विद्यार्थियों के लिए योजना, पौधे लगाओ 10 अंक अतिरिक्त पाओ, हरियाणा के CM ने अफसरों को योजना बनाने को कहा

हरियाणा सरकार फिलीपींस की तर्ज पर विद्यार्थियों को पौधे लगाने पर 10 अंक अतिरिक्त देने की योजना पर विचार कर रही है। सीएम मनोहर लाल (Manohar Lal) ने अफसरों को इसकी योजना तैयार करने के लिए कहा है।

Kamlesh BhattMon, 26 Jul 2021 10:42 AM (IST)
हरियाणा में पौधे लगाने पर मिलेंगे 10 अंक अतिरिक्त। सांकेतिक फोटो

राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। हरियाणा सरकार ने राज्य का कुल वन क्षेत्र बढ़ाकर 20 फीसद तक ले जाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। फिलहाल प्रदेश का कुल वन व वृक्ष आच्छादित क्षेत्र मात्र सात प्रतिशत है। इसमें अधिसूचित वन क्षेत्र 3.52 फीसद और वृक्ष आच्छादित क्षेत्र 3.62 प्रतिशत है। प्रदेश का वन क्षेत्र बढ़ाने के लिए सरकार फिलीपींस की तर्ज पर छात्र-छात्राओं को इस अभियान से जोड़ने पर गंभीरता से विचार कर रही है। फिलीपींस में हर छात्र को अपनी स्नातक की डिग्री प्राप्त करने के लिए कम से कम 10 पौधे लगाना जरूरी है।

फिलीपींस की तर्ज पर हरियाणा सरकार 12वीं के छात्रों को पौधारोपण से जोड़ना चाहती है। पौधे लगाने की एवज में इन विद्यार्थियों को अंतिम मूल्यांकन में कम से कम 10 अतिरिक्त अंक देने की संभावनाओं पर विचार किया जा रहा है। पौधगिरी अभियान के तहत छठी से 12वीं कक्षा तक के बच्चों को हर छह माह में 50 रुपये प्रोत्साहन राशि देने का प्रविधान पहले से है, जो तीन वर्ष तक अपने द्वारा लगाए गए पौधों की देखभाल करते हैं।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने रविवार को राज्य स्तरीय वन महोत्सव की शुरुआत के मौके पर यह बात कही। मुख्यमंत्री अपने चंडीगढ़ निवास से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये इस महोत्सव में जुड़े। वन और शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर जगाधरी में रहे, जबकि सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल चंडीगढ़ में ही मुख्यमंत्री के साथ समारोह में शामिल हुए। बाकी जिलों में मंत्री और प्रशासनिक अधिकारी वीडियो कान्फ्रेंस के जरिये समारोह में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार 72वें राज्य स्तरीय वन महोत्सव पर प्रदेश में तीन करोड़ पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है। धरती की हरियाली सुनिश्चित करने के लिए प्रत्येक जनमानस को सरकार के इस अभियान से जुड़ना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने सरकारी नर्सरी से मुफ्त पौधे हासिल करने के लिए एक नागरिक-केंद्रित मोबाइल एप्लीकेशन ई-पौधशाला लांच की। पंचायतों को वितरित किए जाने वाले और राज्य सरकार की पौधगिरी योजना के तहत बांटे जाने वाले सभी पौधे इस मोबाइल एप के माध्यम से वितरित होंगे। सभी नागरिक एवं सरकारी कार्यालय वन विभाग की नर्सरी से इस ऐप के माध्यम से पौधे प्राप्त कर सकते हैं। मुख्यमंत्री ने 'धरोहर' नामक पुस्तिका का भी विमोचन किया, जिसमें वन विभाग की गतिविधियों की जानकारी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की जनता द्वारा लगाए गए पौधों की जियो टैगिंग के लिए जल्द ही एक और एप्लीकेशन शुरू की जाएगी। मोबाइल एप्लिकेशन लगाए गए पौधों की हर छह महीने में तस्वीरें लेने में वन विभाग की मदद करेगी, ताकि उनकी सही देखभाल सुनिश्चित हो सके।

धर्मक्षेत्र के 134 तीर्थों में पंचवटी वाटिका की शुरूआत

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जानकारी दी कि सरकार ने धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र की 48 कोस की परिधि में स्थित 134 तीर्थों में पंचवटी वाटिका बनाने की शुरुआत की है। लाल ने कहा कि पर्यावरण संतुलन सुनिश्चित करने के साथ-साथ पानी को बचाना भी महत्वपूर्ण है। पिछले साल राज्य की एक लाख एकड़ जमीन में धान की जगह कम पानी की खपत वाली फसलें उगाई गई थीं। इस साल सरकार ने दो लाख एकड़ का लक्ष्य रखा है। कार्यक्रम में सीएम के अतिरिक्त प्रधान सचिव तथा सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक डा. अमित अग्रवाल समेत वन विभाग के अधिकारी शामिल हुए।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.