सड़क दुर्घटनाएं रोकने के लिए ब्लैक स्पॉट पर निर्माण होगा

सड़क दुर्घटनाएं रोकने के लिए ब्लैक स्पॉट पर निर्माण होगा

उन्होंने कहा कि कई बार दुर्घटना के समय में पता लगता है कि कोई ब्लाइंड कट या टूटी हुई सड़क गड्ढे के कारण हादसा हुआ है।

JagranFri, 26 Feb 2021 08:17 AM (IST)

जागरण संवाददाता, पानीपत : डीसी धर्मेद्र सिंह ने वीरवार को लघु सचिवालय में सड़क सुरक्षा पर मासिक बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए जिले में चिह्नित किए गए ब्लैक स्पॉट्स पर आवश्यक निर्माण कार्य करवाएं, ताकि उनको एक्सीडेंट फ्री जोन बनाया जा सके। इसके साथ-साथ अब दुर्घटना के तुरंत बाद पुलिस, आरटीए और जिस विभाग की सड़क होगी, उसका प्रतिनिधि दुर्घटना वाली जगह पर पहुंचेगा।

उन्होंने कहा कि कई बार दुर्घटना के समय में पता लगता है कि कोई ब्लाइंड कट या टूटी हुई सड़क, गड्ढे के कारण हादसा हुआ है। भविष्य में इस तरह की नौबत ना आए इसलिए उन स्थानों की पहचान कर ठीक करवाया जाए। जनवरी माह में 31 एफआइआर रोड़ एक्सीडेंट से संबंधित थी। 15 मौत हुई हैं। दिसंबर में 23 मौत हुई थी।

उपायुक्त ने कहा कि जो चालक यातायात नियमों की अवहेलना करते हैं और गाड़ियां अवैध रूप से खड़ी कर मार्ग को अवरुद्ध करते हैं, उनके चालान काटे जाएं। साथ ही गाड़ियों को जब्त कर लिया जाए। इसके लिए निगम की ओर से टेंडर लगाने का प्रविधान किया जाए और 4 पहिया वाहन के लिए 500 रुपये, दो पहिया वाहन के लिए 200 रुपये और ट्रकों इत्यादि बड़े वाहनों के लिए 5 हजार रुपये का चालान करें।

डीसी ने कहा कि सुरक्षित स्कूल वाहन पॉलिसी के तहत सभी स्कूल वाहनों की चेकिग की जाए। अब स्कूल खोल दिए गए हैं। बच्चों की सुरक्षा को प्राथमिकता देते हुए यह बहुत जरूरी कार्य है। जो भी स्कूल नियमों की अवहेलना करता है उसके खिलाफ कार्रवाई करें। भारी वाहनों के आवागमन पर भी नजर रखें। उन्होंने कहा कि जिले में स्थाई रूप से बनाए गए अवैध कब्जों और थड़ों को लेकर सर्वे करवाया जाए। इसकी रिपोर्ट तैयार करके सौंपी जाए। इसके लिए उन्होंने एएसपी पूजा वशिष्ठ और डीएसपी संदीप कुमार को निर्देश दिए कि वे ऐसे स्थानों का चयन कर लें जहां अवैध रूप से कट खोले गए हैं और थड़े बनाए गए हैं।

बैठक में डीसी ने कहा कि जब तक सिवाह फ्लाईओवर का काम शुरू नहीं होता तब तक सिवाह कट को स्थाई तौर पर बंद कर दें। उन्होंने बताया कि सेक्टर 25 के आगे ग्रिल को ऊपर उठाने की मंजूरी एनएचएआइ की ओर से मिल चुकी है। इस पर आगामी समय में जल्द ही काम शुरू होगा। गौरतलब है कि सैक्टर 25 के आगे लोग कम ऊंचाई की ग्रिल को कूदकर राष्ट्रीय राजमार्ग को पार करते हैं, जिससे कई बार दुर्घटनाएं होने का अंदेशा बना रहा है। बैठक में एडीसी व निगमायुक्त मनोज कुमार, सचिव आरटीए अमरिदर सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी रमेश कुमार, डीईईओ बृजमोहन और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के बागपत, सोनीपत व रोहतक के प्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.