दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

अंबाला की सोनिया की इंटरनेट पर हुई थी मप्र के पूर्व मंत्री से दोस्ती, फंदा लगाने से पहले घर पर की थी वीडियो काल

सोनिया भारद्वाज आत्महत्या मामला । सांकेतिक फोटो

अंबाला की सोनिया भारद्वाज ने दो दिन पूर्व भोपाल में कांग्रेस सरकार में पूर्व मंत्री उमंग सिंघार के बंगले में फंदा लगाकर जान दे दी थी। इससे पहले उसने घरवालों को फोन किया था लेकिन तब वह खुश नजर आ रही थी।

Kamlesh BhattTue, 18 May 2021 09:43 AM (IST)

जेएनएन, अंबाला शहर। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कांग्रेस सरकार में पूर्व वन मंत्री और गंधवानी से विधायक रहे उमंग सिंघार के शाहपुर-बी 238 सेक्टर स्थित बंगले में फंदा लगाकर जान देने वाली अंबाला शहर की सोनिया भारद्वाज की मंत्री से दोस्ती शादी डाट काम साइट पर हुई थी। कुछ ही दिनों में दोनों शादी भी करने वाले थे।

सोनिया द्वारा रविवार शाम को फंदा लगाकर जान देने से पहले अंबाला में रह रहे स्वजनों के अन्य सदस्यों से वीडियो काल पर उसकी बातचीत हुई थी। उस दौरान वह काफी खुश लग रह रही थी। तब उसने ऐसी कोई बात भी नहीं बताई, जिससे लगा हो कि वह डिप्रेशन में हो। मगर अचानक सोनिया की मौत की खबर आने से सब हैरान हैं। ये बातें सोनिया की बहन के बेटे दीपांशु ने बताई हैं। दीपांशु के मुताबिक वह भी सेठी एन्क्लेव में कुछ ही दूरी पर रहते हैं।

यह भी पढ़ें: पंजाब में मंत्री चन्नी के खिलाफ MeToo का मामला गरमाया, महिला IAS अफसर ने लगाया था आरोप

कई दिनों से खा रही थी डिप्रेशन की गोलियां

दीपांशु के मुताबिक उसकी मौसी सोनिया भारद्वाज कई दिनों से तनाव में थी। इसलिए वह डिप्रेशन की गोलियां भी खा रही थीं। वह कहां और किस से मिलने जाती थीं इसके बारे में किसी को कुछ नहीं बताती थीं। यहां तक कि भोपाल जाने के बारे में भी उन्हें पता तक नहीं। इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुई उनकी मौत की खबर पढ़ने के बाद वे सब हैरान हैं।

यह भी पढ़ें: लुधियाना में मां के गर्भ तक पहुंचा Coronavirus, छह गर्भस्थ शिशुओं की मौत 

दीपांशु का कहना था उसकी मौसी का लड़का आर्यन शिमला से होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर रहा है। मगर हिमाचल में कोरोना के चलते लगे लाकडाउन के कारण वह अब बलदेव नगर अपने घर आया हुआ था। बताया जा रहा है सोनिया भारद्वाज अंबाला में ही किसी जगह पर प्राइवेट नौकरी करती थीं। मगर लाकडाउन के बाद वह छूट गई थी।

यह भी पढ़ें: Corona Vaccine Success Rate: पंजाब में 7 लाख लोगों को लगी कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज, 300 हुए संक्रमित, घर में ही दी मात

यह भी पढ़ें: पंजाब कांग्रेस में घमासान: कैप्टन अमरिंदर सिंह से नाराज मंत्री व विधायकों की चन्नी के घर बैठक, बना रहे रणनीति

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.