करनाल में काबू से बाहर कोरोना, एक दिन में रिकॉर्ड 547 संक्रमित मिले, एक की मौत

करनाल में बिगड़ते जा रहे कोरोना के हालात को लेकर जिला प्रशासन की बैठकों का दौर जारी है।

करनाल में कोरोना की रफ्तार बेकाबू है। मंगलवार को 547 पॉजिटिव मिले। यब अब तक का रिकॉर्ड है। एक मरीज की मौत भी हुई है। बेड की उपलब्धता जानने के लिए edishakarnal.in पोर्टल बनाया गया है। डीसी निशांत कुमार यादव ने कोविड गाइडलाइन के पालन की अपील की है।

Umesh KdhyaniTue, 20 Apr 2021 09:44 PM (IST)

करनाल, जेएनएन। सीएम सिटी करनाल में कोरोना कंट्रोल से बाहर होता जा रहा है। मंगलवार को रिकार्ड 547 कोरोना संक्रमित मिले, जबकि एक व्यक्ति की मौत भी हुई है। बिगड़ते जा रहे कोरोना के हालात को लेकर जिला प्रशासन की ओर से बैठकों का दौर जारी है।

मंगलवार को कोरोना को नियंत्रित करने के लिए बैठक में कई अहम फैसले भी लिए गए। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक मंगलवार को जिले में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण से आशंकित कुल 297306 व्यक्तियों के सैंपल लिए गए। जबकि इनमें से 273369 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। 20630 मामले संक्रमित पाए गए हैं। जिनमें से 201 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। सक्रिय केसों की संख्या बढ़कर 3341 तक पहुंच गई है। 17078 मरीज ठीक होकर अपने घर चले गए हैं। जिले में मंगलवार को 547 नए केस संक्रमित पाए गए हैं और 307 मरीज ठीक हुए हैं।

बेड की उपलब्धता के लिए बनाया पोर्टल

डीसी ने बताया कि जिले में बेड की उपलब्धता जानने के लिए edishakarnal.in पोर्टल बनाया गया है। इस पोर्टल पर जाकर कोई भी व्यक्ति जिले में केसीजीएमसी व अन्य 10 अस्पतालों में बेडों की उपलब्धता की जानकारी ले सकता है, जिसका लिंक karnal.gov.in पर भी दिया गया है।

एनडीआरआइ का कोविड केयर सेंटर किया शिफ्ट

एनडीआरआइ में 50 बेड का कोविड अस्पताल चल रहा है, अब इसको बढ़ाकर 250 बेड का किया जाएगा और यह अस्पताल अब एनडीआरआइ से बदलकर फूसगढ़ गांव के सामुदायिक केंद्र में चलाया जाएगा।

डीसी ने लोगों से की अपील

डीसी निशांत कुमार यादव ने जिलेवासियों से कहा कि वह जरूरी कार्य के लिए ही बाहर निकलें। मास्क का प्रयोग करें। शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करें। अपने आपको निरंतर सैनिटाईजिंग करते रहें। उन्होंने स्पष्ट किया कि कोरोना वायरस के बढ़ते केसों के दृष्टिगत प्रशासन सख्त है। जो व्यक्ति बिना मास्क के घर से बाहर निकलेगा, उसका 500 रुपये का चालान किया जाएगा। डीसी ने नागरिकों से अपील की है कि उनके आसपास कोई ऐसा व्यक्ति मिले जिसकी ट्रैवल हिस्ट्री बाहर की है वह तुरंत इसकी सूचना प्रशासन को दें।

कोविड नियमों में लापरवाही ने बढ़ाई संक्रमण की संख्या

घरौंडा में कोविड नियमों के प्रति लापरवाही कोरोना के आंकड़ों में बढ़ोतरी की सबसे बड़ी वजह साबित हो रही है। आलम यह है कि प्रतिदिन 30 से 40 लोगों को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो रही है। बावजूद इसके लोग कोविड वेक्सिन लगवाने के लिए खास दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक, अभी तक 19 हजार 300 संदिग्धों के कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं। इनमें लगभग 1300 मरीजों को कोरोना की पुष्टि हुई और 916 मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। जबकि 380 एक्टिव केस हैं। 22 लोगों की कोरोना संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है। लगभग 350 एक्टिव मरीज घरों में आईसुलेट है, जबकि अन्य मरीज अस्पतालों में एडमिट है और कुछ अंट्रेस है।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.