ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों को मेडिकल किट, आयुर्वेदिक दवाइयों की होम डिलवरी की जा रही है। होम आइसोलेशन में रह रहे 9323 व्यक्तियों में से 9146 ठीक हो चुके हैं।

वैक्सीनेशन की स्थिति

जिला में अभी तक 1 लाख 92 हजार 679 व्यक्तियों का टीकाकरण हो चुका है। इनमें से 1 लाख 65 हजार 144 व्यक्तियों को पहली डोज व 27 हजार 535 व्यक्तियों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। इनमें 10 हजार 925 हेल्थ केयर वर्कर्स, 7 हजार 526 फ्रंट लाइन वर्कर्स, 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के 53 हजार 677 व्यक्ति व 45 वर्ष आयु वर्ग से ऊपर के 1 लाख 20 हजार 551 व्यक्ति शामिल है। वीरवार को कुल 3258 व्यक्तियों का टीकाकरण किया गया। इनमें 7 हेल्थ केयर वर्कर, 3 फ्रंट लाइन वर्कर, 18 से 45 वर्ष आयु के 2936 व्यक्ति व 45 वर्ष से ऊपर के 312 व्यक्ति शामिल है। अब स्टॉक के तौर पर 21940 वैक्सीन उपलब्ध है। इसमें से 16530 कोविशिल्ड व 5410 कोवैक्सीन है।

टीकाकरण शिविर में 270 लोगों ने लगवाई वैक्सीन

अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके दास ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से श्री शिरड़ी साईं शरणम धाम संस्था द्वारा साईं मंदिर में लगाए गए टीकाकरण शिविर का शुभारंभ किया। कार्यक्रम में वीसी के माध्यम से डीसी प्रदीप दहिया भी जुड़े। अतिरिक्त मुख्य सचिव पीके दास ने कहा कि टीकाकरण करवाने से सभी को कोरोना से बचाव के लिए सुरक्षा कवच मिलेगा। सभी को टीकाकरण करवाने के लिए आगे आना चाहिए। टीकाकरण करवाने के बाद ही मास्क, सैनिटाइज, साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए। डीसी प्रदीप दहिया ने बताया कि शिविर में 18 से 45 वर्ष तथा 45 वर्ष आयु वर्ग से ज्यादा के 270 व्यक्तियों का टीकाकरण किया गया। डा. विपुल सिंघानिया की टीम ने टीकाकरण शिविर संपन्न करवाया गया। इस मौके पर हैफेड के चेयरमैन कैलाश भगत, सीएमओ डा. शैलेंद्र शैली, महेंद्र सिंह शाह, शिव शंकर पाहवा, संस्था के प्रधान नवीन मल्होत्रा, धर्मवीर भोला एडवोकेट, मुकेश चावला, डा. राकेश चावला मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.