हरियाणा में गलत डाटा देने वाले शिक्षकों के लिए फिर खुला आनलाइन तबादला पोर्टल

हरियाणा में आनलाइन तबादला पोर्टल पर गलत डाटा भरने वाले शिक्षकों के लिए इसे फिर से खोल दिया गया है। शिक्षक सोमवार रात 12 बजे तक इसे अपडेट कर सकते हैं। पहले कई टीचरों ने जानकारी के अभाव में गलत डाटा फीड कर दिया था।

Kamlesh BhattSat, 27 Nov 2021 08:08 PM (IST)
गलत डाटा देने वालों के लिए फिर खुला आनलाइन तबादला पोर्टल। सांकेतिक फोटो

राज्य ब्यूरो, चंडीगढ़। हरियाणा में आनलाइन तबादलों के दौरान पोर्टल पर गलत विकल्प भरने वाले मुख्य शिक्षकों और प्राथमिक शिक्षकों को मौलिक शिक्षा निदेशालय ने राहत दी है। इन शिक्षकों के लिए पोर्टल फिर से 29 दिसंबर की रात 12 बजे तक खोला गया है, ताकि वह अपना विकल्प ठीक कर सकें। पसंदीदा स्कूल भरने के लिए आवेदन पहली दिसंबर से मांगे जाएंगे।

इससे पहले मुख्य शिक्षकों और जेबीटी/पीआरटी शिक्षकों के सामान्य स्थानांतरण अभियान के दौरान आठ नवंबर से 10 नवंबर तक पोर्टल खोला गया था, जिसमें स्वैच्छिक भागीदारी के लिए हां या नहीं का विकल्प देना था। डाटा सत्यापन के दौरान पाया गया कि स्वैच्छिक भागीदारी का विकल्प अनजाने में कुछ ऐसे कर्मचारियों को भी दिया गया जिन्हें शिक्षक स्थानांतरण नीति के अनुसार सामान्य स्थानांतरण अभियान में अनिवार्य रूप से भाग लेना है। कई शिक्षकों ने 'हां' के लिए अपने विकल्प का इस्तेमाल किया और उसके बाद 'नहीं' चुनकर उसे बेअसर कर दिया। मौलिक शिक्षा निदेशक की ओर से गलत डाटा भरने वाले शिक्षकों की सूची जारी की गई है, जिन्हें सोमवार रात तक पोर्टल पर फिर से सही विकल्प भरना होगा।

स्वास्थ्य सुपरवाइजरों के पदों में कटौती के विरोध में नौ दिसंबर को होगा अनशन

स्वास्थ्य सुपरवाइजरों के पदों में कटौती के विरोध में स्वास्थ्य सुपरवाइजर संघ के बैनर तले नौ दिसंबर को पंचकूला में स्वास्थ्य महानिदेशालय के सामने अनशन किया जाएगा। संघ के प्रदेश अध्यक्ष राममेहर वर्मा ने बताया कि इससे पहले सभी सांसदों व विधायकों को ज्ञापन देकर स्वास्थ्य कर्मचारियों के पद समाप्त करने की बजाय नए पद सर्जित करने, पदोन्नत एमपीएचडब्लयू के ग्रेड पे संशोधित करने, लंबित एसीपी के मामले हल करने तथा पदोन्नति सूची जारी करने की मांग की जाएगी।

हर जिले में 12 से 14 दिसंबर तक होंगे तीन दिवसीय कार्यक्रम

मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव तथा सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के महानिदेशक डा. अमित अग्रवाल ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव को लेकर प्रदेश के 22 जिलों में भव्य कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इन कार्यक्रमों के जरिए आम नागरिकों को पवित्र ग्रंथ गीता से जोड़ने का लक्ष्य है। इस महोत्सव को लेकर प्रदेश के सभी जिलों में 12 से 14 दिसंबर तक जिला स्तरीय कार्यक्रमों का आयोजन होगा। डा. अमित अग्रवाल ने शुक्रवार को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए अधिकारियों से जिला स्तर पर होने वाले कार्यक्रमों को लेकर विस्तृत बातचीत की। उन्होंने कहा कि सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग की तरफ से प्रदेश के सभी जिला उपायुक्तों से कहा गया है कि गीता महोत्सव को लेकर कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इस वर्ष देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे हुए है। इसलिए इस महोत्सव का थीम आजादी का अमृत महोत्सव रहेगा।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.