प्रशासन ने पहले की घटनाओं से ली सीख, जैमर लगने से नहीं चला वाट्सएप

एयरफोर्स के एयरमैन रिक्रूटमेंट भर्ती की आनलाइन परीक्षा पास करवाने वाला सरगना व उसके साथी पानीपत के एक स्कूल में बैठे थे। वहीं से नकल करवाई जा रही थी। इससे सबक लेते हुए पुलिस व प्रशासन ने एचसीएस परीक्षा के 26 सेंटरों पर जैमर लगा रखे थे। वहां पर आसपास वाट्सएप काम नहीं कर रहा था।

JagranMon, 13 Sep 2021 08:48 AM (IST)
प्रशासन ने पहले की घटनाओं से ली सीख, जैमर लगने से नहीं चला वाट्सएप

जागरण संवाददाता, पानीपत : एयरफोर्स के एयरमैन रिक्रूटमेंट भर्ती की आनलाइन परीक्षा पास करवाने वाला सरगना व उसके साथी पानीपत के एक स्कूल में बैठे थे। वहीं से नकल करवाई जा रही थी। इससे सबक लेते हुए पुलिस व प्रशासन ने एचसीएस परीक्षा के 26 सेंटरों पर जैमर लगा रखे थे। वहां पर आसपास वाट्सएप काम नहीं कर रहा था। क्योंकि पहले जो पेपर लीक हुए हैं, उनमें वाट्सएप का इस्तेमाल किया गया था।

आब्जर्वर एएसपी पूजा वशिष्ठ व डीएसपी मुख्यालय सतीश कुमार वत्स ने सभी परीक्षा सेंटरों की सुरक्षा का जायजा लिया। एक परीक्षा सेंटर पर 10 से 13 पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगा रखी थी। इन सेंटरों के आसपास किसी को फटकने नहीं दिया गया। होटल व गेस्ट हाउसों की जांच की

परीक्षा से पहले और बीच में जिन-जिन थाना क्षेत्र में सेंटर थे, वहां के आसपास के होटल, गेस्ट हाउस और धर्मशालाओं की पुलिस ने चेकिग की। ये पता लगाया कि एक-दो दिन से कितने लोग ठहरे हैं। कितने लोगों के पास लैपटाप हैं। होटल मालिकों को भी आगाह किया कि अगर कोई संदिग्ध व्यक्ति उनके पास कमरा लेने आता है तो तुरंत पुलिस को सूचना दें। जीटी रोड पर नहीं लगा जाम

पहले अक्सर परीक्षा होने के बाद जीटी रोड पर जमा लगा रहता था। पुलिस ने परीक्षा सेंटर के बाहर फ्लाईओवर के नीचे परीक्षार्थियों के वाहनों को खड़ा करा दिया था। रोड पर भी ट्रैफिक के जवान मुस्तैद रहे। इस वजह से भी जाम नहीं लगा। दिव्यांगों को हुई दिक्कत

आर्य बाल भारती स्कूल में परीक्षा देने आए सेक्टर 13-17 के अनुज ने बताया कि उनका सेंटर ग्राउंड फ्लोर पर होना चाहिये। उनके व अन्य 25 दिव्यांगों के लिए द्वितीय तल पर सेंटर बना रखा था। प्रथम तल तक ही रैंप था। वहां पर भी पांच सीढि़यां चढ़कर जाना पड़ा। इससे उन्हें खासी परेशानी का सामना करना पड़ा।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.