हरियाणा सरकार की पहली वर्षगांठ पर लोगों को मिलेगा तोहफा, हिसार का हवाई अड्डा लेगा अंतरराष्ट्रीय स्वरूप

मुख्यमंत्री मनोहर लाल व दुष्यंत चौटाला। फाइल फोटो
Publish Date:Fri, 23 Oct 2020 04:57 PM (IST) Author: Kamlesh Bhatt

जेएनएन, चंडीगढ़। भारतीय जनता पार्टी और जननायक जनता पार्टी गठबंधन सरकार की पहली वर्षगांठ पर हिसार में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की योजना धरातल पर उतरती नजर आएगी। 27 अक्टूबर को हिसार एयरपोर्ट के विस्तार के लिए भूमि पूजन का कार्यक्रम तय किया गया है। अब तक कागजी औपचारिकताएं पूरी कर रही गठबंधन सरकार हिसारवासियों का अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट बनाने का सपना जल्द से जल्द पूरा करना चाहती हैं।

हवाई अड्डे के निर्माण के लिए प्रशासनिक स्तर पर सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं। केंद्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्रालय से हवाई अड्डे के निर्माण कार्य को शुरू करने संबंधी हरी झंडी मिल गई है और अब एयरपोर्ट के आधारभूत ढांचे का निर्माण शुरू हो सकेगा।

डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने हिसार में इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाने की योजना को धरातल पर उतारने में खासी रुचि दिखाई और उन्होंने लाकडाउन के दौरान भी उड्डयन व विमानन से जुड़ी कंपनियों व अधिकारियों के साथ बैठकें की। इतना ही नहीं केंद्रीय वन एवं पर्यावरण मंत्रालय से हवाई अड्डे के लिए क्लीयरेंस लेने में समय सीमा तय कर अधिकारियों की विशेष तौर पर ड्यूटी लगाई। दुष्यंत चौटाला के प्रयासों का नतीजा है कि तय समय सीमा में हिसार हवाई अड्डे से केंद्रीय पर्यावरण विभाग से एनओसी मिली तथा गठबंधन सरकार की पहली वर्षगांठ पर 27 अक्टूबर को हवाई अड्डा बनाने की योजना को अमलीजामा पहनाने की प्रक्रिया शुरू होगी।

दुष्यंत चौटाला ने बताया कि हिसार हवाई अड्डे के विस्तारीकरण का सबसे महत्वपूर्ण अंग हवाई पट्टी की लंबाई बढ़ाना है। वर्तमान हवाई पट्टी के अलावा तीन हजार मीटर नई हवाई पट्टी बनाने का काम शुरू हो जाएगा। हवाई पट्टी के साथ-साथ ही टैक्सी-वे, टैक्सी स्टैंड, जहाज के लिए पार्किंग स्पेस, टर्मिनल, एयर ट्रैफिक कंट्रोल सिस्टम स्थापित करने की दिशा में चरणबद्ध तरीके से काम शुरू होगा। हिसार हवाई अड्डे की चारदीवारी के निर्माण की प्रक्रिया भी शुरू होगी तथा आंतरिक सुरक्षा के लिए फेंसिंग लगाने की प्रक्रिया जारी है।

दुष्यंत के अनुसार हिसार के हवाई अड्डे को अत्याधुनिक बनाया जाएगा, जिससे कि यहां रात को भी बड़े हवाई जहाज लैंड कर सकेंगे। कम विजिबिलिटी में जहाज को लैंड करने की समस्या से निपटने के लिए पूरे इंतजाम किए जाएंगे और इसके लिए इस प्रकार की अत्याधुनिक तकनीक युक्त लाइट स्थापित करने का प्रस्ताव है, ताकि 24 घंटे हवाई जहाज के आवागमन की सुविधा रहेगी।

उन्होंने बताया कि हरियाणा को आगामी समय में एविएशन हब के रूप में विकसित किया जाएगा। इसमें हिसार के हवाई अड्डे का निर्माण मील का पत्थर रहेगा। वहीं भिवानी में एविएशन क्लब, महेंद्रगढ़ में एडवेंचर स्पोर्ट्स सेंटर सहित करनाल व पंचकूला में हवाई पट्टियों के विस्तारीकरण पर सरकार का फोकस रहेगा।

 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.