कैथल में बिजली के खंभे से गिरा सहायक लाइनमैन, मौत, हंगामा

कैथल में बिजली के पोल से गिरकर सहायक लाइन मैन की मौत हो गई। मृतक के पिता का आरोप है कि दिन-रात करवा रहे थे काम काम का बोझ होने के कारण हादसे में गई बेटे की जान। अधिकारियों पर पुलिस में गलत रिपोर्ट दर्ज करवाने का भी आरोप।

Anurag ShuklaWed, 16 Jun 2021 04:12 PM (IST)
बिजली पोल से गिरकर सहायक लाइनमैन की मौत पर हंगामा करते परिवार वाले।

कैथल, जेएनएन। कैथल के गांव कांगथली स्थित बिजली घर में खराब बिजली लाइन को ठीक करते समय पोल से गिरकर 42 वर्षीय एएलएल सुरेंद्र कुमार की मौत हो गई। मृतक एएलएम खुराना रोड स्थित कालूवाली गामड़ी का रहने वाला था, जो वर्ष 2008 में बिजली निगम में डीसी रेट पर नौकरी लगा था। हादसे के बाद

शव को पोस्टमार्टम के लिए सिविल अस्पताल कैथल लाया गया। सूचना मिलने के बाद परिवार वाले अस्पताल पहुंचे। परिवार वालों ने बिजली निगम के एसडीओ व जेई को कर्मचारी की मौत का जिम्मेदार ठहराते हुए हंगामा किया। कहा कि तूफान में बिजली की सप्लाई बाधित होने के कारण कर्मचारियों पर काम का बोझ बढ़ रहा है। उनके बेटे से दिन-रात काम लिया जा रहा था। बुधवार को भी ड्यूटी भूना पावर हाउस पर थी, लेकिन कांगथली भेजकर काम लिया गया। इस कारण यह हादसा हुआ। रात को दो-दो बजे तक ड्यूटी कर सुबह फिर चार बजे काम पर बुलाया जाता था। परिवार वालों ने निगम के एसडीएम, जेई व अन्य कर्मचारियों पर पुलिस में गलत रिपोर्ट दर्ज करवाने का भी आरोप लगाया।

मृतक सहायक लाइनमैन सुरेंद्र के पिता रामकुमार ने बताया कि इकलौते पुत्र की मौत होने से उसका घर पूरी तरह से उजड़ गया है। मृतक अपने पीछे 18 साल के बेटे गौतम, 20 साल की बेटी को छोड़ गया। हादसे के बाद मृतक के परिवार में मातम का माहौल है। पिता की आंखों से आंसू नहीं रूक रहे हैं। पिता ने बताया कि रोजाना की तरह सुरेंद्र बुधवार सुबह ड्यूटी पर गया था। उसकी ड्यूटी भूना पावर हाउस पर थी, लेकिन कांगथली बिजली घर में बुलाकर उसे पोल पर चढ़ा दिया गया। हादसे में उसके बेटे की मौत हो गई। इस घटना को लेकर जो भी जिम्मेदार है, उनके खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई की जानी चाहिए।

बिजली निगम में लाइनमैन महीपाल ने बताया कि तूफान के चलते बिजली की लाइन खराब पड़ी है। इन लाइनों को ठीक करने के लिए कर्मचारियों पर दबाव बनाया जा रहा है। काम ज्यादा है और कर्मचारी कम है, लेकिन अधिकारी फील्‍ड में जाने की बजाए कर्मचारियों पर काम न करने का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों को उनके खिलाफ भड़का रहे हैं। इस कारण कर्मचारियों को दिन-रात काम करना पड़ रहा है। यह हादसा संबंधित एसडीओ व जेई की लापरवाही से हुआ है। जब एएलएम सुरेंद्र की ड्यूटी भूना सेंटर पर थी तो उसे कांगथली बुलाकर पोल पर क्यों चढ़ा गया। बैंक फिडिंग के कारण करंट आया और सुरेंद्र झटका लगते ही नीचे गिर गया। इस कारण उसकी मौत हुई है।

बिजली निगम सब डिविजन सीवन के एसडीओ गुरदीप हांडा ने बताया यह महज एक हादसा है। इसमें किसी की कोई लापरवाही नहीं है। कर्मचारी सुनील कुमार पावर ब्लैड बदलने के लिए पोल पर चढ़ा था, लेकिन पेच नहीं खुला। यह देख एएलएम सुरेंद्र कुमार ने सुनील को नीचे उतरने को कहा और बोला की वह इसे खोल देगा। जैसे ही सुरेंद्र पोल पर चढ़कर काम करने लगा तो पांव फिसलने से नीचे गिर गया। इस कारण उसकी मौत हो गई। बिजली लाइन बंद थी, परमिट लेकर काम किया जा रहा था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.