राजमार्गों पर हर 60 KM के दायरे में होगा ट्रामा सेंटर, हादसे रोकने के लिए हर साल होगा रोड मैपिंग सर्वे

राजमार्गों पर 60 किलोमीटर के दायरे में बनेंगे ट्रामा सेंटर। सांकेतिक फोटो

हरियाणा में राजमार्गों पर हर 60 किलोमीटर के दायरे में एक ट्रामा सेंटर बनेगा। साथ ही वाहनों की ओवरस्पीड पर भी नकेल कसी जाएगी। ओवरलोडिंग से भी सख्ती से निपटा जाएगा। हादसे रोकने के लिए हर साल रोड मैपिंग सर्वे होगा।

Kamlesh BhattSun, 28 Mar 2021 10:16 AM (IST)

जेएनएन, चंडीगढ़। हरियाणा में राष्ट्रीय राजमार्गों पर हर 60 किलोमीटर के दायरे में एक ट्रामा सेंटर बनाया जाएगा। इसके अलावा वाहनों की ओवरलोडिंग और ओवर स्पीड पर भी नकेल कसी जाएगी। हरपथ एप पर आई शिकायतों का समाधान नहीं होने की स्थिति में संबंधित व्यक्ति की जवाबदेही तय की जाएगी।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शनिवार को सड़क सुरक्षा संबंधी बैठक में निर्देश दिया कि सड़कों की मरम्मत समय से हो। हेलमेट एवं सीट बेल्ट का प्रयोग अनिवार्य रूप से होना चाहिए। नई सड़कों की प्लानिंग भविष्य को ध्यान में रखते हुए होनी चाहिए। बैठक में परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा फरीदाबाद से वीडियो  कांन्फ्रेंसिंग के जरिये जुड़े।

यह भी पढ़ें: हरियाणा के निजी अस्पतालों में रेफर कोरोना मरीजों के इलाज का खर्च नहीं दे रही सरकार, हाई कोर्ट पहुंचा अस्पताल प्रबंधन

मुख्यमंत्री ने कहा कि अमूमन शहर के बाइपास बन जाने के बाद पता चलता है कि कुछ स्थानों पर अंडर पास और ओवरब्रिज की जरूरत है। सांपला व यमुनानगर का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि यह काम सड़क निर्माण से पहले होना चाहिए। जिस तरह हर साल कलेक्टर रेट के लिए सर्वे किया जाता है, उसी प्रकार रोड मैपिंग सर्वे भी किया जाए, ताकि आगामी वर्षों की योजना बनाई जा सके। सड़क दुर्घटना होने पर एंबुलेंस के समय पर पहुंचने एवं समय से बेहतर उपचार उपलब्ध कराने वालों को पुरस्कृत किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: गुरमीत राम रहीम व निकिता हत्याकांड में फैसला सुनाने वाले जजों सहित पंजाब-हरियाणा में 176 का तबादला

बैठक में बताया गया कि एक योजना बनाई गई है जिसके तहत रोडवेज डिपो में जाकर बस ड्राइवरों और ढाबों पर जाकर ट्रक ड्राइवरों को जागरूक किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने जिला सड़क सुरक्षा परिषदों की बैठकें नियमित आधार पर करने के निर्देश दिए ताकि जिला स्तर पर लगातार निगरानी की जा सके।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.