तीन महिलाओं की हत्‍या का पर्दाफाश, पत्‍नी और साली को कुल्‍हाड़ी से काट डाला, सास की गला दबा की हत्‍या

तीन महिलाओ की हत्‍या करने वाला आरोपित नूर हसन।
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 04:22 PM (IST) Author: Anurag Shukla

पानीपत, जेएनएन। Haryana Panipat Crime News पानीपत में तीन अलग-अलग जगहों से मिले तीन महिलाओं के शव के मामले का पर्दाफाश हो गया है। पत्नी के चरित्र पर शक था। सनकी पति ने पत्नी के साथ साली और सास की भी हत्या कर दी। साली और पत्नी को तो एकसाथ मारा। सास को घर से बुलाकर लाया और रास्ते में गला घोंट दिया। तीनों के शव खुर्दबुर्द करने की नीयत से आग लगाई, नाले में फेंका। 

दअरसल, सात, आठ और नौ सितंबर को समालखा के अलग-अलग जगहों से तीन महिलाओं के शव मिले थे। उनमें से दो अर्धनग्न हालात थे। किसी पर चाकू से वार किया गया तो किसी की गला दबाया गया। खुर्द-बुर्द करने की नीयत से एक शव को नाले में गिराया गया, एक के चेहरे पर आग लगा दी गई। रेलवे लाइन किनारे तो जलने के बाद युवती का केवल कंकाल ही मिल पाया था। पुलिस ने शिनाख्‍त करते हुए जांच शुरू की तो राज खुला।

समालखा में तीन महिलाओं की हत्या का खुद राज खोलते हुए नूरहसन ने पुलिस को बताया कि पत्नी और साली की कुल्हाड़ी से हत्या की थी। स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआइटी) ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। उसे अदालत में पेश कर चार दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है। पुलिस ने हत्यारे का सुराग देने पर 75 हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। 

वर्ष 2014 में चिनाई मजदूर सोनीपत के बैंयापुर गांव के नूरहसन ने सोनीपत के ही गामड़ी गांव की मधु (25) से प्रेम विवाह किया था। नूरहसन की दूसरी और मधु की ये तीसरी शादी थी। 4 सितंबर की शाम को नूरहसन घर लौटा तो साली मधु (18) उसके डेढ़ व तीन साल के बेटे के साथ घर के बाहर खेल रही थी। पास में बाइक सवार युवक खड़ा था। वह अंदर कमरे में गया तो पत्नी को एक युवक के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया। 

पुलिस को नूरहसन ने बताया कि दोनों युवकों के जाने के बाद कहासुनी में पत्नी व साली ने उसको थप्पड़ मार दिए। तभी उसने दोनों की हत्या की साजिश रची। 5 सितंबर की रात को उसने पत्नी व साली को पास की दुकान से कोल्ड ड्रिंक लाने को बोला। इस दौरौन उसने तीन-तीन नींद की गोली पीसकर दो गिलास में डाल दी। इन्हीं गिलास में कोल्ड ड्रिंक डाली और पत्नी व साली को पिला दी। 

घर रखी कुल्हाड़ी से पत्नी की गर्दन अलग कर दी। इसके बाद साली की गर्दन पर दो से तीन वार किए। साली मरी नहीं और फर्श पर गिर गई। रसोई घर से चाकू लिया और साली की गर्दन पर वार किया। चाकू गर्दन में टूट गया और साली मर गई। पत्नी के शव को रजाई में लपेटा और बाइक पर बांधकर चुलकाना रेलवे फ्लाईओवर के नजदीक रेलवे लाइन पर डालकर पेट्रोल डालकर आग लगा दी।

इसके बाद साली के शव को रजाई में लपेटा और बाइक पर डालकर चल दिया। साली के शव को भी वहीं जलाना था, जहां पत्नी का शव जलाया था। रास्ते में सामने से बाइक की लाइट लगी तो वे घबरा गया और शव को सीवर ट्रीटमेंट प्लांट में डालकर ऊपर से चार ईंट रख दी, ताकि शव नीचे रह जाए। 

8 सितंबर की रात को सास जमीला को सोनीपत के गामड़ी गांव से यह कहकर लाया कि पत्नी व साली उसके साथ झगड़ा करती हैं। दोनों को समझा देना। बुड़शाम से दिवाना रोड पर रजवाहे के पास सास बाथरूम करने लगी। इसी दौरान सास की गला घोंटकर हत्या कर दी। शव पर पेट्रोल डालकर जला डाला। 

पुलिस ने 7 सितंबर को मनीषा, 8 सितंबर को कंकाल में तब्दील हो चुके मधु के शव को और 9 सितंबर को जमीला के शव को बरामद किया। डीएसपी मुख्यालय सतीश वत्स ने बताया कि एसआइटी में शामिल सीआइए-वन प्रभारी राजपाल सिंह की टीम ने बुधवार शाम को नूरहसन को दिवाना गांव के पास से गिरफ्तार किया। वहीं, आरोपित ने कबूल किया है कि उसने दो महिलाओं की हत्‍या के बाद दरिंदगी भी की थी।  

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.