शाही सफर करना है तो चले आएं यहां, 16 से Shimla Kalka Railway रूट पर दौड़ेंंगे तीन चार्टड कोच

कालका [सौरव बत्रा]। विश्व धरोहर में शुमार Shimla Kalka Railway रूट पर रेलवे की ओर से तीन चार्टड कोच का संचालन 16 नवंबर से शुरू किया जा रहा है। इसे लेकर रेलवे के अधिकारियों ने आदेश जारी कर दिए, जिनमें शाही अंदाज में सफर किया जा सकेगा। चार्टड कोच का संचालन सर्दियों की छुट्टियों में यात्रियों सुविधा को देखते हुए किया गया है।

वहीं सीजन में होने वाली वेटिंग को कम करने में भी यह कोच सहायक साबित होंगे। अधिकारियों ने बताया कि  आरए 100, झरोखा और आरएमसी (रेल मोटर कार) का संचालन 16 नवंबर से अगले वर्ष 15 जनवरी तक किया जाएगा। रेल मोटर कार है 8 सीटर। वहीं आरए 100 व झरोखा 8 सीटर है। रेल मोटर कार (आरएमसी) में 12-14 लोगो के बैठने की व्यवस्था है।

झरोखा कोच को ट्रेन के साथ ही ले जाया जा सकता है। छह या उससे ज्यादा लोगों के लिए ही हो सकेगी बु¨कग आरए 100 कोच को 6 या उससे ज्यादा लोगों के लिए ही बुक किया जाएगा।  वहीं रेल मोटर कार व झरोखा का आनंद लेने के लिए कम से कम 8 यात्रियों का होना जरूरी होगी। बुकिंग के समय यात्री को अपना पहचान पत्र भी देना होगा। अगर न्यूनतम सैलानी नहीं आते तो टिकट खरीद चुके लोगों को कालका या शिमला के टिकट काउंटर के टिकट का पूरा पैसा रिफंड किया जाएगा।

ऑनलाइन टिकट नहीं

इन चार्टड कोच की बुकिंग कालका या शिमला रेलवे स्टेशन पर ही करवाई जा सकेगी। इसकी बुकिंग यात्रा से एक दिन पहले करेंट बेसिस पर करवाई जा सकेगी। किसी भी ऑनलाइन पोर्टल पर इसकी टिकट उपलब्ध नहीं होगी। इन कोच में टिकट में किसी तरह की छूट प्रदान नहीं की जाएगी। बु¨कग के लिए स्टेशन अधिक्षक कालका या शिमला से संपर्क किया जा सकता है। दो घंटे में सर्विस दी जाएगी टिकट बुक होने के दो घंटे के अंदर रेलवे यात्रियों को चार्टड कोच उपलब्ध करवा देगा। टिकट की वैधता एक दिन की रहेगी।

कितना होगा किराया

पांच साल की उम्र से अधिक के यात्री के लिए रेल मोटर कार का टिकट : 1600 रुपये आरए 100 का टिकट : 2200 रुपये झरोखा का टिकट : 3500 रुपये

वेटिंग कम करना है कि मकसद

वरिष्ठ मंडल वाणिज्य अधिकारी शिमला हरि मोहन का कहना है कि तीनोंं चार्टड कोच का संचालन 16 नवंबर से 15 जनवरी तक किया जा रहा है। इसे यात्रियों की सुविधा और वेटिंग कम करने के लिए चलाया जा रहा है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें  

 

1952 से 2019 तक इन राज्यों के विधानसभा चुनाव की हर जानकारी के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.