जींद में व्‍यापारी ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट मिला, हुआ ब्‍लैकमेलिंग का पर्दाफाश

जींद में आत्‍महत्‍या का मामला सामने आया है। कबाड़ी पर लोहा चोरी करने का आरोप लगा उससे पांच लाख रुपये की मांग की गई। इससे आहत होकर आत्‍महत्‍या का कदम उठाया। तीन लोगों पर केस दर्ज कर लिया गया है।

Anurag ShuklaThu, 25 Nov 2021 12:44 PM (IST)
जींद में कबाड़ी व्‍यापारी ने आत्‍महत्‍या की।

जींद, जागरण संवाददाता। जींद शहर की दुर्गा कालोनी में लोहा चोरी का आरोप लगाने से आहत एक कबाड़ी ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। कबाड़ी पर लोहा चोरी का आरोप लगाकर आरोपितों द्वारा पांच लाख रुपये की डिमांड की जा रही थी। पुलिस ने पिता व उसके दो बेटे के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज किया है।

दुर्गा कालोनी निवासी रामदिया ने शहर थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसका जीजा 53 वर्षीय रामनरेश कबाड़ी का काम करता है। 19 नवंबर को भूपेंद्र नगर निवासी वेद सिंह 20 किलो लोहा बेचकर गया था और उसको दुकान के स्टोर में रख लिया। थोड़ी देर के बाद चौड़ी गली रोहतक रोड निवासी कबाड़ी पवन उर्फ पौनी उसकी दुकान पर आया और कहने लगा कि यह लोहा तो उसका है और उसने चोरी किया है, लेकिन उकसे जीजा रामनरेश ने कहा कि लोहा तो भूपेंद्र नगर निवासी वेदसिंह घर का लोहा बताकर बेचकर गया है। इसके बाद उसने वेद सिंह व कबाड़ी पवन उर्फ पौनी को आमने-सामने भी करवा दिया। उस समय आरोपित वहां से चले गए।

21 नवंबर को पवन कबाड़ी अपने बेटे पंकज व मोनू को साथ लेकर आया और रामनरेश को कहने लगा कि तूने इस लोहा के अलावा पहले भी 5-6 लाख का लोहा व सिल्वर चोरी करवाया है। हमें या तो पांच लाख रुपये दे दे वरना पुलिस में शिकायत देकर जेल में भेजवा देगा और उसके मोहल्ले में उसकी बेइज्जती करेगा। जिस समय आरोपित उसके जीजा रामनरेश पर आरोप लगा रहे थे उस समय उसके साढू का भाई मोहन उर्फ मोनू मौजूद था। इसके बाद आरोपितों ने काफी देर तक उसके जीजा रामनरेश की बेइज्जती करते रहे।

पिछले तीन दिन से आरोपित हर रोज आकर उस पर पांच लाख रुपये देने का दबाव बना रहे थे। इसके चलते रामनरेश परेशान रहने लगा। बुधवार देर शाम को उसने कबाड़ी की दुकान के अंदर बने स्टोर के अंदर जाकर वहां पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जब काफी देर तक दुकान से बाहर नहीं आया तो परिवार के लोगों ने जाकर देखा तो वह फांसी पर लटका हुआ था और जब उसे नीचे उतारा तो उसकी मौत हो चुकी थी।

उसके पास एक दो पेज का सुसाइड नोट मिला है। इसमें पवन व उसके बेटों पर चोरी का गलत आरोप लगाने व पांच लाख रुपये मांगकर प्रताड़ित करने के आरोप लगाए हैं। मामले के जांच अधिकारी एएसआइ ओमप्रकाश ने बताया कि शिकायत के आधार पर चौड़ी गली रोहतक रोड निवासी पवन उर्फ पौनी, उसके बेटे पंकज व मोनू के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज करवाया है।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.